UP: पंचायत चुनाव को लेकर जिला स्तर पर बैठकें आयोजित करेगी भाजपा

उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव में योग्य व कुशल नेतृत्व चुनाव जीतकर आये इसके लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को निचले स्तर तक योजनापूर्वक कार्य करना चाहिए. (सांकेतिक फोटो)

उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव में योग्य व कुशल नेतृत्व चुनाव जीतकर आये इसके लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को निचले स्तर तक योजनापूर्वक कार्य करना चाहिए. (सांकेतिक फोटो)

पार्टी प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह (Radha Mohan Singh) ने कहा कि पार्टी के लिए पंचायत चुनाव महत्वपूर्ण हैं, क्योकि केन्द्र में नरेंद्र मोदी सरकार आने के बाद ग्राम पंचायत हो या शहरी निकाय, सभी का बजट बढ़ाया गया है.

  • Share this:
लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी (BJP) उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनावों (Panchayat Elections) को लेकर जिला स्तर पर बैठकें आयोजित करेगी. प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता ने बताया कि पार्टी प्रदेश पदाधिकारियों की रविवार को यहां हुई एक बैठक में तय किया गया कि पंचायत चुनाव को लेकर जिला स्तर पर बैठकें आयोजित की जाएगीं. पार्टी के प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) , प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल तथा प्रदेश सहप्रभारियों सहित प्रमुख पदाधिकारियों की मौजूदगी में ये बैठकें आगामी सात से 17 जनवरी तक होंगी.

पार्टी प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह ने कहा कि पार्टी के लिए पंचायत चुनाव महत्वपूर्ण हैं, क्योकि केन्द्र में नरेंद्र मोदी सरकार आने के बाद ग्राम पंचायत हो या शहरी निकाय, सभी का बजट बढ़ाया गया है, ताकि लोगों को बेहतर सुविधाए मिलें और गांवों का भी विकास हो. उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव में योग्य व कुशल नेतृत्व चुनाव जीतकर आये इसके लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को निचले स्तर तक योजनापूर्वक कार्य करना चाहिए.

पूर्ण सार्थकता प्राप्त होगी

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री ने आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना से गांव, गरीब, किसान के सामाजिक एवं आर्थिक जीवन की खुशहाली का संकल्प लिया है. इस संकल्प की त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में ईमानदार, निष्ठावान एवं गांव के विकास के लिए संकल्पित लोगों के चुनकर आने से ही पूर्ण सार्थकता प्राप्त होगी. बैठक में प्रदेश महामंत्री जेपीएस राठौर को पश्चिम क्षेत्र, गोविन्द नारायण शुक्ला को प्रदेश मुख्यालय, अश्वनी त्यागी को ब्रज, अमरपाल मौर्य को अवध, सुब्रत पाठक को काशी, अनूप गुप्ता को गोरखपुर, प्रियंका सिंह रावत को कानपुर-बुन्देलखण्ड क्षेत्र का प्रभारी घोषित किया गया.
उसमें विधायक ही वोट करेंगे

वहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि उत्तर प्रदेश में जनवरी के सर्द मौसम में राजनीतिक शोले भड़कने वाले है. अगले हफ्ते एक बड़ा राजनीतिक तूफान यूपी में दस्तक देने वाला है. असल में विधानपरिषद की 12 सीटें 30 जनवरी को खाली हो रही हैं. विधानपरिषद सचिवालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हर हाल में शुक्रवार से पहले इसकी अधिसूचना चुनाव आयोग जारी कर देगा. वैसे तो विधानसभा क्षेत्र की सीटों पर आपसी सहमति से चुनाव बिना हो-हल्ला के हो जाया करते हैं लेकिन, इन 12 सीटों में से 1 सीट को लेकर राजनीतिक दलों के बीच कुश्ती देखने को मिल सकती है. जिन सीटों पर चुनाव होने जा रहा है उसमें विधायक ही वोट करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज