Home /News /uttar-pradesh /

up election result 2022 azam khan raghuraj pratap singh and some leader play victory role in any party waves upns

UP Election Result 2022: जानिए यूपी की सियासत के कुछ खास चेहरे जिनके लिए लहर नहीं रखता मायने

UP Election: बताया जा रहा है कि आजम खान एक बार फिर अपनी रामपुर विधानसभा की सीट छोड़ सकते हैं.

UP Election: बताया जा रहा है कि आजम खान एक बार फिर अपनी रामपुर विधानसभा की सीट छोड़ सकते हैं.

UP Politics: प्रतापगढ़ की कुंडा सीट पर बाहुबली रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के खिलाफ किसी तरह का मुकाबला नहीं होता था. लेकिन इस दफा उन्हें अपने ही शागिर्द रहे सपा प्रत्याशी गुलशन यादव से चुनौती मिली हालांकि वो छठवीं बार भी विधानसभा में पहुंचने में कामयाब हुए हैं. इससे पहले वो निर्दलीय चुनाव जीता करते थे. लेकिन इस दफा अपनी पार्टी जनसत्ता दल (लोकतांत्रिक) के बैनरतले जीत हासिल की.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में भाजपा (BJP) ने एक बार फिर प्रचंड जीत (UP Election Result 2022) के साथ सत्‍ता में वापसी कर ली है. वहीं एक बार फिर मतदाताओं ने बीजेपी में भरोसा जताया हैं. बीजेपी जीत इसलिए भी खास है क्योंकि 37 साल बाद कोई सरकार दोबारा यूपी में आई है. इस चुनाव में सभी दलों के कई दिग्गजों को हार का सामना करना पड़ा. लेकिन कुछ चेहरों की जीत इसलिए खास है क्योंकि उनके लिए किसी दल के लहर का होना या ना होना मायने नहीं रखता. यूपी की सियासत के कुछ खास चेहरों की बात करेंगे जो एक बार फिर जीत का परचम लहराने में कामयाब रहे हैं.

1- सपा सांसद आजम खान

समाजवादी पार्टी के रामपुर से सांसद आजम खान भ्रष्टाचार के कई मुद्दों में जेल में बंद हैं. लेकिन इस दफा के चुनाव में भी उन्होंने रामपुर सीट से जीत का परचम लहराया है. 2019 में लोकसभा का चुनाव जीतने के बाद उन्होंने विधानसभा की सीट छोड़ दी थी. 2022 में आजम खान इसी सीट से चुनाव लड़े और 10वीं बार जीत हासिल की. बताया जा रहा है कि आजम खान एक बार फिर अपनी रामपुर विधानसभा की सीट छोड़ सकते हैं.

2- प्रतापगढ़ के बाहुबली विधायक रघुराज प्रताप सिंह

प्रतापगढ़ की कुंडा सीट पर बाहुबली रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के खिलाफ किसी तरह का मुकाबला नहीं होता था. लेकिन इस दफा उन्हें अपने ही शागिर्द रहे सपा प्रत्याशी गुलशन यादव से चुनौती मिली हालांकि वो छठवीं बार भी विधानसभा में पहुंचने में कामयाब हुए हैं. इससे पहले वो निर्दलीय चुनाव जीता करते थे. लेकिन इस दफा अपनी पार्टी जनसत्ता दल (लोकतांत्रिक) के बैनरतले जीत हासिल की.

3- योगी सरकार के मंत्री सुरेश खन्ना

योगी सरकार में वित्त मंत्री सुरेश खन्ना की जीत इसलिए खास है क्योंकि वो 9वीं बार विधानसभा में पहुंचने में कामयाब रहे हैं. शाहजहांपुर सीट पर उनका दबदबा इस बार भी बरकरार रहा. इस दफा समाजवादी पार्टी के तनवीर अहमद को मात दी और एक बार फिर लखनऊ तक पहुंचने में कामयाब रहे.

4- सपा के पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव

आजमगढ़ सदर सीट से सपा सरकार में पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद नौवीं पर विधानसभा में पहुंचने में कामयाब रहे हैं. सपा के टिकट पर ये अपनी किस्मत आजमां रहे थे. 1985 में पहली बार वो निर्दलीय चुनाव जीते उसके बाद जनता दल के टिकट पर जीत हासिल की. फिर आगे का सफर समाजवादी पार्टी के साथ शुरू हुआ.

5- फतेह बहादुर सिंह

पूर्व मुख्यमंत्री रहे वीर बहादुर सिंह के बेटे कैंपियरगंज सीट से विधानसभा में पहुंचने में कामयाब रहे हैं. इससे पहले वो महाराजगंज की पनियरा विधानसभा सीट से विधायक हुआ करते थे.

6- महबूब अली

अमरोहा सीट से महबूब अली लगातार पांचवीं बार विधायक चुने गए हैं. वह पहली बार इस सीट पर 1996 में चुनाव लड़े, लेकिन कामयाबी नहीं मिली थी. उसके बाद से लगातार जीत रहे हैं. 2022 के चुनाव में उन्होंने बीजेपी उम्मीदवार को करीब 71 हजार वोटों से हराया.

Tags: Azam Khan, BJP Leader, CM Yogi, Raghuraj Pratap Singh, Samajwadi Party MP, UP BJP, UP Election 2022, UP Politics Criminals, Uttar Pradesh Assembly Election Result 2022, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर