Home /News /uttar-pradesh /

UP Election: 'पाक‍िस्‍तान असली दुश्‍मन नहीं', अख‍िलेश यादव के बयान पर बीजेपी का पलटवार, कहा- माफी मांगें

UP Election: 'पाक‍िस्‍तान असली दुश्‍मन नहीं', अख‍िलेश यादव के बयान पर बीजेपी का पलटवार, कहा- माफी मांगें

यूपी चुनाव में जिन्‍ना के बाद पाकिस्‍तान की एंट्री हो गयी है.

यूपी चुनाव में जिन्‍ना के बाद पाकिस्‍तान की एंट्री हो गयी है.

UP Election 2022: यूपी विधानसभा चुनाव में बयानबाजी का दौर जारी है. इस बीच चुनाव में जिन्ना के बाद पाकिस्‍तान की एंट्री हो गयी है. दरअसल सपा प्रमुख और यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने एक अखबार को दिए इंटरव्‍यू में कहा कि पाकिस्तान भारत का असली दुश्मन नहीं है बल्कि भाजपा वोटों के लिए इसे बीच में लेकर आती है. भाजपा नेता संब‍ित पात्रा (Sambit Patra) ने पलटवार करते हुए कहा कि सपा प्रमुख का यह बयान बेहद दुखद और शर्मनाक है, उन्‍हें देशभर के लोगों से तुरंत माफी मांगनी चाहिए.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. यूपी विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) में बयानबाजी और आरोपों का दौर जारी है. इस बीच भाजपा नेता संब‍ित पात्रा (Sambit Patra) ने समाजवादी पार्टी के चीफ और यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधा है. उन्‍होंने कहा कि आज मैंने एक महत्वपूर्ण अखबार में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का इंटरव्यू पढ़ा, जिसमें उन्‍होंने कहा है कि पाकिस्तान भारत का असली दुश्मन नहीं है बल्कि भाजपा वोटों की राजनीति के लिए पाकिस्‍तान को बीच में लेकर आती है. यह बयान बेहद शर्मनाक है और इसके लिए उनको देश से माफी मांगनी चाहिए.

इसके साथ पात्रा ने कहा कि आज योगी जी-मोदी जी सब उत्तर प्रदेश को बधाई दे रहे हैं, ऐसे में अखिलेश पाकिस्‍तान की तारीफ कर रहे हैं. वहीं, दुख के साथ कहना चाहूंगा कि मैंने एक महत्वपूर्ण अखबार में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का इंटरव्यू पढ़ा, जिसमें उन्‍होंने कहा है कि पाकिस्तान भारत का असली दुश्मन नहीं है. उनका कहना कि वह पाकिस्तान को भारत का असली दुश्मन नहीं मानते और भारतीय जनता पार्टी केवल वोटों की राजनीति के कारण पाकिस्तान को दुश्मन मानती है. यह बयान न सिर्फ दुखद और चिंताजनक है बल्कि शर्मनाक भी है.

भाजपा नेता ने कहा कि मैं आज अखिलेश से लखनऊ में बैठकर चंद सवाल पूछना चाहता हूं. क्या कश्मीर के बंधु हमारे भाई नहीं है जिनके ऊपर रोज पाकिस्तान की तरफ से गोलाबारी होती है और निहत्थे व निर्दोष लोग पाकिस्तान द्वारा भेजे गए आतंकवादियों द्वारा मारे जाते हैं. क्या उनका जीवन जीवन नहीं है? हर समय पाकिस्तान भारत के ऊपर आतंकवादी हमले करता है. आपका यह कहना कि भारत का असली दुश्मन पाकिस्तान नहीं है, यह तो भारतीय जनता पार्टी पाकिस्तान बना रही है. मैं तो इतना कहना चाहूंगा ‘ जिन्ना से जो करे प्यार वह पाकिस्तान से कैसे करे इंकार’.

पहले जिन्ना और अब पाकिस्‍तान पहुंच गए अखिलेश
संब‍ित पात्रा ने कहा, ‘आपने देखा कि जिन्ना की रट लगाते हुए अखिलेश यादव इस चुनाव में उतरे थे और आज जिन्ना से एक पायदान ऊपर पाकिस्तान तक पहुंच गए हैं. इसके साथ उन्‍होंने सपा तंज कसते हुए कहा,’आप कहते हैं कि जब चुनाव होता है तो भाजपा पाकिस्तान को खोज कर लाती है. हम नहीं लाते हैं. आज का सीएम योगी आदित्यनाथ का संदेश देख लीजिए, जो कि यूपी के विकास और स्थापना दिवस पर दिया है. जबकि अखिलेश यादव का एक ही संदेश है जो अखबार की सुर्खियां बन कर छपा है कि पाकिस्तान भारत का दुश्मन नहीं है. पाकिस्तान और जिन्ना को लेकर कौन आया.

वो तो कसाब को भी प्रचार के लिए ले आते…
भाजपा नेता ने कहा कि नाहिद हसन जैसे लोगों को अखिलेश ने टिकट दिया है, तभी उम्मीदवारों की सूची घोषित नहीं हो रही है. आज जिन्ना और पाकिस्तान की बात करने वाले अखिलेश को मैं इतना कहना चाहता हूं कि शुक्र मनाइए, याकूब मेमन और कसाब को फांसी हो गई है वरना उनका का बस चलता तो नाहिद हसन के साथ चुनावी मैदान में उतार देते. यह वही अखिलेश यादव हैं जिन्होंने आतंकवादियों को छुड़ाने के लिए कोर्ट में गुहार लगायी थी. यही नहीं, आतंकवादियों को छुड़ाने की पूरी तैयारी भी कर ली थी, लेकिन कोर्ट ने रोक लगा दी. साथ पात्रा ने अखिलेश यादव को चुनौती देते हुए कहा कि अगर हिम्मत है तो आप अपने उम्मीदवारों की सूची को जारी करिए कौन कहां से लड़ रहा है. सपा भाई भतीजावाद और परिवारवाद कर रही है. इसके अलावा कहा कि कल मैंने टीवी पर देखा कि अखिलेश यादव ने चुनाव आयोगा को चिट्ठी लिखी है. वो चाहते हैं कि मीडिया ओपिनियन पोल ना दिखाएं. वह आज ओपिनियन पोल पर बरसे हैं, वहीं, 10 मार्च को ईवीएम पर बरसेंगे.

गंगा एक्सप्रेसवे बनाम माफिया एक्सप्रेसवे
पात्रा ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश का आगामी विधानसभा चुनाव भाजपा और सपा के एक्सप्रेसवे के बीच में है. भाजपा के एक्सप्रेसवे हैं गंगा एक्सप्रेसवे, पूर्वाचल एक्सप्रेसवे, बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे और सपा के हैं गुंडई एक्सप्रेसवे, रंगदारी एक्सप्रेसवे और माफिया एक्सप्रेसवे. जनता को इनके बीच से चुनाव करना है.

इसके साथ पात्रा ने कहा कि याद कर लें 73 साल पहले किस प्रकार से एक बहुत ही उम्‍मीद के साथ इस प्रदेश की स्थापना की गई थी, लेकिन दुख के साथ मुझे कहना पड़ रहा है कई वर्षों तक जिस तरीके की राजनीति ने उत्तर प्रदेश को घेर कर रखा है. उससे यूपी पिछड़ गया. पात्रा ने कहा कि 2017 से पहले उत्तर प्रदेश की छवि भारतवर्ष में एक अलग तरीके से प्रस्तुत की जाती थी और खुशी के साथ कहना चाहूंगा कि 2017 के पश्चात भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी के कारण यूपी की छवि बदली है. इज ऑफ डूइंग बिजनेस में भी यूपी 12वें स्थान से दूसरे स्थान पर आया है और आर्थिक स्थिति भी बदली है. इस दौरान छठे स्थान से दूसरे स्थान पहुंचा है. इसके साथ कहा कि यूपी को 50 से अधिक केंद्रीय योजनाओं के कारण भी अग्रणी बनाने में अहम भूमिका निभाई है.

Tags: Akhilesh yadav, Azmal kasab, Sambit Patra, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर