UP: ये है योगी सरकार का 'ऑपरेशन नेस्तनाबूद', अब माफियाओं की प्रॉपर्टी तो जब्त होगी ही, जुर्माना भी होगा भरना

योगी आदित्यनाथ.
योगी आदित्यनाथ.

सीएम योगी (CM Yogi Adityanath) के आदेश के बाद सरकार का ‘आपरेशन नेस्तनाबूद' तेज हो गया है. यही वजह है कि अतीक अहमद, मुख़्तार अंसारी समेत यूपी के 25 से ज्यादा लिस्टेड माफियाओं के खिलाफ ऑपरेशन जारी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 3:53 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी सरकार (Yogi Government) ने भू-माफियाओं (Land Mafia), हिस्ट्रीशीटर (History Sheeter) और गैंगस्टर (Gangster) एक्ट में निरुद्ध अपराधियों के खिलाफ जंग छेड़ रखी है. जहां एक तरफ बाहुबली और दबंग माफियाओं के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है, इसी बीच सरकार ने एक बड़ा आदेश जारी करते हुए कहा है कि सरकारी जमीनों पर माफ़ियाओं और अपराधियों के अवैध कब्जे और संपत्तियां तो गिराई ही जाएंगी, साथ ही उनसे हर्जाना भी वसूला जाएगा. इस ऑपरेशन का नाम 'नेस्तनाबूद' दिया गया है.

सीएम योगी के आदेश के बाद सरकार का ‘आपरेशन नेस्तनाबूद' तेज हो गया है. यही वजह है कि अतीक अहमद, मुख़्तार अंसारी समेत यूपी के 25 से ज्यादा लिस्टेड माफियाओं के खिलाफ ऑपरेशन जारी है. यही वजह है कि सरकार की कार्रवाइयों से यूपी के माफिया भयभीत है. अगर बात करें तो माफ़ियाओं और अपराधियों के ख़िलाफ अब तक 500 करोड़ से ज़्यादा की संपत्तियां जब्त हो चुकी हैं.

अकेले अतीक की 300 करोड़ की संपत्ति धराशाई



अगर बात करें तो यूपी में माफियाओं के खिलाफ योगी आदित्यनाथ सरकार की सख्त कार्रवाई जारी है. प्रयागराज में बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद के खिलाफ अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की गई है. अतीक अहमद के चकिया स्थित आवास पर सरकारी बुलडोजर चला है. इससे पहले भी अतीक अहमद की कई संपत्तियों को जब्त करने की ताबड़तोड़ कार्रवाई हुई थी, अब तक 300 करोड़ रुपए से ज्यादा की सम्पत्ति जब्त की गई है.
मुख़्तार और आजम के खिलाफ भी कार्रवाई जारी है

ऐसा नहीं है कि योगी सरकार का यह एक्शन सिर्फ कुछ बाहुबलियों तक ही सीमित है. योगी सरकार में 25 से जयादा ऐसे मफियाओं के खिलाफ कार्रवाई जारी है, इस्लेम कुछ अहम नाम सपा के कद्दावर नेता आजम खान, बाहुबली विधायक मुख़्तार अंसारी, सपा एमएलसी कमलेश पताहक, भदोही से विधायक विजय मिश्रा समेत तमाम वे लोग हैं जिनकी राजनीति में हनक देखने को मिली है.

मुख़्तार और आजम की करोड़ों की संपत्ति भी हो चुकी है ध्वस्त

पूर्वांचल के माफिया और मऊ सदर विधायक मुख्तार अंसारी पर प्रशासन का शिकंजा दिनों-दिन कसता चला जा रहा है. बाहुबली विधायक और उसके गैंग के सदस्यों के अवैध संपत्तियों की कुर्की, दोनों बेटों उमर और अब्बास पर एफआईआर और इनाम घोषित होने के बाद अब पत्नी और दोनों साले भी कानूनी कार्रवाई की जद में आ गए हैं. इससे पहले उनकी करोड़ों की संपत्ति जब्त हो चुकी है या फिर धराशायी. बीते शुक्रवार को मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा अंसारी और उसके दोनों सालों सरजील रजा और अनवर शहजाद के खिलाफ गैंगस्टर कोर्ट गाजीपुर ने गैर जमानती वारंट जारी कर दिया. तीनों फिलहाल फरार चल रहे हैं. वारंट जारी होने के बाद अब पुलिस इन्हें गिरफ्तार करने के लिए दबिश देगी. इससे पहले आजम खान के खिलाफ भी कुर्की और ध्वस्तीकरण की कार्रवाई जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज