Lockdown 4.0: प्रियंका गांधी के ऑफिस ने योगी सरकार को भेजी बसों और चालकों की जानकारी, अब शुरू होगा ये काम

पत्र में कहा गया है कि प्रियंका गांधी कलेक्टर लखनऊ को बसों का फिटनेस सर्टिफिकेट, ड्राइवरों का ड्राइविंग लाइसेंस और कंडक्टर्स का विवरण पूर्वान्ह 10 बजे के पहले भेजें.  (file photo)
पत्र में कहा गया है कि प्रियंका गांधी कलेक्टर लखनऊ को बसों का फिटनेस सर्टिफिकेट, ड्राइवरों का ड्राइविंग लाइसेंस और कंडक्टर्स का विवरण पूर्वान्ह 10 बजे के पहले भेजें. (file photo)

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi)के कार्यालय ने उन 1000 बसों एवं चालकों का ब्यौरा सोमवार को उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government)को भेज दिया जिनके माध्यम से श्रमिकों को उनके गंतव्य स्थल तक पहुंचाने का आग्रह किया गया है.

  • Share this:
लखनऊ. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के कार्यालय ने उन 1000 बसों एवं चालकों का ब्यौरा सोमवार को उत्तर प्रदेश प्रशासन को भेज दिया जिनके माध्यम से श्रमिकों को उनके गंतव्य स्थल तक पहुंचाने का आग्रह किया गया है. प्रियंका के कार्यालय की ओर से देर शाम उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी को ईमेल के माध्यम से पत्र भेजा गया और उसके साथ ही 1000 बसों के नंबर और उनके चालकों का ब्यौरा संलग्न किया गया है. प्रियंका के कार्यालय ने उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) से आग्रह किया है कि मंगलवार से ही बसों का परिचालन करने दिया जाए.

यूपी सरकार ने मांगी जानकारी
उत्तर प्रदेश प्रशासन ने सोमवार को दिन में बसें चलाने के कांग्रेस के आग्रह को स्वीकार करने के साथ ही प्रियंका के निजी सचिव को पत्र लिखकर बसों के संबंध में विवरण मांगा था. इससे पहले प्रियंका ने श्रमिकों के लिए 1000 बसों के संचालन की अनुमति प्रदान किए जाने पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का धन्यवाद करते हुए सोमवार को कहा कि कोरोना महामारी के समय उनकी पार्टी राज्य के लोगों के साथ सकारात्मक भाव से खड़ी रहेगी. प्रियंका ने ट्वीट किया कि योगी आदित्यनाथ महामारी के समय इंसान की जिंदगी को बचाना, गरीबों की रक्षा करना, उनकी गरिमा की हिफाजत करना हमारा नैतिक दायित्व और अधिकार है. कांग्रेस इस कठिन समय में अपनी पूरी क्षमता और सेवाव्रत के साथ अपने कर्तव्यों का पालन कर रही है.’

प्रियंका ने कही ये बात
कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका ने कहा, ‘ये बसें हमारी सेवा का विस्तार हैं. हमें उप्र में पैदल चलते हुए हजारों भाई-बहनों की मदद करने के लिए, कांग्रेस के खर्चे पर 1000 बसों को चलवाने की इजाजत देने के लिए आपको धन्यवाद.’


उन्होंने कहा, ‘आपको उप्र कांग्रेस की तरफ से मैं आश्वस्त करती हूं कि हम सकारात्मक भाव से महामारी और उसके चलते लॉकडाउन की वजह से पीड़ित उप्र के अपने भाई-बहनों के साथ इस संकट का सामना करने के लिए खड़े रहेंगे.’

 

ये भी पढ़ें - 

प्रवासी मजदूर बोलीं- मकान मालिक ने घर से निकाला, 3 दिन से कुछ नहीं खाया 

Lockdown 4.0: दिल्ली रेड जोन से बाहर आने को तैयार, और आर्थिक गतिविधियां आज से
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज