Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav 2022: 'भीड़' की लड़ाई खिचड़ी तक पहुंची, स्वामी प्रसाद मौर्य बोले- CM योगी पर दर्ज हो FIR

UP Chunav 2022: 'भीड़' की लड़ाई खिचड़ी तक पहुंची, स्वामी प्रसाद मौर्य बोले- CM योगी पर दर्ज हो FIR

सपा कार्यकर्ताओं पर एफआईआर से भड़के स्वामी प्रसाद मौर्य ने सीएम योगी के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की है.

सपा कार्यकर्ताओं पर एफआईआर से भड़के स्वामी प्रसाद मौर्य ने सीएम योगी के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की है.

Uttar Pradesh Elections 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले 'भीड़' की बात खिचड़ी तक पहुंच गयी है. बता दें कि लखनऊ पुलिस ने कोविड प्रोटोकॉल (Covid Protocol) के उल्लंघन के आरोप में समाजवादी पार्टी के 2500 कार्यकर्ताओं के खिलाफ धारा 144 तोड़ने और महामारी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की है. इसके बाद भाजपा से नाता तोड़कर साइकिल की सवारी करने वाले स्‍वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) ने कहा कि सबसे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के खिलाफ मुकदमा दर्ज करना चाहिए, क्‍योंकि उन्‍होंने गोरखपुर में हजारों लोगों के साथ खिचड़ी खाई. इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का उल्‍लंघन हुआ.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Elections 2022) से पहले सियासी बयानबाजी जारी है. वहीं, शुक्रवार (14 जनवरी) को लखनऊ में आयोजित समाजवादी पार्टी के कार्यक्रम में कोविड प्रोटोकॉल (Covid Protocol) के उल्लंघन के आरोप में 2500 कार्यकर्ताओं के खिलाफ धारा 144 तोड़ने और महामारी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज होने से माहौल गरम है. वहीं, सपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद भाजपा से नाता तोड़कर साइकिल की सवारी करने वाले स्‍वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) ने कहा कि सबसे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के खिलाफ मुकदमा दर्ज करना चाहिए, क्‍योंकि उन्‍होंने गोरखपुर में हजारों लोगों के साथ खिचड़ी खाई है. इस दौरान कोविड गाइडलाइंस का उल्‍लंघन हुआ है.

बता दें कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर रोक लगा रखी है. इस बीच शुक्रवार को सीएम योगी की कैबिनेट का हिस्‍सा रहे स्‍वामी प्रसाद मौर्य और डॉ धर्म सिंह सैनी समेत कई भाजपा विधायकों ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की उपस्थिति में पार्टी का दामन थामा था. वही सपा कार्यालय में जमकर भीड़ उमड़ी थी. लखनऊ पुलिस ने करीब 2500 समाजवादी पार्टी के नेताओं के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 188, 269, 270 और 341 के तहत महामारी रोग अधिनियम की संबंधित धाराओं के साथ प्राथमिकी दर्ज की है. लखनऊ पुलिस के मुताबिक, इस कार्यक्रम के दौरान अखिलेश समेत कई नेताओं ने भाषण भी दिया था और वीडियो फुटेज में भीड़ के साक्ष्‍य देखने को मिले हैं.

सीएम योगी ने दलित के घर जमीन पर बैठकर पत्‍तल में खाई खिचड़ी
स्‍वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि मकर संक्रांति के मौके पर गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में खिचड़ी चढ़ाने के लिए भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे. इस दौरान सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा था, लिहाजा सीएम योगी के खिलाफ पहले केस दर्ज होना चाहिए. हालांकि इस दौरान भीड़ से सीएम योगी ने कोरोना प्रोटोकॉल के नियमों का पालन करने की अपील भी की थी.

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार (14 जनवरी) को गोरखपुर के झुंगिया गेट स्थित दलित अमृतलाल भारती के घर में आयोजित सहभोज में शामिल हुए थे. उन्‍होंने कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए जमीन पर बैठकर खिचड़ी खाई थी. इस दौरान मुख्‍यमंत्री को पत्‍तल में खिचड़ी परोसी गई और पीने के लिए कुल्‍हड़ में पानी दिया गया था.

Tags: CM Yogi Adityanath, Swami prasad maurya, UP news, UP police, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर