यूपी: एक दिन में रिकॉर्ड एक लाख से ज्यादा COVID-19 सैंपल्स की जांच
Lucknow News in Hindi

यूपी: एक दिन में रिकॉर्ड एक लाख से ज्यादा COVID-19 सैंपल्स की जांच
यूपी में जांच का आंकड़ा एक लाख के पार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

UP COVID-19 Update: अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में पूरी तरह ठीक होकर डिस्चार्ज किए लोगों की संख्या 42,833 हो गई है. अब तक 1456 संक्रमित लोगों की मृत्यु हुई है. प्रदेश में अब तक कुल 19,41,259 सैंपल्स की जांच की गई है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) ने एक दिन में एक लाख से ज्यादा कोरोना (COVID-19 Test) सैंपल्स की जांच कर नया रिकॉर्ड बनाया है. अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि सोमवार को प्रदेश में 106962 सैंपल्स की जांच की गई. अब तक किसी भी प्रदेश में एक दिन में इतने टेस्ट नहीं किए गए हैं. उन्होंने बताया कि प्रदेश में पूरी तरह ठीक होकर डिस्चार्ज किए लोगों की संख्या 42,833 हो गई है. अब तक 1456 संक्रमित लोगों की मृत्यु हुई है. प्रदेश में अब तक कुल 19,41,259 सैंपल्स की जांच की गई है.

ऐसे हुए एक लाख से ज्यादा टेस्ट

प्रसाद ने बताया कि रवुवर को 5 सैंपल के 3803 पूल लगाए गए. जिसमें से 599 में पॉजिटिविटी देखी गई. 10 सैंपल के 270 पूल लगाए गए जिसमें से 30 में पॉजिटिविटी देखी गई. 50000 से ज्यादा एंटीजन टेस्ट किए गए. RTPCR और True Net सभी को मिलाकर कल 1 लाख से ज्यादा टेस्ट किए गए. प्रदेश में होम आइसोलेशन की सुविधा प्रारंभ हो गई है. अब तक 3738 लोग होम आइसोलेशन में हैं. अब तक सर्विलांस से 36421 इलाकों में 1,38,07,273 घरों का सर्विलांस किया गया है, जिसमें 7,73,00,206 लोग रहते हैं.



मुख्यमंत्री ने दिए है जांच की क्षमता बढ़ाने के निर्देश
यूपी के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने टेस्टिंग की क्षमता में लगातार बढ़ोतरी के आदेश दिए हैं. उन्होंने कहा है कि 25 लाख से अधिक जनसंख्या के जनपद हैं, वहां प्रतिदिन 1500 से अधिक एंटीजन टेस्टिंग हो और 25 लाख से कम जनसंख्या वाले जनपदों में प्रतिदिन 1000 से अधिक टेस्टिंग हो. मुख्यमंत्री ने प्रतिदिन 35000 से ज्यादा RTPCR टेस्ट करने का आदेश दिया है. इसी प्रकार True Net से प्रतिदिन 2500 से ज्यादा टेस्ट करने का आदेश दिया है. मुख्यमंत्री ने कहा है कि एल-1 अस्पतालों में कम से कम 50% बेड पर ऑक्सीजन की व्यवस्था कराई जाए. एल-2 अस्पतालों में सभी बेड पर ऑक्सीजन की व्यवस्था हो. एल-3 अस्पतालों में सभी बेड पर ऑक्सीजन के साथ वेंटीलेटर की व्यवस्था की जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading