Home /News /uttar-pradesh /

UP Polls 2022: अखिलेश यादव ने दूसरे चरण में 10 मुस्लिम उम्मीदवारों को दिया टिकट, मगर चुपके-चुपके

UP Polls 2022: अखिलेश यादव ने दूसरे चरण में 10 मुस्लिम उम्मीदवारों को दिया टिकट, मगर चुपके-चुपके

अखिलेश यादव की अगुवाई वाली समाजवादी पार्टी अब आधिकारिक तौर पर उम्मीदवारों की सूची की घोषणा नहीं कर रही है. (फाइल फोटो)

अखिलेश यादव की अगुवाई वाली समाजवादी पार्टी अब आधिकारिक तौर पर उम्मीदवारों की सूची की घोषणा नहीं कर रही है. (फाइल फोटो)

Uttar Pradesh Assembly Election 2022: अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की अगुवाई वाली समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) अब आधिकारिक तौर पर उम्मीदवारों की सूची की घोषणा नहीं कर रही है, लेकिन रविवार को उसने दूसरे चरण के लिए 10 मुस्लिम उम्मीदवारों और तीसरे चरण के लिए एक मुस्लिम उम्मीदवार पर बयान जारी किया, जो आपराधिक मामलों का सामना कर रहे हैं. चुनाव आयोग (EC) के मानदंडों के अनुसार सभी राजनीतिक दलों के लिए ऐसा करना अनिवार्य है.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) के पहले चरण सीटों में 13 मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट देने के बाद समाजवादी पार्टी-रालोद गठबंधन (Samajwadi Party-RLD Alliance) ने दूसरे चरण में भी कम से कम 10 मुस्लिम प्रत्याशियों को टिकट दिया है. हालांकि सपा-रालोद गठबंधन ने यह बेहद गुपचुप तरीके से किया और दोनों में से किसी दल ने अब इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं की है. वहीं पार्टी सूत्रों का कहना है कि दूसरे चरण में कुछ और सीटों पर मुस्लिम उम्मीदवार (Muslim Candidates in UP) उतारे जा सकते हैं.

सपा-आरएलडी गठबंधन का यह कदम ऐसे वक्त में सामने आ रहा है, जब बसपा ने दूसरे चरण के चुनाव के लिए 23 विधानसभा सीटों पर मुसलमान उम्मीदवार उतारने का ऐलान किया. इस तरह मायावती की पार्टी ने पहले दो चरणों की कुल 113 सीटों में से 40 पर मुस्लिम उम्मीदवार खड़े किए हैं. इस तरह सपा ने जहां पहले दो चरण के लिए 20% मुस्लिम उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं, वहीं बसपा अब तक 35% टिकट मुस्लिम उम्मीदवार को दिए हैं.

चुनाव आयोग के आदेश के कारण जगजाहिर करने पड़े नाम
अखिलेश यादव की अगुवाई वाली समाजवादी पार्टी अब आधिकारिक तौर पर उम्मीदवारों की सूची की घोषणा नहीं कर रही है, लेकिन रविवार को उसने दूसरे चरण के लिए 10 मुस्लिम उम्मीदवारों और तीसरे चरण के लिए एक मुस्लिम उम्मीदवार पर बयान जारी किया, जो आपराधिक मामलों का सामना कर रहे हैं. चुनाव आयोग (EC) के मानदंडों के अनुसार सभी राजनीतिक दलों के लिए ऐसा करना अनिवार्य है. इनमें अमरोहा, मीरगंज, बेहट, शीशमऊ, भोजीपुरा, बहेरी, चमरूहा, धामपुर, शाहजहांपुर, चांदपुर और ठाकुरद्वारा सीटों से समाजवादी पार्टी द्वारा घोषित मुस्लिम उम्मीदवार शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- एक तरफ नवाब तो दूसरी ओर सक्सेना खानदान- जानें रामपुर में बीजेपी ने कैसे की आजम खान की घेराबंदी

सपा के एक वरिष्ठ नेता ने लखनऊ से फोन पर News18.com को बताया, ‘बसपा से मुकाबले के लिए ऐसी संभावना है कि सपा-रालोद गठबंधन द्वारा दूसरे चरण की कुछ और सीटों पर भी मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिया जाएगा.’

सपा के उम्मीदवारों को लेकर निशाना साधते रहे हैं योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा-आरएलडी गठबंधन के उम्मीदवारों के ‘आपराधिक और गैंगस्टर इतिहास’ को उछालते रहे हैं और वोर्टस से कहते रहे हैं कि सपा को फिर सरकार बनाने को बिल्कुल मौका न दें. सीएम योगी ने रविवार को गाजियाबाद में अपने संबोधन ने खास तौर से से कैराना, बुलंदशहर, अमरोहा और लोनी से गठबंधन के चार उम्मीदवारों का जिक्र करते हुए कहा कि ‘समाजवादी पार्टी ने पश्चिमी यूपी में ‘गैंगस्टर और हिस्ट्रीशीटर उम्मीदवारों’ को टिकट दिया है.

ये भी पढ़ें- अयोध्या में गणतंत्र दिवस से पहले बड़ी आतंकी साजिश, रेल हादसा कराने का प्लान नाकाम!

दरअसल सपा ने कैराना से नाहिद हसन को टिकट दिया था, जो इस समय जेल में हैं. सीएम योगी ने आरोप लगाया कि अतीत में कैराना से हिंदू परिवारों के पलायन के लिए नाहिद हसन ही जिम्मेदार था. इसके अलावा बुलंदशहर से सपा-रालोद के उम्मीदवार मोहम्मद यूनुस हैं, जिनके खिलाफ कई केस दर्ज हैं. वहीं अमरोहा से सपा ने महबूब अली को टिकट दिया है, जो कई आपराधिक मामलों का सामना कर रहे हैं.

Tags: Akhilesh yadav, Samajwadi party, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर