Home /News /uttar-pradesh /

UP Assembly Election 2022: आज तक यूपी की ज‍िन 60 सीटों पर कभी नहीं खिला कमल, इस बार बीजेपी ने बनाया ये मेगा प्लान

UP Assembly Election 2022: आज तक यूपी की ज‍िन 60 सीटों पर कभी नहीं खिला कमल, इस बार बीजेपी ने बनाया ये मेगा प्लान

UP Assembly Election 2022: बीजेपी इन 60 सीटों के लिए बनाया खास प्लान

UP Assembly Election 2022: बीजेपी इन 60 सीटों के लिए बनाया खास प्लान

UP Political News: यूपी चुनाव में पिछली बार हारी हुई सीटो के लिए बीजेपी ने जीत का प्लान बनाया है. यूपी में 60 सीटें ऐसी हैं जहां बीजेपी अभी तक कोई चुनाव नहीं जीती है. 2017 में हारी हुई सीटों को 3 कैटेगरी में डिवाइड किया गया.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) की तैयारियों में जुटी बीजेपी (BJP) कोई कोर कसर नहीं छोड़ने जा रही है. एक-एक सीट को लेकर लगातार रणनीति तैयार की जा रही है. बीजेपी ने अब ऐसी सीटों को लेकर रणनीति बनाई है, जहां अभी तक विधानसभा चुनावों में पार्टी को कभी जीत का स्वाद नहीं मिला है. प्रदेश की ऐसी 60 सीटों को ध्यान में रखकर रणनीति बनाई गई है और पार्टी के दिग्गज नेताओ की ज़िमेदारी उन सीटों पर लगाई जाएगी. दरअसल, 2017 में सहयोगियों के साथ चुनाव लड़ने वाली बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिला था, लेकिन 78 सीटें ऐसी थीं जहां बीजेपी को शिकस्त मिली थी. उनमें से भी 60 सीटें ऐसी हैं जहां आज तक कमल नहीं खिला है.

यूपी चुनाव में पिछली बार हारी हुई सीटोंं के लिए बीजेपी ने जीत का प्लान बनाया है. यूपी में 60 सीटें ऐसी हैं जहां बीजेपी अभी तक कोई चुनाव नहीं जीती है. 2017 में हारी हुई सीटों को 3 कैटेगरी में डिवाइड किया गया. जीत की संभावना के हिसाब से सीटों को कैटेगरी में रखा है. इन सीटों पर बीजेपी के बड़े नेताओं को ज़िम्मेदार दी जाएगी. इसके अलावा 2019 लोकसभा चुनाव में जिन विधानसभाओं में पिछड़े थे, उन पर भी बीजेपी फोकस करेगी .

सीटों को तीन कैटेगरी में बांटा
सीटों की कैटेगरी की अगर बात करें तो पहली जिसमे इस बार जीत की संभावनाएं अधिक हैं. दूसरी जिन पर थोड़ी मेहनत करके संभावनाएं बनाई जा सकती है और तीसरी में ऐसी सीट जिन पर बहुत ज़्यादा ध्यान देने की ज़रूरत है. इन सभी सीटों पर ज़रूरत के हिसाब से नेताओ की ज़िम्मेदारी लगाई जाएगी.

ऐसी कुछ सीटें जहां बीजेपी आज तक नहीं जीती 
अंबेडकर नगर की अकबरपुर, आजमगढ़ की निजामाबाद सीट, सीतापुर की सिधौली सीट, रायबरेली की हरचंदपुर सीट, लखनऊ की मोहनलालगंज सीट, रायबरेली की रायबरेली सदर सीट, कानपुर की सीसामऊ सीट, आजमगढ़ की आजमगढ़ सदर सीट, प्रतापगढ़ की रामपुर खास सीट, इटावा की जसवंतनगर सीट, रायबरेली की ऊंचाहार सीट, जौनपुर की मल्हनी सीट, आजमगढ़ की अतरौलिया सीट, आजमगढ़ की मुबारकपुर सीट आजमगढ़ की गोपालपुर सीट शामिल है. जौनपुर की मल्हनी सीट जो पहले रारी विधानसभा थी वहां भी बीजेपी आज तक कभी नहीं जीती है. इसके अलावा प्रतापगढ़ की कुंडा सीट बीजेपी 1993 के बाद कभी नहीं जीती.

Tags: BJP, UP Assembly Election, UP Assembly Election 2022, UP Assembly Elections 2022

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर