UP: पिछले 24 घंटों में महिलाओं के खिलाफ अपराध में शामिल 23 दोषियों को उम्रकैद

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

Lucknow News: इससे पहले मिशन शक्ति के आरंभ होने के दो दिन के भीतर ही 14 अभियुक्तों को फांसी की सजा से दंडित करवाया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 21, 2020, 1:46 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के निर्देश पर शारदीय नवरात्र में 17 अक्टूबर से प्रदेश भर में चलाए जा रहे विशेष अभियान 'मिशन शक्ति' (Mission Shakti) के सकारात्मक परिणाम सामने आने लगे हैं. प्रदेश के अभियोजन विभाग द्वारा पिछले 24 घंटों में महिला एवं बाल अपराधों में लिप्त 23 अपराधियों को उम्रकैद (Life Imprisonment) की सजा करवाई गई है. इतना ही नहीं 31 अभियुक्तों को कारावास व अर्थदंड जबकि 49 मामलों में अभियुक्तोक की जमानत ख़ारिज करवाई गई. इसके साथ ही 28 गुंडों को जिला बदर किया गया है.

प्रभावी पैरवी से मिल रही सफलता

अपर पुलिस महानिदेशक (अभियोजन) आशुतोष पांडेय ने जानकारी देते हुए बताया कि 'मिशन शक्ति' अभियान के तहत 19 अक्टूबर से 20 अक्टूबर तक बीते 24 घंटे में अभियोजन विभाग के अधिकारियों द्वारा प्रभावी पैरवी के माध्यम से महिलाओं एवं बालक-बालिकाओं के विरुद्ध अपराध के मामले में 23 अभियुक्तों को आजीवन कारावास की सजा कराने, 31 अभियुक्त को कारावास और अर्थदंड से दंडित कराने और 49 मामलों में 51 अभियुक्तों की जमानत ख़ारिज कराने में सफलता हासिल की है. इसके अलावा महल एवं बाल अपराध से जुड़े 28 गुंडों को जिला बदर करा दिया गया है.



सीएम योगी ने दिए हैं सख्त निर्देश
इससे पहले मिशन शक्ति के आरंभ होने के दो दिन के भीतर ही 14 अभियुक्तों को फांसी की सजा से दंडित करवाया गया था. गौरतलब है कि प्रदेश में बढ़ते महिलाओं के खिलाफ अपराध को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने सख्त रुख अपनाया है. उन्होंने पुलिस को महिलाओं के खिलाफ जुड़े अपराधों में तत्परता दिखाने और अभियुक्तों को तेजी से दंडित करने का निर्देश दिया है. जिसके बाद से प्रदेश में 17 अक्टूबर से 25 अक्टूबर तक मिशन शक्ति अभियान चलाया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज