होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

UP Board Paper Leak: यूपी प्रश्न पत्र लीक मामले का मास्‍टरमाइंड गिरफ्तार, जानें कैसे किया था पूरा खेल

UP Board Paper Leak: यूपी प्रश्न पत्र लीक मामले का मास्‍टरमाइंड गिरफ्तार, जानें कैसे किया था पूरा खेल

प्रश्न पत्र लीक मामले में अब 46 लोग अरेस्‍ट हुए हैं.

प्रश्न पत्र लीक मामले में अब 46 लोग अरेस्‍ट हुए हैं.

UP Board Paper Leak Case: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की इंटरमीडिएट की अंग्रेजी की परीक्षा का प्रश्न पत्र लीक करने वाले मास्‍टरमाइंड निर्भय नारायण सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. वह बलिया के किड़िहरापुर स्थित महाराजी देवी इंटर कॉलेज का प्रबंधक है. उसने ही प्रश्न पत्र निकाल कर उसका प्रिंट आउट कराया था. इसके बाद अंग्रेजी के दो शिक्षकों से उसे हल कराकर 25 से 30 हजार प्रति छात्र के हिसाब सोल्‍व पेपर बेचा था. बता दें कि इस वजह से 30 मार्च को यूपी के 24 जिलों में दूसरी पाली की अंग्रेजी परीक्षा रद्द कर दी गई थी.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ/बलिया. उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की इंटरमीडिएट की अंग्रेजी की परीक्षा का प्रश्न पत्र लीक (UP Board Class 12 English Question Paper Leak Case) होने के मामले में पुलिस ने इस कांड के मास्‍टरमाइंड को गिरफ्तार कर लिया है. यही नहीं, इस दौरान पुलिस को 10 अन्‍य आरोपियों को गिरफ्तार करने में भी सफलता मिली है. वहीं, इस मामले में अब तक बलिया जिले में 46 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. जबकि यूपी के एडीजी (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार (Prashant Kumar) ने कहा कि 30 मार्च को इंटरमीडिएट की परीक्षा के प्रश्न पत्र लीक हुए थे उसमें कार्रवाई करते हुए अब तक 46 लोगों को हिरासत में लिया गया है. आज मुख्य व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है.

इसके साथ प्रशांत कुमार ने कहा कि बलिया में आज कुल 8 लोग नगरा थाने से और 3 लोग सिकंदरपुर थाने से जेल भेजे जा रहे हैं. विवेचना में ये साबित हुआ है इन लोगों के द्वारा टैंपर करके पैकेट से प्रश्न पत्र निकाले और फिर उसे सोल्व करके वापस रखा गया. प्रश्न पत्र को बाहर भी बेचा गया.

निर्भय नारायण सिंह निकला पेपर लीक का मास्टरमाइंड
पुलिस के मुताबिक, निर्भय नारायण सिंह प्रश्न पत्र का मास्टरमाइंड है. इस बाबत रसड़ा कोतवाली के निरीक्षक राजीव सिंह ने बताया कि प्रश्न पत्र लीक मामले में इस घटना के सूत्रधार किड़िहरापुर स्थित महाराजी देवी इंटर कॉलेज के प्रबंधक निर्भय नारायण सिंह सहित आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. सिंह ने ही अंग्रेजी का प्रश्न पत्र लीक किया था. उधर, सिकंदरपुर पुलिस ने भी प्रश्न पत्र लीक मामले में ही तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने रविवार को एक प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक मुनीन्द्र गुप्ता के साथ ही दो अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया है. गौरतलब है कि पिछले बुधवार को यूपी बोर्ड का अंग्रेजी का पर्चा लीक हो गया था, जिसके बाद करीब 24 जिलों में यह परीक्षा स्थगित कर दी गयी थी. इस मामले में बलिया में अब तक 46 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

जानें कैसे चला पूरा खेल
यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट की अंग्रेजी की परीक्षा का प्रश्न पत्र लीक करने का मास्टरमाइंड निर्भय नारायण सिंह है, जो कि महाराजी देवी स्मारक इंटर कॉलेज का प्रबंधक है. दरअसल उसने ही प्रश्न पत्र निकाल कर उसका प्रिंट आउट कराया था. इसके बाद अंग्रेजी के दो शिक्षकों से उसे हल कराया गया था. इसे बार
निर्भय नारायण सिंह ने 25 से 30 हजार प्रति छात्र के हिसाब बेचा सोल्‍व पेपर बेचा था. इस दौरान सिंह और और राजीव प्रजापति ने मोबाइल से अन्य लोगों को भी स्कैन कॉपी भेजी थी. वहीं, पुलिस ने बैंक अकाउंट और पेटीएम ट्रांजैक्शन से मिले रुपयों की पुष्टि की है.

अब तक 46 लोग गिरफ्तार
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की इंटरमीडिएट की अंग्रेजी की परीक्षा का प्रश्न पत्र लीक होने के मामले में अब तक अब तक 46 लोगों की गिरफ्तारी हुई है, जिसमें एक डीआईओएस, 4 प्रबंधक, 3 प्रधानाचार्य, 10 शिक्षक, 5 प्राइवेट कोचिंग शिक्षक और 3 क्लर्क समेत कई नाम शामिल हैं. इसके लिए बलिया पुलिस ने 7 टीमों का गठन किया था. 30 मार्च अंग्रेजी विषय का दूसरी पाली का प्रश्न पत्र लीक हुआ था. इसके बाद यूपी के 24 जिलों दूसरी पाली की परीक्षा रद्द कर दी गई थी. इस वक्‍त 46 में से 44 लोग पुलिस की कस्‍टडी में हैं.

Tags: UP Board Exam, UP Board Paper Leak, UP police, Yogi adityanath

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर