Home /News /uttar-pradesh /

UP Election 2022: अपनी मर्जी से SP में शामिल नहीं हुए पिता; विधायक विनय शाक्य की बेटी का दावा, कहा- हम BJP के साथ

UP Election 2022: अपनी मर्जी से SP में शामिल नहीं हुए पिता; विधायक विनय शाक्य की बेटी का दावा, कहा- हम BJP के साथ

बिधुना विधानसभा सीट से विधायक विनय शाक्य और उनकी बेटी रिया शाक्य

बिधुना विधानसभा सीट से विधायक विनय शाक्य और उनकी बेटी रिया शाक्य

UP Election 2022: योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ ही भाजपा का दामन छोड़ अखिलेश यादव की साइकिल पर सवार होने वाले बिधुना से विधायक विनय शाक्य (MLA Vinay Shakya) की बेटी का कहना है कि उनके पिता अपनी मर्जी से समाजवादी पार्टी में शामिल नहीं हुए हैं. सपा में शामिल हुए विनय शाक्य की बेटी रिया शाक्य ने अपने चाचा पर हमला बोलते हुए कहा कि सपा में शामिल होना उनकी मर्जी नहीं थी. जो हुआ उसमें मेरे पिता की कोई मर्जी नहीं है. उनकी सेहत ठीक नहीं. मेरे चााच स्वार्थी हैं और इसका फायदा मेरे उन्होंने उठाया और पिता को भाजपा से सपा में शामिल करा दिया. जबकि इस बार चुनाव लड़ने से पिता ने पहले ही मना कर दिया था.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ: योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ ही भाजपा का दामन छोड़ अखिलेश यादव की साइकिल पर सवार होने वाले बिधुना से विधायक विनय शाक्य (MLA Vinay Shakya) की बेटी का कहना है कि उनके पिता अपनी मर्जी से समाजवादी पार्टी में शामिल नहीं हुए हैं. सपा में शामिल हुए विनय शाक्य की बेटी रिया शाक्य ने अपने चाचा पर हमला बोलते हुए कहा कि सपा में शामिल होना उनकी मर्जी नहीं थी. जो हुआ उसमें मेरे पिता की कोई मर्जी नहीं है. उनकी सेहत ठीक नहीं. मेरे चााच स्वार्थी हैं और इसका फायदा मेरे उन्होंने उठाया और पिता को भाजपा से सपा में शामिल करा दिया. जबकि इस बार चुनाव लड़ने से पिता ने पहले ही मना कर दिया था.

औरेया में मीडिया से बातचीत में विनय शाक्य की बेटी रिया शाक्य ने कहा कि मुझे भी मेरे पिता से नहीं मिलने दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि मैं और मेरा भाई सिद्धार्थ की निष्ठा भाजपा के साथ है. रिया शाक्य ने मंगलवार को कथित तौर पर अपने चाचा और दादी पर उनके पिता को ले जाने का आरोप लगाते हुए एक वीडियो वायरल किया था और राज्य सरकार से उनके पिता की जांच और परिवार को फिर से मिलाने का अनुरोध किया.

रिया ने कहा, ‘मेरे पिता की तबीयत ठीक नहीं है. हम इलाके में बीजेपी के लिए काम कर रहे हैं लेकिन हमारे चाचा मेरे पिता को लखनऊ ले गए. मैं सरकार से मेरे पिता के ठिकाने का पता लगाने में हमारी मदद करने का अनुरोध करती हूं.’ उन्होंने वीडियो में यह भी कहा कि उनके पिता को 1 मई 2018 को ब्रेन स्ट्रोक हुआ था, जिसके बाद उन्हें लखनऊ के एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया था. उनके पिता स्पष्ट रूप से बोल नहीं पाते हैं और ऑपरेशन के बाद उनकी सोचने की शक्ति भी कम हो गई है.

इधर, बुधवार को औरैया जिले की बिधूना विधानसभा सीट से विधायक विनय शाक्य ने अपहरण के आरोपों को खारिज कर दिया था. उन्होंने कहा था कि वह इटावा में अपने पुश्तैनी घर में अपने परिवार के साथ सुरक्षित और स्वस्थ हैं. बता दें कि कुछ दिनों पहले ही भाजपा को झटका देते हुए विधायक विनय शाक्य ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया था और इसके बाद वे भाजपा छोड़ने वाले मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य से मुलाकात करने उनके आवास पर पहुंचे थे. शाक्य, स्वामी प्रसाद मौर्य के काफी करीबी माने जाते हैं.

Tags: Assembly elections, Uttar Pradesh Assembly Elections, ​​Uttar Pradesh News

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर