उन्नाव रेप पीड़िता की बहन बोली- जब तक चाचा नहीं आएंगे जेल से बाहर, नहीं होगा अंतिम संस्कार

रेप पीड़िता की बहन ने कहा, "जेल में बंद हमारे चाचा को जब तक बाहर नहीं लाएंगे, मृतकों का अंतिम संस्कार नहीं होगा."

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 29, 2019, 2:21 PM IST
उन्नाव रेप पीड़िता की बहन बोली- जब तक चाचा नहीं आएंगे जेल से बाहर, नहीं होगा अंतिम संस्कार
उन्नाव रेप पीड़िता की बहन ने विधायक पर लगाए संगीन इल्जाम
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 29, 2019, 2:21 PM IST
रायबरेली कार एक्सीडेंट में उन्नाव रेप पीड़िता की चाची और मौसी की मौत के बाद बहन का कहना है कि वे दोनों का अंतिम संस्कार तब तक नहीं करेंगे जब तक कि जेल में बंद चाचा बाहर नहीं आ जाते. बता दें इस हादसे में रेप पीड़िता और उसके वकील महेंद्र प्रताप सिंह गंभीर रूप से घायल है. दोनों का इलाज लखनऊ के ट्रामा सेंटर में चल रहा है.

रेप पीड़िता की बहन ने कहा, "जेल में बंद हमारे चाचा को जब तक बाहर नहीं लाएंगे, मृतकों का अंतिम संस्कार नहीं होगा. यह एक्सीडेंट विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने अपने आदमियों से करवाया है. हम लोगों को लगातार धमकियां मिल रही थीं. विधायक केस वापस लेने का दबाव बना रहे थे."

रायबरेली जेल में बंद हैं पीड़िता के चाचा
गौरतलब है कि रेप पीड़िता के चाचा रायबरेली जेल में बंद हैं. उनके ऊपर विधायक के भाई पर जानलेवा हमला करवाने का आरोप है. रविवार को रेप पीड़िता अपनी चाची, मौसी और वकील महेंद्र प्रताप सिंह के साथ जेल में बंद अपने चाचा से मिलकर वापस लौट रही थी. तभी रायबरेली हाईवे के पास उनकी कार की टक्कर एक ट्रक से हो गई. इस हादसे में पीड़िता की चाची, मौसी और ड्राइवर की मौत हो गई. जबकि पीड़िता और उसके वकील गंभीर रूप से घायल हैं.

परिवार का ये है आरोप
रेप पीड़िता के परिवार ने मामले में माखी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के इशारे पर एक्सीडेंट करवाने का आरोप लगाया है. पीड़िता की मां और भाई का आरोप है कि जेल में बंद विधायक कुलदीप सिंह के आदमियों ने इस घटना को अंजाम दिया है. पीड़िता के भाई ने मामले में सीबीआई जांच की मांग की है.

ये भी पढ़ें--उन्नाव रेप कांड: एक्सीडेंट को वकील ने बताया संदिग्ध, बोले- पीड़िता के साथ नहीं थे सुरक्षाकर्मी
Loading...

उन्नाव रेप कांड: ट्रक-कार की भिड़ंत में चाची और मौसी की मौत, पीड़िता की हालत गंभीर
First published: July 29, 2019, 1:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...