होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

UP के कानपुर से गिरफ्तार हुआ JeM का एक और संदिग्ध आतंकी, सहारनपुर के नदीम से जुड़ा है कनेक्शन

UP के कानपुर से गिरफ्तार हुआ JeM का एक और संदिग्ध आतंकी, सहारनपुर के नदीम से जुड़ा है कनेक्शन

Lucknow: सहारनपुर के बाद कानपुर से भी गिरफ्तार हुआ संदिग्ध आतंकी

Lucknow: सहारनपुर के बाद कानपुर से भी गिरफ्तार हुआ संदिग्ध आतंकी

UP ATS Action: पिछले दिनों सहारनपुर से यूपी एटीएस ने नदीम को गिरफ्तार किया था. अब उसकी निशानदेही पर कानपुर से एक और गिरफ्तारी हुई है. जिसे यूपी एटीएस ने गिरफ्तार किया है उसका नाम हबीब उल इस्लाम उर्फ सैफुल्लाह है. यूपी एटीएस ने इसे फतेहपुर से कानपुर लेकर पहुंची है. इतना ही नहीं यूपी एटीएस सूत्रों के मुताबिक हबीब वर्चुअल आईडी बनाने में एक्सपर्ट है. हबीब उर्फ़ सैफुल्लाह नदीम सहित कई पाकिस्तानी और अफगानिस्तानी आतंकियों को लगभग 50 वर्चूअल आईडी बना कर दे चुका है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

सहारनपुर से गिरफ्तार नदीम से जुड़ा है कनेक्शन
15 अगस्त को बड़ी वारदात देने की फ़िराक में था

लखनऊ. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर भारत समेत उत्तर प्रदेश को दहलाने की साजिश को यूपी पुलिस के साथ ही ATS भी नाकाम करने में जुटी है. पिछले दिनों सहारनपुर से गिरफ्तार संदिग्ध आतंकी नदीम की गिरफ़्तारी पर यूपी एटीएस ने कथित तौर पर जैश-ए-मोहम्मद से जुड़ा एक और आतंकी हबीबुल इस्लाम उर्फ सैफुल्लाह को कानपुर से गिरफ्तार किया है. मिल रही जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार संदिग्ध 15 अगस्त को बड़ी वारदात को अंजाम देने के फिराक में था.

बता दें कि पिछले दिनों सहारनपुर से यूपी एटीएस ने नदीम को गिरफ्तार किया था. अब उसकी निशानदेही पर कानपुर से एक और गिरफ्तारी हुई है. जिसे यूपी एटीएस ने गिरफ्तार किया है उसका नाम हबीब उल इस्लाम उर्फ सैफुल्लाह है. यूपी एटीएस ने इसे फतेहपुर से कानपुर लेकर पहुंची है. इतना ही नहीं यूपी एटीएस सूत्रों के मुताबिक हबीब वर्चुअल आईडी बनाने में एक्सपर्ट है. हबीब उर्फ़ सैफुल्लाह नदीम सहित कई पाकिस्तानी और अफगानिस्तानी आतंकियों को लगभग 50 वर्चूअल आईडी बना कर दे चुका है.

सोशल मीडिया के सहारे बना रहे थे IeD
अगर यूपी एटीएस की मानें तो दोनों गिरफ्तार आतंकी सोशल मीडिया के सहारे देश में बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे. हबीब उर्फ़ सैफुल्लाह टेलीग्राम, व्हाट्सएप और फेसबुक मैसेंजर के जरिए पाकिस्तान व अफगानिस्तान के हैंडलर से जुड़ा था. इतना ही नहीं वह आईईडी बनाने की ट्रेनिंग भी सोशल मीडिया के माध्यम से ही ले रहा था. यूपी एटीएस इन दोनों गिरफ्तारी को बड़ी कामयाबी मान रही है.

Tags: Lucknow news, UP ATS

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर