Home /News /uttar-pradesh /

UP Assembly Election: रायबरेली MLA अदिति सिंह ने आखिर थामा BJP का दामन

UP Assembly Election: रायबरेली MLA अदिति सिंह ने आखिर थामा BJP का दामन

रायबरेली विधायक अदिति सिंह को बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने पार्टी सदस्यता ग्रहण करवाई.

रायबरेली विधायक अदिति सिंह को बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने पार्टी सदस्यता ग्रहण करवाई.

UP Political news: आखिरकार सभी कयासों पर लगाम लगाते हुए रायबरेली की विधायक अदिति सिंह ने बुधवार शाम को कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया. उनके साथ ही बीएसपी की विधायक वंदना सिंह और राकेश सिंह ने भी बीजेपी जॉइन कर ली है. अदिति सिंह का लंबे समय से कांग्रेस आलाकमान व वरिष्ठ नेताओं के साथ वैचारिक टकराव चल रहा था.

अधिक पढ़ें ...

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले आखिरकार कांग्रेस को बड़ा झटका लग ही गया. रायबरेली से विधायक अदिति सिंह ने कांग्रेस को छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया. बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की उपस्थिति में अदिति सिंह ने बुधवार शाम को पार्टी की सदस्यता ली. अदिति के साथ ही बीएसपी की आजमगढ़ विधायक वंदना सिंह और राकेश प्रताप ने भी बीजेपी जॉइन कर ली है. उल्लेखनीय है कि पिछले लंबे समय से अदिति सिंह के बीजेपी जॉइन करन की चर्चा थी. कांग्रेस के स्‍थानीय नेताओं के साथ ही आलाकमान की बयानबाजी से अलग विचार रखने को लेकर चर्चा में आई अदिति सिंह को लेकर लगातार ये कयास लगाए जा रहे थे कि वे बीजेपी का दामन थामेंगी.

    गौरतलब है कि अदिति सिंह के पति अंगद सिंह पंजाब में कांग्रेस के विधायक हैं. इससे पहले कहा जा रहा था कि अदिति सिंह पति कांग्रेस छोड़ने के बाद आने वाले विधानसभा चुनाव में निर्दलीय उम्मीदवार हो सकती हैं. क्योंकि बीजेपी जॉइन करने से उनके पति की स्थिति कांग्रेस में खराब हो सकती है.

    सपा से भी संपर्क
    वहीं सूत्रों के अनुसार अदिति सिंह बीजेपी के साथ ही समाजवादी पार्टी के भी संपर्क में थीं. सपा लगातार अदिति के संपर्क में थी. लेकिन अदिति सिंह या सपा की तरफ से कोई भी आधिकारिक बयान इस संबंध में नहीं आया था. उल्लेखनीय है कि अदिति सिंह के पिता अखिलेश सिंह भी कांग्रेस से लंबे समय तक जुड़े रहे थे. वे रायबरेली सदर सीट से पांच बार विधायक रहे थे. बताया जाता है कि अखिलेश सिंह की गांधी परिवार से काफी नजदीकियां थीं. हालांकि उन्होंने भी बाद में कांग्रेस का दामन छोड़ दिया था लेकिन उन्होंने कभी बीजेपी जॉइन नहीं की थी.

    इससे पहले ये चर्चा जोरों पर थी कि अदिति सिंह भी अपने पिता अखिलेश की तरह कांग्रेस से अलग होने के बाद कोई पार्टी जॉइन नहीं करेंगी. बताया जा रहा था कि वे निर्दलीय के तौर पर आने वाले विधानसभा चुनावों में उतरेंगी. इसके पीछे कारण माना जा रहा था कि उनके पति पंजाब में कांग्रेस के विधायक हैं और बीजेपी में अदिति के जाने से उनकी स्थिति खराब होती.

    Tags: Aditi singh, BJP, Congress, Uttar Pradesh Assembly Election 2022

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर