UP Panchayat Chunav 2021: हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में फिर दाखिल हुई पुनर्विचार याचिका, जानें क्या है पूरा मामला

3 अप्रैल से पहले चरण की नामांकन (nomination) की प्रक्रिया शुरू होगी. (सांकेतिक फोटो)

3 अप्रैल से पहले चरण की नामांकन (nomination) की प्रक्रिया शुरू होगी. (सांकेतिक फोटो)

UP Gram Panchayat Elections 2021: सुप्रीम कोर्ट से निराशा हाथ लगने के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में पुनर्विचार याचिका दाखिल की गई है, जिस पर सुनवाई अब होली के बाद होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2021, 10:23 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. वैसे तो सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) से याचिका ख़ारिज होने के बाद यूपी पंचायत चुनाव (UP Panchayat Chunav 2021) को लेकर अधिसूचना जारी कर दी गई है, लेकिन एक बार फिर आरक्षण का मामला हाईकोर्ट (High Court) पहुंच गया है. सुप्रीम कोर्ट से निराशा हाथ लगने के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में पुनर्विचार याचिका दाखिल की गई है, जिस पर सुनवाई अब होली के बाद होगी. गौरतलब है कि हाईकोर्ट ने 2015 को आधार पर सीटों के आवंटन और आरक्षण का आदेश दिया था. जिसको सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई थी.

बता दें की 15 मार्च को हाईकोर्ट द्वारा जारी आदेश के खिलाफ सीतापुर जिले के बिसवां निवासी दिलीप कुमार ने सुप्रीम कोर्ट में विशेष याचिका दाखिल कर चुनौती दी थी. इसमें उत्तर प्रदेश सरकार तथा पंचायती राज विभाग के साथ-साथ राज्य निर्वाचन आयोग भी पक्षकार बनाया गया था. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने 26 मार्च को याचिका ख़ारिज कर दी. वहां से निराशा हाथ लगने के बाद एक बार फिर लखनऊ बेंच में पुनर्विचार याचिका दाखिल की गई है. इसकी सुनवाई होली बाद होनी है.

चार चरणों में होगा चुनाव

गौरतलब है कि यूपी पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी गई है. चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है. चार चरण में मतदान होगा। 15 अप्रैल को पहले चरण की वोटिंग होगी। दूसरे चरण का चुनाव 19 अप्रैल, तीसरा चरण 26 अप्रैल, चौथे चरण का चुनाव 29 अप्रैल को होगा. वोटों की गिनती दो मई को होगी. 3 अप्रैल से पहले चरण के लिए नामांकन की  प्रारंभ हो रही है. राजधानी लखनऊ में दूसरे चरण यानी 19 अप्रैल को मतदान होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज