UP Panchayat Chunav Results: हर घंटे जारी होंगे यूपी पंचायत चुनाव के नतीजे, जानें काउंट‍िंग की पूरी प्रक्र‍िया

यूपी पंचायत चुनाव के लिए हर विकासखंड पर मतगणना शुरू होगी.

यूपी पंचायत चुनाव के लिए हर विकासखंड पर मतगणना शुरू होगी.

up panchayat election result 2021: यूपी पंचायत चुनाव की काउंटिंग शुरू होकर अंतिम परिणाम आने तक जारी रहेगी. इस दौरान कर्मचारियों की ड्यूटी बदलती रहेगी. हर विकासखंड पर हर घंटे नतीजे अनाउंस किए जाते रहेंगे. अंतिम परिणाम आने तक 36 से 72 घंटे तक का समय लग सकता है.

  • Share this:
मोहम्मद शबाब 

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव की काउंट‍िंग शुरू हो चुकी है. 26 मार्च को राज्य निर्वाचन आयोग ने उत्तर प्रदेश में 4 चरणों में पंचायत चुनाव की तारीखों का ऐलान किया था. 15 अप्रैल से शुरू हुए पंचायत चुनाव 29 अप्रैल को चौथे चरण के मतदान के साथ समाप्त हुए थे. पंचायत चुनाव के लिए हर विकासखंड पर मतगणना शुरू होगी. हर विकासखंड पर मतपत्रों के बक्से खोले जाएंगे और इन बक्सों में हर पद के लिए मतपत्र का रंग अलग होता है. प्रधान पद के लिए हरे रंग का मतपत्र होता है, जिसे बक्से से अलग किया जाएगा. प्रधान पद के नतीजे ग्राम पंचायत वार आएंगे. इसके बाद ग्राम पंचायत सदस्यों की अगर बात करें, तो उनका मतपत्र सफेद रंग का होगा और ग्राम पंचायत सदस्यों के नतीजे वार्ड के हिसाब से आएंगे. इसके बाद सदस्य क्षेत्र पंचायत जिनके मतपत्र नीले रंग के होंगे. उन्हें अलग किया जाएगा और सदस्य क्षेत्र पंचायतों के नतीजे क्षेत्र पंचायत वार आएंगे. सदस्य जिला पंचायत के मत पत्र गुलाबी रंग के होंगे और सदस्य जिला पंचायत के नतीजे वार्ड बार आएंगे बक्सा खोले जाने के बाद मतपत्रों के रंग के अनुसार सभी मतपत्रों को अलग अलग किया जाएगा.

रंगों के हिसाब से 50-50 मतपत्रों की गड्डियां बनाई जाएंगी और इस तरह मत पत्रों को इकट्ठा किया जाएगा. इन सिलेक्ट किए गए मत पत्रों में से रिजेक्टेड मतपत्र अलग किए जाएंगे. इसके बाद गिनती शुरू हो जाएगी. सुबह 8:00 बजे से काउंटिंग शुरू होकर अंतिम परिणाम आने तक जारी रहेगी. इस दौरान कर्मचारियों की ड्यूटी बदलती रहेगी. हर विकासखंड पर हर घंटे नतीजे अनाउंस किए जाते रहेंगे. अंतिम परिणाम आने तक 36 से 72 घंटे तक का समय लग सकता है.

जानिए कैसे होती है पंचायत चुनाव की मतगणना
- हर विकास खण्ड पर मतगणना शुरू होगी, हर विकास खण्ड में मतपत्र के बक्से खोले जाएंगे.

- इन बक्सों में हर पद का मतपत्र का रंग अलग होता है

- प्रधान पद के लिए हरा रंग का मतपत्र होगा जिसे अलग किया जाएग, प्रधानपद के नतीजे ग्राम पंचायतवार आएंगे.



- ग्रामपंचायत सदस्य के मतपत्र सफेद रंग के होंगे, जिन्हें अलग किया जाएगा. ग्रामपंचायत सदस्य के नतीजे वार्ड के हिसाब से आएंगे.

- सदस्य क्षेत्र पंचायत के मतपत्र नीले रंग के होंगे उन्हें अलग किया जाएगा. सदस्य क्षेत्र पंचायत के नतीजे क्षेत्र पंचायत वार आएंगे.

- सदस्य जिला पंचायत के गुलाबी रंग के मत पत्र अलग किये जाएंगे, सदस्य जिला पंचायत के नतीजे वार्ड वार आएंगे.

- बक्सा खोले जाने के बाद मत पत्र रंग के अनुसार, अलग-अलग किये जाएंगे. रंगों के हिसाब से 50-50 मतपत्रों की गद्दी बनाई जाएगी और इस प्रकार मतपत्रों को इकट्ठा किया जाता है.

- इन सेलेक्टेड मतपत्रों में से रिजेक्टेड मतपत्र अलग किये जाएंगे. हर घण्टे पर नतीजे अनाउंस होते रहते हैं.

- सुबह 8 बजे काउंटिंग शुरू होकर अंतिम परिणाम तक जारी रहेगी. कर्मचारियों की ड्यूटी 8-8 घण्टो की शिफ्ट के हिसाब से होगी.

- प्रत्येक विकास खण्ड से नतीजे बताए जाएंगे. अंतिम परिणाम आने में 36 से 72 घंटे का समय लग सकता है.

- सदस्य जिला पंचायत सदस्य की अधिकतम संख्या होने के कारण सबसे ज़्यादा समय लगता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज