liveLIVE NOW
  • Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • UP News Live Updates: अमित शाह लखनऊ में करेंगे चुनावी रणनीति की समीक्षा, 100 सिटिंग MLA का कटेगा टिकट!

UP News Live Updates: अमित शाह लखनऊ में करेंगे चुनावी रणनीति की समीक्षा, 100 सिटिंग MLA का कटेगा टिकट!

UP News Live Updates: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) 29 को लखनऊ पहुंच रहे हैं. शाह का यह दौरा बेहद खास है. इस दौरान वे बीजेपी के मेगा सदस्यता अभियान (BJP Mega Membership Campaign) की भी शुरुआत करेंगे. साथ ही पार्टी नेताओं के साथ आगे की रणनीति भी तैयार करेंगे. शाह ने ये भी संकेत दे दिए हैं कि पुराने फॉर्मूले के तहत नॉनपरफॉर्मर विधायकों के पत्ते कटने तय हैं. जिनका संगठन से तालमेल नहीं है और जिन विधायकों का फीडबैक ठीक नहीं है, उनकी सूची तैयार हो रही है. खबर है कि भाजपा संगठन इंटरनल सर्वे रिपोर्ट के आधार पर इस बार 312 वर्तमान विधायकों में से एक तिहाई यानी 100 से अधिक सिटिंग विधायकों-मंत्रियों के टिकट काट सकता है.

  • News18 Uttar Pradesh
  • | October 28, 2021, 13:33 IST
    facebookTwitterLinkedin
    LAST UPDATED A MONTH AGO

    AUTO-REFRESH

    हाइलाइट्स

    14:30 (IST)
    सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने दीपावली (Diwali) के त्योहार को देखते हुए अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं. उन्होंने अधिकारियों से कहा है कि, दीपावली के लिए पटाखों की दुकान (Firecracker Shop) आबादी से दूर लगाया जाना सुनिश्चित कराएं. जहां पटाखों का क्रय/विक्रय हो, वहां फायर टेंडर के पर्याप्त इंतज़ाम किए जाएं. पुलिस बल की सक्रियता भी बनी रहे. दीपावली खुशियों का त्योहार है. यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रदेश के सभी सरकारी, अर्धसरकारी, संविदा, आउटसोर्सिंग कर्मचारियों के अक्टूबर माह का वेतन/मानदेय प्रत्येक दशा में 01 नवंबर तक भुगतान कर दिया जाए. हाल के दिनों में सब्जी, खाद्य तेल, दाल आदि के मूल्य में अनापेक्षित बढ़ोतरी देखी जा रही है.

    13:26 (IST)
    उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) की रणनीतियों और तैयारियों के मंथन के लिए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) 29 को लखनऊ पहुंच रहे हैं. शाह का यह दौरा बेहद खास है. इस दौरान वे बीजेपी के मेगा सदस्यता अभियान (BJP Mega Membership Campaign) की भी शुरुआत करेंगे. साथ ही पार्टी नेताओं के साथ आगे की रणनीति भी तैयार करेंगे. शाह ने ये भी संकेत दे दिए हैं कि पुराने फॉर्मूले के तहत नॉनपरफॉर्मर विधायकों के पत्ते कटने तय हैं. जिनका संगठन से तालमेल नहीं है और जिन विधायकों का फीडबैक ठीक नहीं है, उनकी सूची तैयार हो रही है. खबर है कि भाजपा संगठन इंटरनल सर्वे रिपोर्ट के आधार पर इस बार 312 वर्तमान विधायकों में से एक तिहाई यानी 100 से अधिक सिटिंग विधायकों-मंत्रियों के टिकट काट सकता है.

    13:20 (IST)
    श्रीलंका के राजदूत और दो मंत्री अशोक वाटिका की शिला लेकर रामलला के दरबार पहुंचे. राजदूत और मंत्री ने रामलला के दरबार में अशोक वाटिका की शिला को  समर्पित कर दिया है और राम लला की आरती उतारी है. इस अवसर पर मंदिर में अयोध्या के वरिष्ठ संत भी उपस्थित रहे. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, सदस्य डॉ. अनिल मिश्रा, सांसद लल्लू सिंह नगर विधायक वेद प्रकाश गुप्ता ने श्रीलंका से आए मेहमानों का स्वागत किया. मेहमान राज सदन में दोपहर 1:00 बजे  भोजन करेंगे और लगभग 1:30 बजे लखनऊ के लिए रवाना हो जाएंगे. 

    12:58 (IST)
    महंगाई से राहत देने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ी बैठक बुलाई है. शाम 5.30 बजे सीएम आवास पर बुलाई गई बैठक में डीजल-पेट्रोल पर लगने वाले वैट पर चर्चा होगी. वित्त विभाग के अधिकारियों की भी मुख्यमंत्री ने बैठक बुलाई है. जमाखोरी, कालाबाजारी को रोकने के लिए मुख्यमंत्री कड़े फैसले कर सकते हैं.   

    12:00 (IST)
    गौतमबुद्ध नगर (Gautam Buddha Nagar) के जिलाधिकारी सुहास एल. वाई (Suhas L Y) ने टोक्यो पैरालंपिक्स में सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रच दिया था. नेशनल स्पोर्ट्स अवॉर्ड्स कमेटी ने सुहास एल वाई का नाम अर्जुन अवार्ड (Arjuna Award) के लिए प्रस्तावित किया है. अर्जुन अवार्ड के लिए टोक्यो ओलंपिक और पैरालंपिक (Tokyo Paralympics) में मेडल जीतने वाले अन्य खिलाड़ियों का भी नाम शामिल है. लेकिन पैरालंपिक्स में शानदार प्रदर्शन करने वाले डीएम सुहास एल. वाई के लिए यह बेहद खास होगा. अर्जुन अवार्ड के लिए उनके नाम की सिफारिश कर दी गई है. फिलहाल अभी अंतिम निर्णय होना बाकी है, लेकिन माना जा रहा है कि अगर उन्हें अर्जुन अवार्ड से नवाजा जाता है तो वह देश के पहले आईएएस होंगे जिन्हें इस खिताब से नवाजा जाएगा. 

    9:47 (IST)
    उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव 2022 (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) की तैयारियों में जुटे सभी राजनीतिक दल अपनी ताकत का एहसास करा रहे हैं. बुधवार को निषाद पार्टी ने भी गोरखपुर में अपना दम दिखाया. चंपा देवी पार्क में सम्मान समारोह के बहाने निषाद वोट बैंक पर संजय निषाद (Sanjay Nishad) ने अपना अधिकार जमा दिया. पार्टी कार्यकर्ताओं ने संजय निषाद का नोटों की माला पहनाकर स्वागत किया. संजय निषाद ने आरक्षण के मुद्दे कहा कि, ‘बीजेपी की सरकार हमारी आरक्षण के मांग पर तेजी से काम कर रही है और जल्द ही हम लखनऊ में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के साथ एक मंच पर इसकी घोषणा करेंगे. 

    8:46 (IST)
    बीजेपी सभी जिलों में नवंबर में किसान ट्रैक्टर रैली निकालेगी. यह रैली भाजपा किसान मोर्चा निकालेगा. किसान ट्रैक्टर पर सवार होकर कार्यकर्ता जिले में मोदी-योगी सरकार की किसान कल्याण योजनाओं का प्रचार-प्रसार करेंगे. ट्रैक्टर रैली के जरिए योगी सरकार की ओर से गन्ना मूल्य में वृद्धि, बिजली के बिल जमा करने में दी गई छूट, पराली जलाने के मुकदमे वापस लेने सहित किसानों से जुड़े महत्वपूर्ण फैसलों को किसानों के बीच बताया जाएगा. साथ ही कार्यकर्ता कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे संगठनों का भी पर्दाफाश करेंगे. 10 नवंबर तक 50 लाख किसानों के बीच किसान चौपाल लगाई जाएगी. दिसंबर में सभी 403 विधानसभा क्षेत्रों में किसान सम्मेलन आयोजित किए जाएंगे. सम्मेलन में स्थानीय विधायक, सांसद और किसान मोर्चा के पदाधिकारियों के साथ क्षेत्र के किसान भी शामिल होंगे.  

    8:07 (IST)
    एनकाउंटर में शातिर अपराधी रवि जायसवाल उर्फ रिंकू कचौड़ी के पैर में प्रयागराज में गोली लग गई. मुठभेड़ देर रात कर्नलगंज इलाके में यह मुठभेड़ हुई है. रिंकू के खिलाफ 19 मुकदमें दर्ज हैं. पुलिस की जवाबी फायरिंग में बदमाश रिंकू कचौड़ी के पैर में गोली लगी है.  

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) की रणनीतियों और तैयारियों के मंथन के लिए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) 29 को लखनऊ पहुंच रहे हैं. शाह का यह दौरा बेहद खास है. इस दौरान वे बीजेपी के मेगा सदस्यता अभियान (BJP Mega Membership Campaign) की भी शुरुआत करेंगे. साथ ही पार्टी नेताओं के साथ आगे की रणनीति भी तैयार करेंगे. शाह ने ये भी संकेत दे दिए हैं कि पुराने फॉर्मूले के तहत नॉनपरफॉर्मर विधायकों के पत्ते कटने तय हैं. जिनका संगठन से तालमेल नहीं है और जिन विधायकों का फीडबैक ठीक नहीं है, उनकी सूची तैयार हो रही है. खबर है कि भाजपा संगठन इंटरनल सर्वे रिपोर्ट के आधार पर इस बार 312 वर्तमान विधायकों में से एक तिहाई यानी 100 से अधिक सिटिंग विधायकों-मंत्रियों के टिकट काट सकता है.

    निषाद पार्टी के नेता संजय निषाद (Sanjay Nishad) ने आरक्षण के मुद्दे कहा कि, ‘बीजेपी की सरकार हमारी आरक्षण के मांग पर तेजी से काम कर रही है और जल्द ही हम लखनऊ में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के साथ एक मंच पर इसकी घोषणा करेंगे. संजय ने कहा कि, निषाद पार्टी (Nishad Party) के सभी मुद्दे मछुआ SC आरक्षण, तालघाट बालू का मुद्दा, कार्यकर्ताओं पर दर्ज राजनैतिक मुकदमों की वापसी, बहन वीरांगना फूलन देवी की मौत की सीबीआई जांच और विरासत की जांच के मामले पर सहमति बन गई है और जल्द ही सच समाज के सामने होगा. विकासशील इंसान पार्टी यानी वीआईपी के यूपी विधानसभा चुनाव लड़ने पर संजय ने कहा कि, ‘उनका जब वहां बिहार में कोई आस्तित्व नहीं है तो यहां पर क्या होगा. निषादों का सबसे अधिक नुकसान कांग्रेस ने किया है. कांग्रेस ने उन्हें आरक्षण नहीं दिया, जबकि सपा की सरकार के दौरान निषादों पर गोलियां चलाई गईं थीं.’

    एआईएमआईएम (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) बुधवार को मुजफ्फरनगर में एसपी, कांग्रेस और बीजेपी पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा कि 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में AIMIM अपने प्रत्याशियों को उतारेगी. ओवैसी ने कहा कि, जिस समाज के पास उसके नेता हैं, उन्हीं की समस्याओं को हल किया जाता है. ओवैसी ने कहा कि, सितंबर 2013 में मुजफ्फरनगर में फसाद हुआ था. मुजफ्फरनगर दंगे का जिक्र करते हुए ओवैसी ने कहा कि अपनी वोट से अपनी आवाज को मजबूत करना होगा.

    असदुद्दीन ओवैसी ने पूछा कि सपा की सरकार में 70 के करीब मुसलमान जीतकर आये थे तो मुज़फ्फरनगर दंगा कैसे हुआ? उन्होंने कहा कि जितने मुसलमान एमएलए जीतकर आए थे, उनकी जुबान पर ताला लगा दिया गया था. ओवैसी ने कहा कि बंटवारे के बाद मुजफ्फरनगर में सबसे बड़ा कांड हुआ था. ओवैसी ने कहा कि कब तक लोग सपा, बसपा, कांग्रेस और RLD के लिए दरी बिछाते रहेंगे. AIMIM सुप्रीमो ने कहा कि 19 फीसद मुसलमान मोहताज है. उन्होंने कहा कि उनकी जिंदगी का एक ही मकसद है, गरीब मुसलमान की सियासी आवाज होनी चाहिए. ओवैसी ने कहा कि मुजफ्फरनगर के मुसलमान ने कभी बीजेपी का साथ नहीं दिया. AIMIM के चीफ ने कहा कि मेरठ का फसाद हुआ, हाशिमपुरा मलियाना का फसाद हुआ था तो कहा गया भूल जाओ. अब कहा जा रहा है कि मुजफ्फरनगर का फसाद भूल जाओ. इन नाइंसाफियों को भूल जाएंगे तो दोबारा नाइंसाफी होगी.

    ओवैसी ने कहा कि CAA और NRC के विरोध में प्रोटेस्ट के लिए जनता को सलाम करता हूं. हम नाइंसाफी को बर्दाश्त नहीं करेंगे. मजलिस के 2 सांसद संसद की दरो-दीवार को हिला देते हैं. ओवैसी ने कहा कि भारत की सियासत की हकीकत जिसकी लाठी उसकी भैंस है. ओवैसी ने कहा कि जाटों ने बीजेपी को वोट दिया. जाट ने अजीत सिंह को हरा दिया. अब यूपी के मुसलमान उस सियासी रिवायत को छोड़ेंगे. आपके ख्वाब आप पूरा करेंगे. हम चाह रहे हैं योगी की सरकार दोबारा न बने. शब्दों के तीर चलाते हुए उन्होंने सपा को शैतान का एजेंट करार दे दिया.

    ओवैसी ने कहा कि बीजेपी 2014, 2017 और 2019 में कैसे जीती. इस बार आप गलती न करें. उन्होंने कहा कि कौन से सेक्युलरिज्म की बात करते हो. पाकिस्तान इंडिया के मैच का जिक्र करते हुए ओवैसी ने कहा कि बदकिस्मती से भारत हार गया, इल्जाम लगा शमी पर. 11 की टीम थी लेकिन शमी पर जिम्मेदारी डाल दी गई. शमी पर इल्जाम लगा तो पड़ोसी मुल्क का मंत्री पागल हो गया. हमारे बुजुर्ग पाकिस्तान नहीं गए, नहीं तो इन पागलों को झेलना पड़ता. उन्होंने कहा कि चीन ने 20 लाख मुसलमानों को कैद कर रखा है.

    मोदी सरकार एनपीआर लागू करेगी
    ओवैसी ने कहा कि त्रिपुरा में 5 दिन में 15 मस्जिद को नुकसान पंहुचाया गया. उन्होंने कहा कि, प्रधानमंत्री से कहते हैं कि इसको रोकें. प्रधानमंत्री जी कम से कम ट्वीट तो कर दो. उन्होंने कहा कि मुजफ्फरनगर में विकास नहीं हुआ. बाबा बहुत लंबी लंबी छोड़ते हैं. मुज़फ्फरनगर दंगों का जिक्र करते हुए ओवैसी ने कहा कि मुजफ्फरनगर फसाद के 70 मुकदमे वापस ले लिए गए. सैनी को बरी कर दिया गया. नाइंसाफियों से आजाद सियासत के लिए आपके पास आया हूं. उन्होंने एक मीडिया का रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि मोदी सरकार एनपीआर लागू करेगी. एनपीआर लागू होगा तो खुदा की कसम हम शांत नहीं बैठेंगे. अपनी आवाज को मजबूत करिए.

    ओवैसी ने कहा कि, दाढ़ी कटाकर सपा में कुछ लोग चले गए हैं. दलबदल की सियासत से काम नहीं चलेगा. ओवैसी ने कहा कि, ‘जितना हम मोदी के बारे में बोलते हैं शायद ही कोई बोलता हो. मुलायम सिंह मोदी से गले लगते हैं. पेट्रोल की कीमतें जनता का खून चूस रही हैं. मोदी जी क्या आपको गरीबों से मोहब्बत नहीं है.’ सपा, बसपा और कांग्रेस पर हमलावर होते हुए ओवैसी ने कहा कि कलीम पर क्यों नहीं बोलते. उन्होंने कहा कि जनता के बगैर नेता ठेंगा रहता है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन