Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav 2022: भाजपा को फिर लगा तगड़ा झटका, अखिलेश की 'साइकिल' पर सवार हुए 2 और विधायक

UP Chunav 2022: भाजपा को फिर लगा तगड़ा झटका, अखिलेश की 'साइकिल' पर सवार हुए 2 और विधायक

UP Chunav 2022: जितेंद्र वर्मा और अनिल वर्मा ने साइकिल पर सवार होने का मन बना लियाा है.

UP Chunav 2022: जितेंद्र वर्मा और अनिल वर्मा ने साइकिल पर सवार होने का मन बना लियाा है.

UP Assembly Election 2022: यूपी चुनाव से पहले आज फिर भाजपा को दो नेताओं ने झटका दिया. फतेहाबाद के विधायक जितेंद्र वर्मा और शाहजहांपुर के MLA अनिल वर्मा ने भाजपा से इस्तीफा देकर सपा की सदस्यता ली. समाजवादी पार्टी ने ट्वीट कर दोनों नेताओं के सपा में आने की जानकारी साझा की. 

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. जब से उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा हुई है, तब ही से दल-बदल की राजनीति​ जोरों पर है. खासकर प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के कई विधायकों ने चुनाव से पहले पाला बदलकर पार्टी को झटका दिया है. इसी क्रम में आज दो और नेताओं ने भाजपा का दामन छोड़ कर अखिलेश यादव की ‘साइकिल’ की सवारी करने की ठान ली. फतेहाबाद से बीजेपी के विधायक जितेंद्र वर्मा और शाहजहांपुर के बीजेपी नेता अनिल वर्मा ने आज अपनी पार्टी से इस्तीफा देकर सपा ज्वाइन कर ली.

विधायक जितेंद्र वर्मा ने पहले सपा के प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की. इसके बाद उन्होंने पार्टी की सदस्यता ली. समाजवादी पार्टी ने ट्विटर के जरिए इस बात की जानकारी साझा की. पार्टी की ओर से जारी मैसेज में कहा गया है कि ‘BJP में निरंतर जारी है निषाद समाज का तिरस्कार! जिसके चलते वंचित वर्ग के नेता लगातार भाजपा छोड़ रहे हैं. फतेहाबाद से BJP विधायक श्री जितेन्द्र वर्मा भाजपा छोड़, सपा में हुए शामिल, राष्ट्रीय अध्यक्ष जी ने बनाया आगरा का जिलाध्यक्ष. पिछड़ों दलितों का इंकलाब होगा, 22 में बदलाव होगा.’

शाहजहांपुर विधायक भी आए सपा में

पार्टी ने अब जितेंद्र वर्मा को आगरा का जिलाध्यक्ष बनाया है. दूसरी तरफ एक अन्य ट्वीट के जरिए सपा ने भाजपा नेता अनिल वर्मा का भी स्वागत किया है. अनिल शाहजहांपुर से भाजपा के विधायक हैं. सपा की ओर से किए ट्वीट में कहा गया, ‘सपा का बढ़ता कारवां! भाजपा नेता और शाहजहांपुर की जलालाबाद सीट से प्रत्याशी रहे अनिल वर्मा सपा की विचारधारा से प्रभावित होकर हुए पार्टी में शामिल. आपका हार्दिक स्वागत.’ इस ट्वीट के अनुसार अनिल वर्मा ने भाजपा को छोड़ सपा का रुख इसलिए किया क्योंकि वे सपा की विचारधारा को पसंद करते हैं.’

बहरहाल, यूपी चुनाव के पहले दौर के मतदान के करीब आने के साथ भी प्रदेश में दल-बदल थमता नजर नहीं आ रहा. सपा जहां इस तरह अपनी टीम को बढ़ाकर खुश नजर आ रही है, वहीं भाजपा इस समय इस विचार में है कि जो नेता पार्टी छोड़ रहे हैं उनकी जगह किसे स्थान दिया जाए.

Tags: UP chunav, Uttar Pradesh Assembly Election 2022

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर