• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Board परीक्षाओं को लेकर यूपी पुलिस की पहल, पढ़ाई के दौरान शोरगुल से हों परेशान तो डायल करें 112

Board परीक्षाओं को लेकर यूपी पुलिस की पहल, पढ़ाई के दौरान शोरगुल से हों परेशान तो डायल करें 112

यूपी पुलिस की 112 सेवा ने बोर्ड एग्जाम को देखते हुए नई पहल की है.

यूपी पुलिस की 112 सेवा ने बोर्ड एग्जाम को देखते हुए नई पहल की है.

बोर्ड परीक्षाओं (Board Examinations) में शामिल हो रहे छात्र एवं छात्राएं अगर शोरगुल से डिस्टर्ब हो रहे हैं तो वे यूपी पुलिस की 112 सेवा पर कॉल कर शिकायत कर सकते हैं. बच्चों की पढ़ाई के लिए पुलिस फौरन मौके पर पहुंचेगी और शोरगुल बंद कराएगी.

  • Share this:
    लखनऊ. बोर्ड परीक्षाओं (Board Examinations) को देखते हुए यूपी पुलिस (UP Police) ने नई पहल की है. यूपी पुलिस पूरे प्रदेश में परीक्षाओं को देखते हुए 15 फरवरी से 31 मार्च तक विशेष अभियान चलाने जा रही है. इसके तहत बोर्ड परीक्षाओं में शामिल हो रहे छात्र एवं छात्राएं अगर शोरगुल से डिस्टर्ब हो रहे हैं तो वे यूपी पुलिस की 112 सेवा पर कॉल कर शिकायत कर सकते हैं. बच्चों की पढ़ाई के लिए पुलिस फौरन मौके पर पहुंचेगी और शोरगुल बंद कराएगी.

    यही नहीं समझाने के बाद भी नियमों का उल्लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी. बता दें प्रदेश में सहालग भी चल रही है. ऐसी स्थिति में पुलिस के लिए इसे लागू करना बड़ी चुनौती होगी.



    हालांकि दावा ये किया गया है कि बच्चों की पढ़ाई के लिए चाहे बैंड-बाजा हो या अन्य शोरगुल, पुलिस इसे बंद कराएगी. निर्धारित मानक से अधिक आवाज होने पर यूपी पुलिस कार्रवाई करेगी.

    ऐसे ले सकते हैं मदद
    अगर किसी छात्र को तेज आवाज के कारण पढ़ाई में दिक्कत हो रही है तो वह 112 र कॉल कर सकता है या सोशल मीडिया के अन्य माध्यमों से पुलिस से सहायता ले सकता है. ध्वनि प्रदूषण के खिलाफ ये अभियान पूरे प्रदेश में एक साथ चलेगा. 112 पर कॉल आते ही शिकायत दर्ज कर पुलिस रिस्पांस व्हीकल (PRV) को तत्काल मौके पर भेजा जाएगा. पीआरवी मौके पर जाकर ध्वनि प्रदूषण को बंद करने के लिए निर्देश देगी. उसे चेतावनी देकर छोड़ा जा सकता है. लेकिन ऐसे लोग और संस्थाएं जो निर्देश के बाद भी ध्वनि प्रदूषण फैलाते हुए बच्चों की पढ़ाई में व्यवधान पैदा करेगे तो उनके खिलाफ संबंधित थाना स्तर पर कार्रवाई की जाएगी.

    डीजीपी बोले- उम्मीद है अभियान से ध्वनि प्रदूषण को लेकर जागरूकता बढ़ेगी
    इस संबंध में प्रदेश के डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने कहा कि इस अभियान का उद्देश्य प्रदूषणरहित बेहतर जीवन शैली को बढ़ावा देना है. हम आशा करते हैं कि अभियान की अवधि की समाप्ति तक जागरूकता बढ़ चुकी होगी. ध्वनि प्रदूषण करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होती रहेगी.

    ये भी पढ़ें:

    सपा सरकार के यश भारती पुरस्कार की जगह अब योगी सरकार देगी ये पुरस्कार

    बुर्का वाला बयान देने वाले रघुराज सिंह के बेटे सहित 8 पर डकैती का केस

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज