Home /News /uttar-pradesh /

Karhal Assembly Seat: करहल के जैन इंटर कॉलेज से मुलायम सिंह ने की थी पढ़ाई, अब बेटे अखिलेश यहां से चुनावी मैदान में

Karhal Assembly Seat: करहल के जैन इंटर कॉलेज से मुलायम सिंह ने की थी पढ़ाई, अब बेटे अखिलेश यहां से चुनावी मैदान में

UP Chunav: करहल विधानसभा सीट का राजनैतिक इतिहास

UP Chunav: करहल विधानसभा सीट का राजनैतिक इतिहास

UP Chunav 2022: करहल विधानसभा सीट ने केवल समाजवादी पार्टी का मजबूत किला है बल्कि उनके पिता और समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने भी करहल के जैन इंटर कॉलेज से शिक्षा ग्रहण की थी. इतना ही नहीं करहल विधानसभा का नाता महाराजा पृथ्वीराज चौहान से भी रहा है. करहल विधानसभा सीट की बात की जाए तो यह मुलायम के पैतृक गांव सैफई से महज चार किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. मौजूदा समय में मुलायम सिंह यादव मैनपुरी से सांसद भी है.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) मैनपुरी (Mainpuri) की जिस करहल विधानसभा सीट (Karhal Assembly Seat) से विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections) लड़ने जा रहे हैं, वह सीट कई मायनों में अहम है. करहल विधानसभा सीट ने केवल समाजवादी पार्टी का मजबूत किला है बल्कि उनके पिता और समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने भी करहल के जैन इंटर कॉलेज से शिक्षा ग्रहण की थी. इतना ही नहीं करहल विधानसभा का नाता महाराजा पृथ्वीराज चौहान से भी रहा है. करहल विधानसभा सीट की बात की जाए तो यह मुलायम के पैतृक गांव सैफई से महज चार किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. मौजूदा समय में मुलायम सिंह यादव मैनपुरी से सांसद भी है.

दरअसल, करहल के मोटामल मंदिर से पृथ्वीराज चौहान का नाता है. पृथ्वीराज सिंह चौहान कन्नौज के राजा जयचंद की बेटी संयोगिता से प्रेम करते थे. लेकिन जयचंद ने सयोगिता की शादी के लिए स्वंयवर का आयोजन किया और पृथिवराज चौहान को निमन्त्र नहीं दिया गया. जिसके बाद पृथ्वीराज चौहान  दिया और संयोगिता को अपने साथ दिल्ली ले गए. जिसके बाद पृथ्वीराज के सेनापति मोटामल और जयचंद की सेना के बीच भीषण युद्ध हुआ. इस युद्ध में मोटामल वीरगति को प्राप्त हुए थे. जिसके बाद पृथ्वीराज सिंह ने उनकी याद में इस मंदिर का निर्माण करवाया था.

समाजवादियों का गढ़
करहल विधानसभा सीट समाजवादी पार्टीकी सबसे सुरक्षित सीटों में से एक है. करहल विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी (सपा) का सात बार कब्जा रहा है. इस विधासभा सीट से 1985 में दलित मजदूर किसान पार्टी के बाबूराम यादव, 1989 और 1991 में समाजवादी जनता पार्टी (सजपा) और 1993, 1996 में सपा के टिकट पर बाबूराम यादव विधायक निर्वाचित हुए. 2000 के उपचुनाव में सपा के अनिल यादव, 2002 में बीजेपी और 2007, 2012 और 2017 में सपा के टिकट पर सोवरन सिंह यादव विधायक चुने गए.

Tags: Akhilesh yadav, Samajwadi party, UP Assembly Elections, Uttar Pradesh Assembly Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर