योगी मंत्रिमंडल विस्तार: ब्राह्मण, क्षत्रिय के साथ पिछड़ों, दलितों को साधने की कोशिश

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 21, 2019, 2:14 PM IST
योगी मंत्रिमंडल विस्तार: ब्राह्मण, क्षत्रिय के साथ पिछड़ों, दलितों को साधने की कोशिश
योगी कैबिनेट विस्तार में सभी जातियों को साधने की कोशिश.

योगी सरकार (Yogi Government) के पहले कैबिनेट विस्तार (Cabinet Expansion) में प्रदेश की सियासत की अहम कड़ी माने जाने वाले जातिगत समीकरण को भी साधने की कोशिश की गई है.

  • Share this:
योगी सरकार (Yogi Government) के पहले कैबिनेट विस्तार (Cabinet Expansion) में प्रदेश की सियासत की अहम कड़ी माने जाने वाले जातिगत समीकरण को भी साधने की कोशिश की गई है. जिन 23 मंत्रियों ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली है, उनमें 6 ब्राह्मण, 4 क्षत्रिय, 3 वैश्य, 10 दलित और पिछड़ा वर्ग के नेता हैं. इस शपथ ग्रहण के बाद अब योगी सरकार में कुल मंत्रियों की संख्या 56 हो गई है. इनमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा, दो डिप्टी सीएम, 22 कैबिनेट मंत्री, 9 राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार और 22 राज्य मंत्री समेत मंत्रिमंडल में कुल 56 सदस्य हैं.

ब्राह्मण बिरादरी की बात करें तो इनमें नीलकंठ तिवारी, सतीश द्विवेदी, चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय, आनंद स्वरुप शुक्ला, अनिल शर्मा और रामनरेश अग्निहोत्री प्रमुख हैं. वहीं पहली बार मंत्री बनीं कमल रानी वरुण भी एससी कोटे से हैं. इसके अलावा मंत्री श्रीराम चौहान और आगरा कैंट के विधायक गिर्राज सिंह धर्मेश एससी कोटे से हैं. वहीं जीएस धर्मेश जाटव विरादरी से हैं. इनके अलावा वाराणसी के रवीन्द्र जायसवाल, कपिल देव अग्रवाल, महेश गुप्ता वैश्य बिरादरी से हैं. अनिल राजभर, नीलिमा कटियार पिछड़ा वर्ग से हैं. तो उदयभान सिंह जाट विरादरी से हैं.

सभी को हिस्‍सेदारी देने की कोशिश
वैसे इस कैबिनेट विस्तार से योगी सरकार ने प्रदेश के सभी क्षेत्रों की सरकार में हिस्सेदारी देने की भी कोशिश की है. 2014 की प्रचंड जीत के बाद भी आगरा, बुंदेलखंड, मुजफ्फरनगर, वाराणसी, बस्ती और कानपुर मंडलों क्षेत्रों को बेहतर प्रतिनिधित्व नहीं मिल सका था. लिहाजा, इस बार पश्चिम यूपी के मुजफ्फरनगर से कपिलदेव अग्रवाल और चरथावल से विधायक विजय कश्यप, बुलंदशहर से अनिल शर्मा, आगरा कैंट से जीएस धर्मेश और फतेहपुर से विधायक चौधरी उदयभान सिंह, मैनपुरी से रामनरेश अग्निहोत्री को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है.

क्षेत्रीय समीकरण का भी रखा खयाल
इसी तरह बुंदेलखंड से स्वतंत्र देव के इस्तीफे के बाद चित्रकूट से विधायक चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है. कानपुर मंडल से नीलिमा कटियार और कमल रानी वरुण को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है. बस्ती मंडल से सतीश द्विवेदी और वाराणसी मंडल से रवीन्द्र जायसवाल को शामिल किया गया है.

ये भी पढ़ें:
Loading...

कैबिनेट विस्तार कर जनता का ध्यान बांटना चाहती है बीजेपी सरकार: अखिलेश यादव

शपथ ग्रहण के बाद नए मंत्रियों से सीएम योगी करेंगे बैठक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 21, 2019, 1:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...