• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Terror Module Case: जानिए कैसे और कहां से प्रयागराज पहुंची IED, किसके पास थी धमाकों की जिम्मेदारी  

Terror Module Case: जानिए कैसे और कहां से प्रयागराज पहुंची IED, किसके पास थी धमाकों की जिम्मेदारी  

दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल और यूपी एटीएस की टीम ने ज्‍वाइंट ऑपरेशन में 6 आतंकियों को ग‍िरफ्तार क‍िया है. (फाइल फोटो)

दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल और यूपी एटीएस की टीम ने ज्‍वाइंट ऑपरेशन में 6 आतंकियों को ग‍िरफ्तार क‍िया है. (फाइल फोटो)

UP News: आईएसआई के नेटवर्क के जरिए कश्मीर से लखनऊ में आमिर के पास पहुंची थी आईईडी डिवाईस। एक हफ्ते रखने के बाद आमिर ने ये आईईडी प्रयागराज में जीशान के पास पहुंचा दी.

  • Share this:

लखनऊ. अंडरवर्ल्ड और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) प्रायोजित आतंकवाद के कनेक्शन को नई दिल्ली स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) और यूपी एटीएस (UP ATS) ने  बेनकाब कर दिया है. जिसके बाद पकड़े गए संदिग्धों से आतंकवादी हमले की परतें खुलने लगी है. जानकारी के मुताबिक आतंक की वारदात को अंजाम देने के लिए दो टीमें बनाई गई थी. पहली अनीस इब्राहिम के इशारे पर चलने वाली मुंबई अंडरवर्ल्ड से जुड़ी टीम है. जिसका सबसे खास मोहरा था समीर कालिया तो दूसरी टीम ने नई दिल्ली में अपना बेस बना रखा था. यहां ओसामा आईएसआई का चेहरा था और आईएसआई के इशारे पर अपने चालें चल रहा था.

आईएसआई के नेटवर्क के जरिए कश्मीर से लखनऊ में आमिर के पास पहुंची थी आईईडी डिवाईस। एक हफ्ते रखने के बाद आमिर ने ये आईईडी प्रयागराज में जीशान के पास पहुंचा दी. जानकारी मिली है कि आमिर के परिवार की एक लड़की की शादी प्रयागराज में जीशान के मोहल्ले में हुई है. जिसके बाद आमिर और जीशान संपर्क में आए. वहीं मुंबई में बैठा अंडरवर्ल्ड का समीर कालिया प्रतापगढ़ के इम्तियाज़ उर्फ कल्लू के संपर्क में था. कल्लू से रायबरेली के ऊंचाहार के मूलचंद लाला और जमील खत्री जुड़े थे. प्रयागराज से बरामद आईईडी को नई दिल्ली में डिलीवर करने की जिम्मेदारी अंडरवर्ल्ड के पास थी. इसकी डेलिवरी अंडरवर्ल्ड से जुड़े मूलचंद को करना था.

अंडरवर्ल्ड के  नेटवर्क के जरिएआईईडी को पहुंचाया जाना था दिल्ली
अब समीर कालिया को अपने अंडरवर्ल्ड के  नेटवर्क के जरिए इस आईईडी को प्रयागराज से नई दिल्ली पहुंचाना था. प्रयागराज में जीशान से आईईडी लेकर नई दिल्ली तक पहुंचाने का काम मूलचंद लाला, इम्तियाज़ उर्फ कल्लू और जमील खत्री का था. हालांकि अभी तक नई दिल्ली स्पेशल सेल ने इम्तियाज़ और जमील की भूमिका का खुलासा नहीं किया है, लेकिन सूत्रों ने कंफर्म किया है कि इन दोनों से पूछताछ हुई है. यूपी एटीएस ने इम्तियाज़, जमील और ताहिर को दिल्ली स्पेशल सेल के हवाले कर दिया था.
उधर ब्लास्ट की फाईनल प्लानिंग के लिए समीर कालिया मुंबई से नई दिल्ली के लिए ट्रेन से चला था, लेकिन रास्ते में ही राजस्थान के कोटा से समीर को स्पेशल सेल ने गिरफ्तार कर लिया।

समीर कालिया को करवाना था धमाके
समीर नई दिल्ली पहुंचकर ओसामा से मीटिंग करता. आईएसआई के इशारे पर ओसामा समीर को टारगेट बताता और अपने नेटवर्क के जरिए समीर इस आईईडी को प्लांट करवाता और धमाका करवाता. लेकिन दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और यूपी एटीएस ने आईएसआई और अंडरवर्ल्ड के मंसूबों को नाकामयाब कर दिया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज