Pollution Alert: लखनऊ में जहरीली हुई हवा, AQI 249 के खतरनाक स्तर पर

ख़राब हुई लखनऊ को आबोहवा
ख़राब हुई लखनऊ को आबोहवा

Air Pollution: केन्द्रीय प्रदूषण बोर्ड (Central Pollution Board) के मुताबिक 11 अक्टूबर को हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी में थी. उस दिन एक्यूआई 209 माइक्रोग्राम रिकार्ड की गई थी. इसके बाद प्रदूषण का स्तर मध्यम श्रेणी में पहुंच गया था. लेकिन शनिवार को अचानक वृद्धि से आने वाले समय में और भी वृद्धि होने की आशंका व्यक्त की जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 18, 2020, 7:42 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. पंजाब (Punjab) और हरियाणा (Haryana) में जलाई जा रही पराली का असर राजधानी लखनऊ (Lucknow) की हवा में भी दिखने लगा है. राजधानी की हवा जहरीली हो रही है. पश्चिम से आ रही हवा ने यहां की हवा में भी जहर घोलना शुरू कर दिया है. प्रदूषण के स्तर में अचानक वृद्धि से लोगों का सांस लेना दूभर हो रहा है. राजधानी की एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 249 माइक्रोग्राम पहुंच गई है. केन्द्रीय प्रदूषण बोर्ड के मुताबिक 11 अक्टूबर को हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी में थी. उस दिन एक्यूआई 209 माइक्रोग्राम रिकार्ड की गई थी. इसके बाद प्रदूषण का स्तर मध्यम श्रेणी में पहुंच गया था. लेकिन शनिवार को अचानक वृद्धि से आने वाले समय में और भी वृद्धि होने की आशंका व्यक्त की जा रही है.

यूपी के इन जिलों की भी हवा ख़राब

प्रदूषित शहरों में लखनऊ शुक्रवार को 18वें स्थान पर रहा. सबसे प्रदूषित शहर कुरुक्षेत्र रहा, यहां पर एक्यूआई 348 माइक्रोग्राम रिकार्ड किया गया. दूसरे स्थान पर मुजफ्फनगर (341) व तीसरे स्थान पर ग्रेटर नोएडा (330) रहा. दिल्ली सहित गाजियाबाद, मेरठ, मुरादाबाद, बुलंदशहर, आगरा, बागपत शहर की हवा भी खराब श्रेणी में दर्ज की गई है.



डॉक्टरों की ये है सलाह
विशेषज्ञों का मानना है कि यह पश्चिम से आ रही हवा का असर है. इसमें अभी और वृद्धि होने से इनकार नहीं किया जा सकता है. डॉक्टरों का कहना है कि इस मौसम में बच्चों और बुजुर्गों को विशेष सतर्कता बरतनी चाहिए. खासकर सांस और अस्थमा के मरीजों के लिए यह हवा जानलेवा साबित हो सकती है. डॉक्टरों की सलाह है कि जितना हो सके सुबह और शाम के वक्त घरों में ही रहें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज