Home /News /uttar-pradesh /

Up Assembly Election: प्रियंका गांधी को बड़ा झटका, सलाहकार हरेंद्र मलिक ने इस्तीफा दिया

Up Assembly Election: प्रियंका गांधी को बड़ा झटका, सलाहकार हरेंद्र मलिक ने इस्तीफा दिया

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले हरेंद्र और पंकज मलिक का इस्तीफा कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पहले हरेंद्र और पंकज मलिक का इस्तीफा कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. (फाइल फोटो)

UP News: हरेंद्र मलिक के साथ ही उनके बेटे पंकज मलिक ने भी कांग्रेस से दिया इस्तीफा, दोनों ही पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कद्दावर नेता माने जाते हैं. चर्चा है कि दोनों जल्द ही समाजवादी पार्टी जॉइन कर सकते हैं.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनावों से पहले ही कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी को बड़ा झटका लगा है. प्रियंका गांधी के सलाहकार हरेंद्र मलिक ने इस्तीफा दे दिया है. इसी के साथ कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष पंकज मलिक ने भी इस्तीफा दे दिया है. हरेंद्र मलिक और पंकज मलिक पिता-पुत्र हैं. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दोनों बड़े और ताकतवर नेता माने जाते हैं. गौरतलब है कि पंकज मलिक दो बार कांग्रेस से विधायक रह चुके हैं, वहीं हरेंद्र भी सांसद रह चुके हैं.
उल्लेखनीय है कि प्रियंका गांधी ने कुछ दिनों पहले ही पंकज मलिक को चुनाव स्ट्रेटेजी और प्लानिंग कमेटी का सदस्य भी बनाया था. अब चर्चा है कि दोनों ही नेता जल्द समाजवादी पार्टी की सदस्यता ले सकते हैं.

बड़ा नाम रखते हैं
जानकारी के अनुसार हरेंद्र मलिक नेशनल लोकदल पार्टी हरियाणा से 2005 में राज्यसभा सांसद चुने गए थे. वहीं पंकज मलिक दो बार विधायक रहे हैं. कांग्रेस की तरफ से वे 2007 में बघरा सीट से विधायक बने थे. इसके बाद 2012 में वे शामली सीट से विधायक चुने गए. फिलहाल वे कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के इंचार्ज थे. लेकिन अब उन्होंने इस्तीफा दे दिया है.

करीबियों ने किया हाईजैक
हरेंद्र मलिक ने इस्तीफा देने के पीछे मुख्य कारण प्रियंका गांधी के करीबियों की ओर से पार्टी पर खासा हक जताना बताया. उन्होंने कहा कि ऐसा लगने लगा था जैसे प्रियंका के करीब‌ियों ने पार्टी को हाईजैक कर लिया है. उल्लेखनीय है कि हरेंद्र मलिक का राजनीतिक कॅरियर काफी लंबा रहा है और वे पहली बार जनता दल के टिकट पर 1989 में खतौनी से विधायक बने. इसके बाद उन्होंने लोकदल का दामन थामा और बघरा सीट से एमएलए का चुनाव जीता. फिर वे समाजवादी पार्टी चले गए. लेकिन बाद में वे इंडियन नेशनल लोकदल चले गए और हरियाणा से राज्य सभा सांसद बने. इसके बाद वे कांग्रेस आ गए और कैराना से ‌पिछला लोकसभा चुनाव भी लड़ा लेकिन उनको हार का सामना करना पड़ा.

Tags: Congress, Priyanka gandhi, UP Assembly Election 2022, Uttar pradesh news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर