Assembly Banner 2021

यूपी पुलिस का कुम्हारों को दीवाली का तोहफा, हर थाने में जलेंगे मिट्टी के दिये

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने दीवाली पर प्रदेश के सभी थानों में मिट्टी के दिये प्रज्जवलित करने का निर्देश दिया है.

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने दीवाली पर प्रदेश के सभी थानों में मिट्टी के दिये प्रज्जवलित करने का निर्देश दिया है.

डीजीपी (DGP) ने पूरे प्रदेश में धनतेरस त्यौहार के अवसर पर पैदल गश्त के भी निर्देश दिए हैं. डीजीपी ने सभी जोनल अपर पुलिस महानिदेशक, परिक्षेत्रीय पुलिस महानिरीक्षक/पुलिस उपमहानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक प्रभारी जनपद ये निर्देश भेजे हैं.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह (DGP OP Singh) ने दीवाली (Diwali) पर प्रदेश के कुम्हारों (Potters) को तोहफा दिया है. दरअसल ये तोहफा डीजीपी का एक आदेश है. डीजीपी द्वारा प्रदेश के सभी जिलों के एसपी/एसएसपी को निर्देश भेजे गए हैं कि दीवाली के त्यौहार पर मिट्टी के दियों (Earthen Lamp) से सभी थानों (Every Police Station) को प्रज्जवलित करें. उन्होंने कहा कि इसके लिए स्थानीय छोटे दुकानदारों और फुटकर विक्रेताओं से मिट्टी के दिये खरीदें.

धनतेरस पर पूरे प्रदेश में गश्त के निर्देश

इसके अलावा डीजीपी ने पूरे प्रदेश में धनतेरस त्यौहार के अवसर पर पैदल गश्त के निर्देश दिए हैं. डीजीपी ने सभी जोनल अपर पुलिस महानिदेशक, परिक्षेत्रीय पुलिस महानिरीक्षक/पुलिस उपमहानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक प्रभारी जनपद ये निर्देश भेजे हैं. उन्होंने कहा है कि धनतेरस के अवसर पर बाजार, सर्राफा की दुकानों, शापिंग मॉल, वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों, बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन, टैम्पो स्टैंड आदि भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर पैदल गश्त अभियान चलाएं.



UP Police tweet
यूपी पुलिस का ट्वीट

शाम 6 बजे से तीन घंटे सड़क पर गश्त करते नजर आएंगे कप्तान

निर्देशों के अनुसार पूरे प्रदेश में आज शाम 6 बजे से 9 बजे तक पैदल गश्त होगी. गश्त में सभी अधिकारी और कर्मचारी शामिल होंगे. गश्त के दौरान संदिग्ध वाहनों/व्यक्तियों की चेकिंग के साथ-साथ गश्त/पिकेट ड्यिूटी में लगे पुलिसकर्मियों का भी आकस्मिक निरीक्षण कर उन्हें भली-भांति ब्रीफ किया जाये.
पैदल गश्त के दौरान एन्टी रोमियों स्क्वाड में लगा पुलिस बल और सादे वस्त्रों में महिला/पुरूष पुलिस कर्मियों द्वारा भी गश्त किया जाये.

पैदल गश्त के दौरान जनता से भी सम्पर्क कर उन्हें किसी स्थान पर लावारिस वस्तु/संदिग्ध व्यक्ति या संदिग्ध गतिविधि दिखायी देने पर उसकी सूचना तत्काल स्थानीय पुलिस/यूपी 100 पर देने हेतु जागृत किया जाये. सर्राफा बाजार एवं वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों के प्रबन्धकों/स्वामियों से सम्पर्क स्थापित कर अपेक्षित सहयोग लिया जाए.

ये भी पढ़ें:

कमलेश तिवारी हत्याकांड: मौलाना के बाद एक वकील भी गिरफ्तार

FB पर प्यार में मुंबई की मोहसिना बन गई खुशी, करवाचौथ पर लखनऊ में दर्दनाक अंत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज