• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • LUCKNOW UP LEAVES BEHIND STATES LIKE RAJASTHAN PUNJAB AND CHHATTISGARH IN CORONA VACCINATION DRIVE UPAT

वैक्सीनेशन के मामले में यूपी ने राजस्थान, पंजाब, छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों को पीछे छोड़ा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आक्रामक नीति की वजह से प्रदेश में तीजी से हो रहा टीकाकरण

Corona Vaccination Drive in UP: अगस्त तक 10 करोड़ लोगों को कोरोना का टीका लगाने का लक्ष्‍य रखा गया है. इसके लिए योगी सरकार ने फुलप्रूफ प्लान बनाया है.

  • Share this:
लखनऊ. कोरोना महामारी (Corona Pandemic) से निपटने के लिए शुरू वैक्सीनेशन (Vaccination) अभियान में यूपी ने राजस्थान, पंजाब और छत्तीसगढ़ को पीछे छोड़ दिया है. सभी आयु वर्गों का टीकाकरण कराने में जहां योगी सरकार ने रोज नई उपलब्धियां हासिल की हैं, वहीं राजस्थान, पंजाब और छत्तीसगढ़ सरकार इसमें फिसड्डी साबित हुई है. इन तीनों राज्यों में वैक्सीनेशन की स्पीड इनती धीमी है कि करोड़ों की संख्या में डोज मिलने के बाद भी आधी से कम आबादी को ही टीका लगाया गया है. राजस्थान, पंजाब और छत्तीसगढ़ राज्यों के मुकाबले 24 करोड़ की आबादी वाले सबसे बड़े राज्य यूपी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आक्रामक टीकाकरण अभियान से महामारी को नियंत्रित करने में सफलता पाई है. अगस्त तक 10 करोड़ लोगों को वैक्सीनेशन कराने का लक्ष्य हासिल करने के लिये योगी सरकार ने फुलप्रूफ प्लान बनाया है, जिसको अमल में लाने के लिए अधिकारी पूरी ताकत से जुट गए हैं.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की देखरेख में महामारी के प्रकोप का मुकाबला करने के लिए बनाई गई रणनीति की दुनिया ने तरीफ की है. आंकड़ों के मुताबिक यूपी ने कोविड 19 के खिलाफ अधिक से अधिक लोगों को सुरक्षा प्रदान करने का काम किया है. यूपी में कोरोना से बचाव के लिए शुरू किए गए वृहद अभियान में अब तक प्रदेश में 2 करोड़ 8 लाख से अधिक डोज लगाए जा चुके हैं. इस माह एक करोड़ डोज वैक्सीन लगाने का लक्ष्य है. 18 से 44 वर्ष तक के आयु वर्ग में भी 30 लाख से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है, जबकि 6.89 करोड़ की आबादी वाले राजस्थान को बीते तीने महीनों में 1.57 करोड़ डोज मिले, लेकिन वो अपने यहां 57 लाख लोगों का ही टीकाकरण करा पाया है. टीकाकरण अभियान में शिथिलता बरतने वाले राज्यों में शामिल पंजाब की आबादी मात्र 2.77 करोड़ है. इसके बावजूद यहां की सरकार 8 लाख लोगों को ही बीमारी से बचाव के लिये सुरक्षा कवर दे पाई है. छत्तीसगढ़ राज्य की आबादी तो पंजाब और राजस्थान से भी काफी कम है, यहां 2.55 करोड़ लोग बसते हैं. इसके बावजूद टीकाकरण की स्पीड यहां इतनी धीमी है कि तीन महीनों में 11 लाख लोगों को ही डोज दी जा सकी है. केन्द्र सरकार ने इस राज्य को 42 लाख डोज तीन महीने में दिए हैं.

यूपी में इतने बूथों पर हो रहा टीकाकरण
यूपी ने टीकाकरण अभियान को गति प्रदान करने के लिए प्रदेश में 18 से 44 वर्ष से ऊपर के लोगों के लिए 5000 सेंटर, 12 साल से कम उम्र के बच्‍चों के अभिभावकों के लिए 200 बूथ और 45 की आयु से ऊपर के लोगों के लिए 3000 सेंटर बनाए गए हैं. महिलाओं के लिए भी यूपी सरकार ने पिंक बूथ बनाए हैं, जहां केवल महिलाओं का वैक्सीनेशन किया जा रहा है.

उत्तर प्रदेश
आबादी- 24 करोड़
वैक्सीनेशन - 2 करोड़ 8 लाख से अधिक डोज लगाए
इस माह- एक करोड़ डोज वैक्सीन लगाने का लक्ष्य
18 से 44 वर्ष तक के आयु वर्ग: 30 लाख से अधिक लोगों को लगाए जा चुके टीके

राजस्थान
आबादी – 6.89 करोड़
वैक्सीनेशन-57 लाख लोगों को दिया सुरक्षा कवर
तीन महीनों में डोज मिले-1.57 करोड़

पंजाब
आबादी – 2.77 करोड़
वैक्सीनेशन- 08 लाख लोगों को दिया सुरक्षा कवर
तीन महीने में मिले डोज- 21 लाख

छत्तीसगढ़
आबादी- 2.55 करोड़
वैक्सीनेशन- 11 लाख लोगों को दिया सुरक्षा कवर
तीन महीने में मिले डोज- 42 लाख