क्‍या लखनऊ में लापता है कोरोना के 8876 पॉज‍िट‍िव मरीज? क्‍या है सच्‍चाई पढ़ें पूरी खबर

उत्‍तर प्रदेश की राजधानी में कोरोना डाटा को लेकर बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है.

Uttar Pradesh News: उत्‍तर प्रदेश की राजधानी में कोरोना डाटा को लेकर बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां सरकारी लैब्‍स में कोरोना मरीजों के अलावा अन्‍य लोगों के मोबाइल नंबर को फीड क‍िया गया. इतना ही नहीं 1-1 मोबाइल नंबर पर 50-50 की संख्या में जांच का डेटा फीड किया गया है. इसकी वजह से असली कोरोना पॉजिटिव ढूंढकर भी नहीं म‍िल रहे हैं.

  • Share this:
उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सरकारी लैबों की बड़ी लापरवाही सामने आई है. यहां की सरकारी लैबों के गलत डाटा फीडिंग की वजह से 8 से ज्‍यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज लापता हो गए हैं. अकेले राजधानी में 8876 कोरोना पॉजिटिव लापता हैं. इसमें सबसे ज्‍यादा गड़बड़ी लोहिया संस्थान, केजीएमयू और पीजीआई के लैब में सामने आई है.

बताया जा रहा है क‍ि इन सरकारी लैबों ने ऐसे लोगों के मोबाइल नंबर फीड कर द‍िए हैं जिन्होंने जांच भी नहीं करवाई. ब‍िना कोरोना जांच वाले लोगों के मोबाइल नंबर भी डेटा में चढ़ा दिए. इतना ही नहीं 1-1 मोबाइल नंबर पर 50-50 की संख्या में जांच का डेटा फीड किया गया है. इसकी वजह से असली कोरोना पॉजिटिव ढूंढकर भी नहीं म‍िल रहे हैं. अकेले लोहिया संस्थान में 4049 लोगों के डेटा गलत फीड किया गया है.

बताया जा रहा है क‍ि लखनऊ के केजीएमयू में 3749 और पीजीआई में 1078 लोगों के गलत डेटा फीड क‍िए गए हैं. इतनाही नहीं हर मरीज़ की गलत आईडी बना दी गई है. अब गलत नंबर फीड होने के मामले की जांच होगी और कई जगहों पर तीमारदारों के ज़रिए ही गलत नंबर फीड कराने की शिकायत भी सामने आई है. इस पूरे मामले में डेटा ऑपरेटर के भूमिका की भी होगी.

CM योगी के 'ट्रिपल टी' मॉडल का असर

उत्‍तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दर को नियंत्रित करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ट्रिपल टी मॉडल यानी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट का असर दिखने लगा है. लगभग 25 करोड़ की आबादी वाले उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 3981 पॉजिटिव केस आए. जबकि कोरोना को मात देकर 11918 मरीज घर पहुंचे। प्रदेश में फ़िलहाल एक्टिव मरीजों की संख्या 76700. उधर देश में सर्वाधिक टेस्ट का सिलसिला उत्तर प्रदेश में जारी रहा. पिछले 24 घंटे में 3.26 लाख कोरोना टेस्ट हुए.

रविवार की तुलना में सोमवार को 900 केस उत्तर प्रदेश में घटे. इसी तरह पिछले 23 दिन में 234000 केस कम हुए. जबकि उत्तर प्रदेश से आधी आबादी के महाराष्ट्र में 26000 केस आए. बेहद छोटे राज्यों में जम्मू कश्मीर में 3600 और उत्तराखंड में 3800 केस आए. मुख्यमंत्री एक बार फिर कोविड-19 समीक्षा बैठकों के लिए मंडलीय दौरे पर निकले. वे दो दिन के दौरे पर गोंडा, आजमगढ़, मिर्जापुर, बनारस और गोरखपुर जाएंगे.