यूपी पंचायत चुनाव की 2 और 3 मार्च को जारी होने जा रही आरक्षण सूची

सांकेतिक फोटो.

सांकेतिक फोटो.

UP Panchayat Chunav: उत्तर प्रदेश के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव काे लेकर प्रदेश सरकार ने आरक्षण की सूची जारी करने की तारीख 15 मार्च तय बताई है. लेकिन न्यूज़ 18 आपको बता रहा है कि आज बुधवार से छठे दिन आरक्षण की सूची सभी जिलों में आ जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2021, 6:06 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. पिछले दो महीने से जिस दिन का इंतजार किया जा रहा था वो दिन बस आने ही वाला है. सभी को बेसब्री से इस बात का इंतजार है कि यूपी पंचायत चुनावों (UP Panchayat Elections 2021) में सीटों के आरक्षण की सूची (Reservation List) कब जारी होगी? सरकार ने सूची जारी करने की तिथि 15 मार्च बताई है लेकिन, न्यूज़ 18 आपको बता रहा है कि आज बुधवार से छठे दिन आरक्षण की सूची सभी जिलों में आ जाएगी. बहुत से जिलों में तो आरक्षण का चार्ट तैयार हो गया है. इसे बस चेक किया जा रहा है, जिससे कोई गलती न हो जाए.

पंचायत चुनावों में जिला पंचायत अध्यक्षों के आरक्षण की सूची जारी हो गई है. बाकी 5 सीटों के लिए आरक्षण की सूची 2 और 3 मार्च को हर जिले में जिलाधिकारी जारी कर देंगे. आरक्षण की ये पहली सूची होगी. ये सही बात है कि फाइनल सूची 15 मार्च को आयेगी लेकिन, गौर करने वाली बात ये है कि अमूमन पहली सूची और आखिरी सूची में कोई बदलाव नहीं होता है.

पंचायती राज निदेशालय में उप निदेशक और चुनाव के नोडल अधिकारी बनाये गये आरएस चौधरी ने न्यूज़ 18 को बताया कि ऐसा नहीं है कि पहली सूची जारी करने में कोई हड़बड़ी होती है. जिलों में शासनादेश के मुताबिक कई बार चेक करके पहली सूची जारी की जाती है. इसमें गलती की कोई संभावना नहीं होती है. इसलिए इस सूची और आखिरी सूची में अमूमन कोई बदलाव नहीं होता है.

Youtube Video

पहली सूची 2, 3 मार्च को तो आखिरी 15 को क्यों?

सवाल जायज है. आखिर किन वजहों से 13 दिन का अतिरिक्त समय लगाया जा रहा है जबकि सूची में कोई बदलाव नहीं होता है. असल में आरक्षण के लिए जारी शासनादेश में इस बात का प्रावधान है कि जिला प्रशासन के द्वारा आरक्षण की सूची जारी किये जाने के बाद आम जनता से इस पर आपत्तियां मागी जाती है. ऐसा इसलिए क्योंकि यदि किसी को कोई गलती लग रही हो तो उसका समाधान किया जा सके. 3 मार्च को सूची जारी किये जाने के बाद से लेकर 12 मार्च तक लोगों की आपत्तियों का समाधान किया जायेगा. इसीलिए पहली सूची और आखिरी सूची में 12 दिन का गैप हो जा रहा है. इसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता.

सरकार को 24 अप्रैल से पहले ही पंचायत के चुनाव करा लेने हैं. इसके लिए जोर-शोर से तैयारियां चल रही हैं. 15 मार्च को आरक्षण की सूची जारी होने के बाद राज्य निर्वाचन आयोग चुनाव की डेट एनाउन्स करेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज