उन्नाव रेप पीड़िता के लिए जोखिम भरे हैं अगले 48 घंटे, फेफड़ों से लगातार हो रही ब्लीडिंग

डॉक्टरों के मुताबिक, पीड़ितों के शरीर में कई जगह हुए हैं फ्रेक्चर. सिर में भी आई हैं गंभीर चोटें. पीड़िता दुर्घटना के समय से अब तक है बेहोश.

News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 5:39 PM IST
उन्नाव रेप पीड़िता के लिए जोखिम भरे हैं अगले 48 घंटे, फेफड़ों से लगातार हो रही ब्लीडिंग
दुर्घटना में उन्नाव रेप पीड़िता की मौसी और चाची की मौत हो गई थी, जबकि पीड़िता और उसके वकील गंभीर घाटल हो गए थे. दोनों को तत्काल लखनफ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया.
News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 5:39 PM IST
उन्नाव रेप पीड़िता के साथ रायबरेली में हुए सड़क हादसे को 40 घंटे हो चुके हैं. कार दुर्घटना में उसके शरीर में कई जगह गंभीर चोटों के साथ ही कई फ्रेक्चर भी हुए हैं. डॉक्टरों के मुताबिक, उसकी हालत अब भी गंभीर बनी हुई है. उसके लिए अगले 48 घंटे काफी जोखिम भरे हैं. बता दें कि पीड़िता अपनी चाची, मौसी और वकील के साथ फतेहपुर से रायबरेली जेल जा रही थी, जहां उसके चाचा बंद हैं. इसी दौरान एक ट्रक से उनकी कार की भीषण टक्कर हुई, जिसमें पीड़िता की चाची और मौसी की मौत हो गई थी.

हालत गंभीर, अब भी वेंटिलेटर पर है पीड़िता 

दुर्घटना के बाद पीड़िता और उसके वकील महेंद्र सिंह को तत्काल लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया. अस्पताल सूत्रों ने News18 को बताया कि पीड़िता की पसलियों में एक फ्रेक्चर हुआ है, जबकि उसके फेफड़ों से रक्त बह रहा है. सूत्र ने बताया, 'पीड़िता की हालत काफी गंभीर है. उसे अब भी वेंटिलेटर पर रखा गया है. वह दुर्घटना के समय से अब तक बेहोश है. उसके सिर में भी गंभीर चोट आई है. इसके अलावा पैरों में भी कई फ्रेक्चर हुए हैं.'

लाइफ सपोर्ट के बिना नहीं ले पा रही है सांस  

अस्पताल सूत्र के मुताबिक, फेफड़ों को चलाए रखने के लिए कई चेस्ट पाइप डाले गए हैं. सिर की चोटों से ज्यादा मल्टीपल फ्रेक्चर और फेफड़ों से बहने वाले रक्त के कारण पीड़िता की हालत नाजुक बनी हुई है. पीड़िता का ब्लडप्रेशर अस्थिर बना हुआ है. वह बिना लाइफ सपोर्ट के सांस भी नहीं ले पा रही है. दुर्घटना पर चल रही जबरदस्त सियासत और सीबीआई जांच की मांग के बीच भ्रमित करने वाली रिपोर्ट्स सामने आ रही हैं. कुछ अधिकारियों का कहना है कि तेज रफ्तार ट्रक ने कार में टक्कर मारी, जबकि कुछ के मुताबिक तेज रफ्तार कार खड़े हुए ट्रक में जा भिड़ी.

2017 में कुलदीप सेंगर पर लगाया था आरोप 

उन्नाव के माखी थाना क्षेत्र की पीड़िता ने यूपी के बांगरमऊ से बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर पर 2017 में आरोप लगाया कि उन्होंने अपने आवास पर उसके साथ रेप किया. मामला तब सामने आया जब पीड़िता ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के आवास के बाहर आत्मदाह करने की कोशिश की.
Loading...

प्रियंका गांधी ने पूछा, सेंगर जैसों को क्यों मिल रहा संरक्षण 

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बीजेपी पर हमला करते हुए सवाल उठाया कि आरोपी विधायक अब तक पार्टी में क्यों है. हम कुलदीप सेंगर जैसे लोगों को ताकत और सियासी संरक्षण क्यों दे रहे हैं. वहीं हमने पीड़िता को न्याय की लड़ाई में अकेले क्यों छोड़ दिया है. उन्होंने ट्वीट किया कि एफआईआर में स्पष्ट तौर पर लिखा है कि पीड़िता के परिवार की जिंदगी को खतरा है. उन्हें धमकियां मिल रही हैं.

ये भी पढ़ें: 

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के परिवार को ऐसे दी जाती थी धमकी, पीड़िता की बहन ने बनाया वीडियो

'BJP से पहले ही निलंबित हो चुके हैं कुलदीप सिंह सेंगर'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 30, 2019, 5:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...