लाइव टीवी

UP Board Exam 2020: डीएम ने खड़े किए हाथ, अब पुलिस कमीश्नर करवाएंगे नकलविहीन परीक्षा!
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 12, 2020, 4:42 PM IST
UP Board Exam 2020: डीएम ने खड़े किए हाथ, अब पुलिस कमीश्नर करवाएंगे नकलविहीन परीक्षा!
लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय

माना ये जा रहा है है कि राजधानी में बीते दिनों से लागू कमीश्नरी व्यवस्था के बाद डीएम ने शासन को पत्र लिखकर दस्तों की कमान पुलिस मजिस्ट्रेट को सौंपने का अनुरोध किया है.

  • Share this:
लखनऊ. राजधानी लखनऊ (Luckknow) में नई कमीश्नरी सिस्टम लागू होने के बाद आईएएस और आईपीएस के बीच अधिकार क्षेत्रों को लेकर चल रही बड़ी बहस के बीच 18 फरवरी से शुरू होने वाली बोर्ड परीक्षाओं (UP Board Exams) के संचानल को लेकर जिलाधिकारी लखनऊ (Lucknow) ने हाथ खड़े कर दिये हैं. 18 फरवरी से शुरू हो रही बोर्ड परीक्षाओं में इस बार नकलची पकड़ने को गठित उड़न दस्ता की कमान अब अपर नगर मजिस्ट्रेट और अपर जिलाधीकारी स्तरीय अधिकारी नही संभालेंगे.

डीएम ने शासन को लिखा पत्र

माना ये जा रहा है है कि राजधानी में बीते दिनों से लागू कमीश्नरी व्यवस्था के बाद डीएम ने शासन को पत्र लिखकर दस्तों की कमान पुलिस मजिस्ट्रेट को सौंपने का अनुरोध किया है. जिसके पीछे तर्क ये दिया गया है कि अपराध से जुड़े सभी मामले अब पुलिस प्रशासन के नामित मजिस्ट्रेट के पास आ गए हैं. ऐसे में परीक्षाओं के दौरान उड़न दस्तों से संबंधित कमान भी संबंधित क्षेत्र पुलिस मजिस्ट्रेट को देना ही बेहतर होगा. जिला प्रशासन के इस रूख से कमीश्नरी सिस्टम लागू होने के बाद पहली बार अधिकारों को लेकर रार और खीझ सामेन आ रही है.

अभी तक डीएम संभालते थे जिम्मा

बोर्ड परीक्षाओं की तारीख नजदीक आते ही जिला प्रशासन ने नकलचियों की धर पकड़ के लिए दस्तों की निगरानी का जिम्मा अपेन हाथ में लेने इनकार कर दिया है. बता दें कि बोर्ड परीक्षाओं की निगरानी का जिम्मा अभी तक जिला प्रशासन के स्तर पर नामित अपर जिलाधीकारी, नगर मजिस्ट्रेट और एसडीएम पुलिस के साथ मिलकर संभालते थे. नकलची पकड़ने के लिए उड़न दस्तों की अगुवाई का जिम्मा भी डीएम स्तर पर नामित अपर नगर मजिस्ट्रेट पर ही होता था. साथी ही जिला प्रशासन ही परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए चार जोनल 13 सेक्टर में बाटंकर मजिस्ट्रेट की तैनती करता था. लेकिन पुलिस कमीश्नरी व्यवस्था लागू होने के बाद ये जिम्मेदारी भी अब पुलिस विभाग को उठानी पड़ेगी.

एक लाख से ज्यादा छात्र परीक्षा में होंगे शामिल

राजधानी में यूपी बोर्ड की परीक्षा में हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के कुल 1,01,276 परीक्षार्थी शामिल होंगे. जिसेक लिए विभाग ने अपनी तैयारी पूरी करते हुए 32 केंद्रों को संवेदनशील घोषित किय़ा है. लेकिन अधिकारों को लेकर छिड़ी रार के बीच परीक्षा को सकुशल और नकलविहीन संपन्न करवाना पुलिस प्रशासन के सामने बड़ी चुनौती है.ये भी पढ़ें:

आजमगढ़ पहुंची प्रियंका गांधी ने सुना CAA का विरोध कर रही महिलाओं का दर्द

67 हजार रुपये बिजली बकाए पर बसपा सुप्रीमो मायावती की कोठी पर विभाग का नोटिस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 4:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर