• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Made In China के खिलाफ यूपी पुलिस का बड़ा कदम, मोबाइल से 'Remove China apps' का दिया आदेश

Made In China के खिलाफ यूपी पुलिस का बड़ा कदम, मोबाइल से 'Remove China apps' का दिया आदेश

केंद्र सरकार के इस निर्णय के बाद इन 59 कंपनियों में काम करने वाले कई हजार लोग बेरोजगार हो जाएंगे.(file photo)

केंद्र सरकार के इस निर्णय के बाद इन 59 कंपनियों में काम करने वाले कई हजार लोग बेरोजगार हो जाएंगे.(file photo)

चीन (China) के साथ पिछले कुछ दिनों से चल रहे विवाद की वजह से कई लोग चीनी सामानों और मोबाइल ऐप्लीकेशंस का बहिष्कार करने का समर्थन कर रहे हैं.

  • Share this:
लखनऊ. भारत और चीन की सीमा पर बढ़ते विवाद के बाद शुक्रवार को यूपी पुलिस (UP Police) ने बड़ा कदम उठाया है. इसी कड़ी में आईजी एसटीएफ (IG STF) अमिताभ यश ने मोबाइल से चाइनीज ऐप हटाने का आदेश दिया. अब मोबाइल में टिकटॉक (TikTok), यूसी ब्राउजर (UC Browser) जैसे कथित चीनी ऐप को डिलीट किया जाएगा. बताते चलें कि गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) में 'रिमूव चाइना ऐप' को कुछ ही हफ्तों में 50 लाख से अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका था. इस ऐप के जरिए से यूजर्स आसानी से चीन की मोबाइल ऐप्स का पता लगा सकते थे.

सीमा विवाद बढ़ने के बाद से ही भारत के विभिन्न सोशल मीडिया पर चीनी ऐप्स को हटाने की अपील की जा रही थी. यूपी एसटीएफ के आईजी अमिताभ यश के मुताबिक मोबाइल से 52 चीनी ऐप हटाने का आदेश दिया गया है. उन्होंने बताया कि टिकटॉक, यूसी ब्राउजर, हेलो समेत 52 ऐप को तत्काल हटाए क्योंकि इन ऐप से व्यक्तिगत और अन्य डाटा चोरी होने आशंका बनी रहती है.



ये भी पढ़ें: COVID-19: यूपी में कोरोना टेस्ट कराना हुआ सस्ता, प्राइवेट लैब में 2500 रुपए अधिकतम

चीनी उत्पादों के बहिष्कार के अभियान में बॉलीवुड और खेल जगत के प्रमुख व्यक्तियों के जुड़ने से इसे काफी मजबूती मिलेगी. भारतीय ग्राहकों की पसंद को प्रभावित कर देश के खुदरा बाजार पर अधिक से अधिक नियंत्रण प्राप्त करने के उद्देश्य और सोची-समझी रणनीति के अंतर्गत चीन की कंपनियों ने अपने प्रोडक्ट्स का विज्ञापन करने के लिए भारतीय हस्तियों द्वारा उनका प्रचार-प्रसार करने का षड्यंत्र रचा गया है, जिसको समझना बेहद जरूरी है. चीन के साथ पिछले कुछ दिनों से चल रहे विवाद की वजह से कई लोग चीनी सामानों और मोबाइल ऐप्लीकेशंस का बहिष्कार करने का समर्थन कर रहे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज