लाइव टीवी

यूपी विधानसभा बजट सत्र 13 फरवरी से, विपक्ष ने की सीएए के मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने की तैयारी
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 12, 2020, 11:19 AM IST
यूपी विधानसभा बजट सत्र 13 फरवरी से, विपक्ष ने की सीएए के मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने की तैयारी
यूपी विधानसभा का बजट सत्र 13 फरवरी से शुरू हो रहा है.

पिछले दिनों सीएए कानून के विरोध में प्रदेश के 30 से 35 जिले विरोध प्रदर्शनों की जद में थे, जिसमें से अभी भी कानपुर, आजमगढ़ प्रयागराज समेत कई जिलों में प्रदर्शन थमा नहीं है. हालांकि विपक्षी पार्टियां इसे पहले ही संविधान विरोधी बताकर सरकार को सड़क तक घेर चुकी है. लेकिन अब सदन में प्रदर्शन के दौरान पुलिस की बर्बरता को मुद्दा बनाने की तैयारी है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में 13 फरवरी से शुरू होने वाले विधानसभा (Assembly) के बजट सत्र (Budget Session) लेकर सरकार ने कमर कस ली है. 13 फरवरी से शुरू होने वाले बजट सत्र में सरकार को वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए बजट पेश करना है, वहीं विपक्ष की तरफ से भी सरकार को अलग-अलग मुद्दो पर घेरने की रणनीति तैयार की है. इसमें सीएए (CAA) को लेकर प्रदेश भर में हुई हिंसा का मुद्दा महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाला है. पिछले दिनों सीएए कानून के विरोध में प्रदेश के 30 से 35 जिले विरोध प्रदर्शनों की जद में थे, जिसमें से अभी भी कानपुर, आजमगढ़ प्रयागराज समेत कई जिलों में प्रदर्शन थमा नहीं है. हालांकि विपक्षी पार्टियां इसे पहले ही संविधान विरोधी बताकर सरकार को सड़क तक घेर चुकी है. लेकिन अब सदन में प्रदर्शन के दौरान पुलिस की बर्बरता को मुद्दा बनाने की तैयारी है.

विपक्ष लगातार इस बात पर जोर दे रहा है कि लोकतंत्र में प्रदर्शन करना सभी का अधिकार है लेकिन इस दौरान पुलिस के बर्बरता और प्रदर्शन में भगदड़ की वजह से लखनऊ के मुहम्मद वकील से लेकर कई प्रदर्शकारियों की जान चली गई. जिसको लेकर विपक्ष बजट सत्र के दौरान भी सरकार पर हमलावर रहने वाला है.

सदन में कांग्रेस चुप नहीं बैठेगी: अजय कुमार लल्लू
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बातचीत में बताया है. उनकी पार्टी लगातार सीएए कानून का विरोध कर रही है. इतना ही नही प्रियंका गांधी खुद व्यक्तिगत तौर पर सीएए के प्रदर्शन में घायल हुए लोगों से मुलाकात कर रही है. हमारी संवेदना उनके साथ में और सदन में कांग्रेस यूपी सरकार को इस मुद्दे पर चुप नही बैठने देगी. तो वही सपा के नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने भी सत्र के दौरान सीएए पर सरकार के खिलाफ बड़ हल्ला बोलने की तैयारी की है.



महिलाओं पर झूठा मुकदमा लगाया जा  रहा है: राम गोविंद चौधरी
राम गोविंद चौधरी ने कहा है कि ये सरकार लोकतंत्र की हत्या कर रही है. लगातार प्रदर्शन करने वाले लोगों में डिसमें महिलाएं भी शामिल हैं, उन पर झूठा मुकदमा लगाकर फंसाया जा रहा है. अपने हक के लिए धरना देना सभी का अधिकार है और सरकार को सदन में भी इस मुददे पर जवाब देना होगा.आपको बताते चले की 13 फरवरी से यूपी सरकार का बजट सत्र शुरू हो रहा है, जो 7 मार्च तक चलेगा. इस दौरान 18 फरवरी को योगी सरकार अपना 4 चौथा बजट पेश करेगी हालांकि इस बार सत्र की बैठक लंबे समय तक होगी. लिहाजा विपक्ष भी सरकार को घेरने की तैयारी पूरी कर चुका है.

ये भी पढ़ें:

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों से लड़ते हुए यूपी के बांदा का सीआरपीएफ जवान शहीद

UP STF के साथ एनकाउंटर में 1 लाख का इनामी राजेश ढेर, एक कमांडो को लगी गोली

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 11:16 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर