• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • LUCKNOW UP BUDGET 2021 YOGI GOVERNMENT LIKELY TO ANNOUNCE FREE CORONA VACCINE TABLETS FOR STUDENTS DA FOR EMPLOYEES IN BUDGET 2021 UPAT

UP Budget 2021: फ्री कोरोना वैक्सीन, छात्रों को टैबलेट, डीए बहाली...जानिए योगी सरकार के पिटारे में और क्या-क्या?

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (File)

UP Budget 2021: 10 महीने बाद विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में सरकार हर वर्ग को साधने की कोशिश बजट के माध्यम से कर सकती है. तलाकशुदा महिलाओं के लिए पेंशन की भी व्‍यवस्‍थ की जा सकती है.

  • Share this:
    लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की अगुवाई वाली बीजेपी सरकार सोमवार को अपने इस कार्यकाल का अंतिम पूर्ण बजट (UP Budget 2021) पेश करेगी. इसके बाद सरकार चुनाव मोड में आ जाएगी, लिहाजा बजट में चुनावी तैयारियों की झलक देखने को मिल सकती है. 10 महीने बाद विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में सरकार हर वर्ग को साधने की कोशिश बजट के माध्यम से कर सकती है. सरकार के पिटारे में फ्री कोरोना वैक्सीन, प्रवासी श्रमिकों, किसानों, महिलाओं और युवाओं को खास तोहफा मिलने की उम्मीद है. हालांकि, कोरोना माहमारी की वजह से आर्थिक नुकसान की भरपाई भी सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती है.

    जानकारों के मुताबिक, पहले पेपरलेस बजट में योगी सरकार प्रदेश वासियों के लिए फ्री कोरोना वैक्सीन का ऐलान कर सकती है. सरकार इसके लिए बजट में प्रावधान कर सकती है. इसके अलावा छात्रों को फ्री टैबलेट या लैपटॉप देने की भी घोषणा हो सकती है. महिला सशक्तीकरण के साथ ही गंगा किनारे के गांवों में शाम की आरती के लिए गंगा चबूतरा के लिए भी बजट में प्रावधान हो सकता है.

    तलाकशुदा महिलाओं के लिए 6 हजार पेंशन का ऐलान संभव 
    योगी सरकार के पांचवें बजट में सरकार तलाकशुदा व परित्यक्ता महिलाओं के लिए 6 हजार रुपये पेंशन देने की व्यवस्था कर सकती है. पिछले बजट में इसके लिए पैसे की व्यवस्था नहीं हो पाई थी. इसके साथ ही असंगठित क्षेत्र के एक करोड़ श्रमिकों को दुर्घटना व स्वास्थ्य बीमा का लाभ देने की घोषणा भी बजट में संभव है. किसान आंदोलन को देखते हुए सरकार अपने इस आखिरी बजट में कुछ बड़ा ऐलान कर सकती है. मसलन मंड़ियों की बेहतरी के लिए भी बड़ी रकम का इंतजाम बजट में होगा.

    डीए बहाली को घोषणा संभव 
    कोरोना संकट के चलते विधायकों के वेतन-भत्तों की कुछ धनराशि स्थगित की गई थी. इसे नए वित्तीय वर्ष से बहाल किया जा सकता है. इसके अलावा राज्य कर्मचारियों को डीए दिए जाने के लिए आवश्यक धनराशि की व्यवस्था वित्त विभाग बजट में करेगा.

    अयोध्या, वाराणसी और मथुरा पर फोकस 
    योगी सरकार के इस बजट में धर्मनगरी अयोध्या, वाराणसी और मथुरा के विकास पर खास फोकस  देखने को मिल सकता है. अयोध्या में श्रीराम इंटरनेशनल एयरपोर्ट व जेवर एयरपोर्ट, एक्सप्रेस वे, मेट्रो परियोजनाएं, फिल्म सिटी जैसी बड़ी इंफ्रास्ट्रक्चर की योजनाओं को भी बजट के जरिए पंख लग सकते हैं.

    5.50 लाख करोड़ रुपये तक का हो सकता है बजट 
    उत्‍तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना सोमवार को विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2021-22 का बजट पेश करेंगे. यह यूपी के इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा बजट हो सकता है. इसका आकार 5.25 लाख करोड़ से 5.50 लाख करोड़ रुपये के बीच हो सकता है. मौजूदा वित्तीय वर्ष का बजट 5,12,860 करोड़ रुपये का लाया गया था. बजट में पंचायत चुनाव की तैयारियों के लिए जरूरी धनराशि का भी इंतजाम होगा.