लाइव टीवी

संगठन मजबूती को लेकर एक्शन में यूपी कांग्रेस लेकिन जिला कमेटियों का गठन बड़ी चुनौती

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 31, 2019, 4:20 PM IST
संगठन मजबूती को लेकर एक्शन में यूपी कांग्रेस लेकिन जिला कमेटियों का गठन बड़ी चुनौती
उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की लखनऊ में हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि जल्द ही जिला कमेटियों का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा.

प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (State President Ajay Kumar Lallu) की अध्यक्षता में हुई यूपी कांग्रेस कमेटी (UPCC) की बैठक में सभी पदाधिकारियों में कार्यक्षेत्र आवंटित हुआ. इस दौरान प्रत्येक सचिव को उनके जिलों का प्रभार आवंटित हुआ और महासचिवों में ज़ोन बांटे गए.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (UPCC) की बैठक प्रदेश मुख्यालय लखनऊ स्थित नेहरू भवन में सम्पन्न हुई. बैठक में उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सभी पदाधिकारी मौजूद रहे. प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में सभी पदाधिकारियों में कार्यक्षेत्र आवंटित हुआ. इस दौरान प्रत्येक सचिव को उनके जिलों का प्रभार आवंटित हुआ और महासचिवों में ज़ोन बांटे गए. बैठक में जल्द ही जमीनी स्तर पर संगठन निर्माण को पूरा करने का निर्णय लिया गया. बता दें उत्तर प्रदेश कांग्रेस अर्से से हाशिए पर चली गई है. संगठन के नाम पर उसके पास प्रदेश स्तर के कुछ नेता भर हैं. 47 जिलों में अध्यक्षों की घोषणा तो पार्टी ने कर दी है लेकिन बाकी बचे जिलों में अध्यक्षों की नियुक्ति और जिला कमेटियों के गठन की चुनौती अभी पार्टी के सामने खड़ी है.

जिला कमेटियों में युवाओं के साथ सामाजिक समीकरण साधने की रणनीति
बता दें गुरुवार को हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि जल्द ही जिला कमेटियों का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा. जिला कमेटियों में स्थानीय सामाजिक समीकरण पर फोकस किया जाएगा और संघर्षशील युवाओं को तरजीह दी जाएगी. प्रदेश कमेटी की तर्ज पर जिला कमेटियों भी अब एक निश्चित ढांचे और निश्चित संख्या की होंगी. जिला कमेटी पहले की तुलना में छोटी होगी. जिला कमेटियों में हर पदाधिकारी की निश्चित जिम्मेदारी और जवाबदेही सुनिश्चित होगी.

आर्थिक मंदी के खिलाफ 10 दिवसीय अभियान

आर्थिक मंदी के खिलाफ ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी द्वारा जारी 10 दिवसीय कार्यक्रम घोषित किया गया है. बैठक में 10 दिवसीय अभियान के क्रियान्वयन की रणनीति बनी. बैठक में तय हुआ कि आर्थिक मंदी के खिलाफ पूरे सूबे में कांग्रेसी कार्यकर्ता केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलेंगे. सभी जिलों पर धरना प्रदर्शन, नुक्कड़ सभाओं, किसान जन सुनवाई और अन्य कार्यक्रम की योजना भी बनी. यह 10 दिवसीय अभियान 5 नवम्बर से 15 नवंबर तक चलेगा.

UPCC1
लखनऊ में यूपी कांग्रेस कमेटी की बैठक में शामिल पदाधिकारी.


यूपी के ज्वलंत मुद्दों पर आंदोलनों की रणनीति हुई तय
Loading...

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के बैठक में पूरे सूबे की ज्वलंत समस्याओं पर गहन मंथन हुआ. प्रदेश में बढ़ रहे अपराध, ध्वस्त कानून व्यवस्था, किसानों के कर्ज माफी, उचित फसल मूल्य, सहकारी समितियों में भ्रष्टाचार, बिजली दरों में वृद्धि, बंद चीनी मिलों का सवाल, आलू किसानों की समस्या, बुनकरों के सवाल, पीतल और चमड़ा जैसे लघु उघोगों की समस्याओं, कांग्रेस कार्यकाल में शुरू की सिंचाई योजना जो सरकारों की अनदेखी से बंद हुई, गन्ना मूल्य में वृद्धि, आवारा पशुओं की समस्या, बढ़ती बेरोजगारी, महिला हिंसा, व्यापारियों की समस्याओं, पुलिस उत्पीड़न प्राकृतिक आपदा से पीड़ितों को मुआवजा और पुनर्वास, पॉलिटेक्निक कालेजों का निजीकरण, शिक्षा का निजीकरण, जर्जर स्वास्थ्य व्यवस्था, जापानी बुखार के रोकथाम में सरकारी अनदेखी, बंद पड़े औधोगिक क्षेत्रों को खोलने, अवैध खनन जैसे मुद्दों आंदोलन की रणनीति बनी.

ये भी पढ़ें:

जवाहर यादव हत्याकांड में 23 साल बाद आया फैसला, करवरिया बंधुओं समेत 4 दोषी करार

प्रियंका पर स्मृति ईरानी का पलटवार, बोलीं- पटेल के प्रति आस्था होती तो...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 4:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...