अपना शहर चुनें

States

यूपी : नए कृषि कानून के खिलाफ आंदोलनरत किसानों के समर्थन में कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

यूपी, राजस्थान, हरियाणा और पंजाब के 15 से 20 हज़ार किसान दिल्ली बॉर्डरों पर इकट्ठा हुए थे.
यूपी, राजस्थान, हरियाणा और पंजाब के 15 से 20 हज़ार किसान दिल्ली बॉर्डरों पर इकट्ठा हुए थे.

यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि किसानों की जायज मांगों को मानने के बजाए भाजपा सरकारें किसानों पर लाठीचार्ज, आंसू गैस और पानी की बौछारें डालकर उनका उत्पीड़न कर रही हैं, जिसे कांग्रेस पार्टी कतई बर्दाश्त नहीं करेगी.

  • भाषा
  • Last Updated: November 28, 2020, 11:04 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. नए कृषि कानूनों (Agricultural law) के विरोध में जारी किसान आंदोलन के समर्थन में शनिवार को उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की सभी जिला एवं शहर इकाइयों ने प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर जिलाधिकारी कार्यालय के सामने प्रदर्शन कर राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन सौंपा. उप्र कांग्रेस पार्टी द्वारा जारी बयान के मुताबिक, प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि आज अन्नदाता किसान भाजपा सरकार की कथित किसान विरोधी नीतियों से त्रस्त होकर सड़कों पर उतरकर संघर्ष करने को विवश है. उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार द्वारा किसानों की जमीन छीनकर, मंडी छीनकर, समर्थन मूल्य छीनकर, किसान को उसके खेत पर ही मजदूर बना देने और देश की खेती कारपोरेट घरानों के हाथ में देने के लिए भाजपा सरकार द्वारा लाए गए तीन काले कृषि कानूनों का किसान शांतिपूर्वक तरीके से विरोध कर रहे हैं.

लल्लू ने कहा कि किसानों की जायज मांगों को मानने के बजाए भाजपा सरकारें किसानों पर लाठीचार्ज, आंसू गैस और पानी की बौछारें डालकर उनका उत्पीड़न कर रही हैं, जिसे कांग्रेस पार्टी कतई बर्दाश्त नहीं करेगी. बयान के मुताबिक, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के निर्देश पर शनिवार को पूरे प्रदेश में जिला एवं शहर इकाइयों द्वारा किए गए प्रदर्शन के क्रम में लखनऊ में जिला एवं शहर अध्यक्ष वेद प्रकाश त्रिपाठी और मुकेश सिंह चैहान के नेतृत्व में जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया.

इसी प्रकार जनपद फिरोजाबाद, गोंडा, गाजियाबाद, झांसी, गोरखपुर, कुशीनगर, बाराबंकी, बहराइच, फैजाबाद, अम्बेडकरनगर, सीतापुर, लखीमपुर, गाजीपुर, शाहजहांपुर, बरेली, मुरादाबाद, जालौन, हमीरपुर, बांदा, मथुरा सहित प्रदेश के सभी जनपदों में जिला एवं शहर इकाइयों द्वारा प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज