किसानों के हित में बड़ा फैसला, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने दिया ग्रामीण क्षेत्रों में सूर्यास्त से सूर्योदय तक बिजली न काटने का आदेश

किसानों को बिजली आपूर्ति संबंधी समस्याएं नहीं होनी चाहिए : श्रीकांत शर्मा

किसानों को बिजली आपूर्ति संबंधी समस्याएं नहीं होनी चाहिए : श्रीकांत शर्मा

UP News: यूपी के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा (Shrikant Sharma) ने किसानों की परेशानी की देखते हुए बिजली विभाग के अधिकारियों को ग्रामीण क्षेत्रों में सूर्यास्त से सूर्योदय तक निर्बाध विद्युत आपूर्ति करने का आदेश दिया है.

  • Share this:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री श्रीकांत शर्मा (Shrikant Sharma) ने बुधवार को बिजली विभाग की एक अहम बैठक की है. इस दौरान एक ओर बिजली विभाग (Electricity Department) के आला अधिकारियों के साथ विभागीय कार्यों की प्रगति और जन शिकायतें के निस्तारण की एक-एक कर समीक्षा की, तो वहीं दूसरी ओर ऊर्जा मंत्री ने बिजली विभाग के अधिकारियों को जनता की समस्याओं का तत्काल निस्तारण करने के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में सूर्यास्त से सूर्योदय तक निर्बाध विद्युत आपूर्ति भी किये जाने का निर्देश दिया है.

इस दौरान ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि पूरे प्रदेश में आंशिक कोरोना कर्फ्यू में छूट दी गई है. जिसके बाद अब सभी प्रकार की गतिविधियां धीरे-धीरे शुरू होंगी. आंशिक कोरोना कर्फ्यू के दौरान संवेदनशीलता से काम करने के कारण विभाग व सरकार की छवि अच्छी व सकारात्मक हुई है. लोग हमारे कार्यों के लिए वॉरियर्स की तरह प्रशंसा कर रहे हैं. जिसके चलते इस अवधि में और भी संवेदनशीलता से काम करने की जरूरत है. ऊर्जा परिवार के कोरोना वॉरियर्स प्रदेशवासियों को निर्बाध आपूर्ति के लिए संकल्पित हैं. और सभी अपने इस संकल्प को चरित्रार्थ भी कर रहे हैं.

किसानों के लिए उठाया ये बड़ा कदम

यूपी के ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा ने आगे बोलते हुए कहा कि सिंचाई के लिए भी किसानों को बिजली आपूर्ति संबंधी समस्याएं नहीं होनी चाहिए. जहां ट्रांसफार्मर खराब होने की शिकायतें आ रही हैं, वहां प्राथमिकता पर उसे बदलकर आपूर्ति बहाल की जाए. यूपीपीसीएल चेयरमैन यह सुनिश्चित करें कि सभी उपभोक्ताओं को सही बिल समय पर मिले. इसमें लापरवाही करने वाले डिस्कॉम की जवाबदेही भी तय की जाए. उपभोक्ता सेवाओं में किसी भी प्रकार की लापरवाही स्वीकार्य नहीं है.
ये भी पढ़ें- बड़ी खबर: 15 दिन में पैसे डबल करने के नाम पर 4 महीने में 250 करोड़ की ठगी, जानें क्‍यों IB और रॉ तक पहुंचा मामला

इसके अलावा अंत में शर्मा ने कहा कि सभी अधिकारी सोशल मीडिया के माध्यम से शिकायतों को सुने, 1912 की शिकायतों और टेलीफोन पर आने वाली शिकायतों को भी तेजी से निस्तारित करें. उपभोक्ता की संतुष्टि ही हमारी संतुष्टि है, इस बात का विशेष ध्यान रखें. और साथ ही ये संकट का समय है ऐसे में सभी लोग अपनी सुरक्षा का भी विशेष ध्यान दें. यूपीपीसीएल चेयरमैन सुरक्षा मानकों के प्रबंध की नियमित निगरानी करें. स्वयं भी उपकेंद्रों और बिलिंग काउंटर्स का निरीक्षण करें. किसी भी प्रकार की कोई परेशानी हो तो उच्चाधिकारियों से संपर्क कर उसका निस्तारण करवाएं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज