अपना शहर चुनें

States

UP Panchayat Chunav: जल्द जारी होगी 71 जिलों की वोटर लिस्ट, नोएडा सहित इन 4 जिलों का नंबर अभी नहीं

जिला निर्वाचन कार्यालय स्टाफ सॉफ्टवेयर को अपडेट कराने की तैयारी में जुट गया है.
जिला निर्वाचन कार्यालय स्टाफ सॉफ्टवेयर को अपडेट कराने की तैयारी में जुट गया है.

उत्तर राज्य निर्वाचन आयोग जल्द पंचायत चुनाव को लेकर वोटर लिस्ट जारी करेगा. पहले 71 जिलों की ग्राम पंचायतों की वोटरलिस्ट जारी होगी. इसके बाद नोएडा समेत चार अन्य जिलों की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2021, 6:16 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव (UP Panchayat election) को लेकर अब सरकारी स्तर पर भी तेजी दिखने लगी है. चुनाव को मार्च और अप्रैल के मध्य कराए जाने की चर्चाएं हैं. इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि राज्य निर्वाचन आयोग (State election commission) प्रदेश के चार जिलों को छोड़कर बाकी सभी 71 जिलों की मतदाता सूचियों को जारी करने जा रहा है. बताया गया है कि पंचायत चुनाव के लिए गौतमबुद्धनगर समेत गोंडा, संभल व मुरादाबाद (Gautam Buddha Nagar, Gonda, Sambhal and Moradabad) को छोड़कर बाकी 71 जिलों की वोटर लिस्ट राज्य निर्वाचन आयोग जल्द जारी करेगा. यह मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन होगा. गौतमबुद्धनगर, गोंडा, संभल एवं मुरादाबाद में परिसीमन कार्यक्रम के कारण की मतदाता सूची तैयार करने के लिए विशेष पुनरीक्षण अभियान चलाएगा.

चलेगा विशेष पुनरीक्षण अभियान

बताया गया है कि प्रदेश सरकार द्वारा वर्ष 2011 की जनसंख्या के आधार पर परिसीमन किया गया था. इसके बाद अब जहां गोंडा, संभल, मुरादाबाद व गौतमबुद्धनगर जिले की मतदाता सूची तैयार की जानी है वहीं परिसीमन से 35 जिलों के आंशिक रूप से प्रभावित 170 ग्राम पंचायतों की मतदाता सूची को भी तैयार होना है. सूत्रों के अनुसार इसको लेकर आयोग विशेष पुनरीक्षण अभियान चलाने को लेकर अधिसूचना एक-दो दिन में जारी कर सकता है. मतदाता सूची के विशेष पुनरीक्षण में अधिकतम 45 दिन लग सकते हैं.



चार जिलों की सूची बाद में
बताया गया है कि उत्तर प्रदेश के चार जिलों को छोड़कर बाकी 71 जिलों की मतदाता सूची को जल्द जारी कर दिया जाएगा. इसको लेकर जिलों से बीएलओ द्वारा सूची को अंतिम रूप दे दिया गया है. इसको फायनल किया जा रहा है. इसके बाद ही मतदाता सूची को प्रकाशित कर आपत्तियां मांगे जाने का काम शुरू कर दिया जाएगा.

सॉफ्टवेयर हो रहा अपडेट

राज्य निर्वाचन आयोग ने कार्यक्रम के अनुसार अंतिम प्रकाशन की तारीख 22 जनवरी तय की थी. लेकिन नए परिसीमन के हिसाब से सॉफ्टवेयर को अपडेट करने में थोड़ा समय लग गया. राज्य निर्वाचन आयोग की ओरे से जिला निर्वाचन अधिकारियों को ग्राम पंचायतों के मतदाताओं के परिसीमन के बाद सॉफ्टवेयर अपडेड करने को कहा है. इस काम को पांच फरवरी तक पूरा कराने की डेडलाइन दी गई है.आयोग से मिले निर्देश के बाद जिला निर्वाचन कार्यालय स्टाफ सॉफ्टवेयर को अपडेट कराने की तैयारी में जुट गया है जिससे समय से काम को पूरा कराया जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज