राज्यसभा चुनाव में फंसा पेंच, निर्दलीय प्रकाश बजाज के नामांकन ने बदला खेल, 10 सीटों के लिए मैदान में 11 प्रत्याशी

राज्यसभा के लिए बीजेपी प्रत्याशी के तौर पर नामांकन दाखिल करते बृजलाल
राज्यसभा के लिए बीजेपी प्रत्याशी के तौर पर नामांकन दाखिल करते बृजलाल

राज्यसभा चुनाव (Rajyasabha Election): निर्दलीय प्रत्याशी प्रकाश बजाज के नामांकन पत्र दाखिल करते ही 10 सीटों के लिए अब कुल 11 प्रत्याशी हो गए हैं. अब अगर किसी भी एक प्रत्याशी ने अपना नामांकन वापस नहीं लिया तो चुनाव के लिए मतदान तय है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 27, 2020, 4:35 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश में राज्यसभा चुनाव (Rajyasabha Election) नामांकन (Nominations) के आखिरी दिन दिलचस्प मोड़ता लेता दिखाई दिया. दरअसल शुरू से ये माना जा रहा था कि यूपी के सभी 10 सीटों पर विधायकों की संख्या के आधार पर पार्टियां प्रत्याशी उतारेंगीं और निर्विरोध ही चुनाव प्रक्रिया पूरी होगी. लेकिन नामांकन पत्र जमा करने के आखिरी दिन एक निर्दलीय प्रत्याशी ने पूरा खेल बदल दिया. निर्दलीय प्रत्याशी के नामांकन पत्र दाखिल करते ही 10 सीटों के लिए अब कुल 11 प्रत्याशी हो गए हैं. अब अगर किसी भी एक प्रत्याशी ने अपना नामांकन वापस नहीं लिया तो राज्यसभा चुनाव के लिए मतदान तय है.

सपा समर्थित या डमी कैंडीडेट हैं प्रकाश बजाज?

दरअसल प्रकाश बजाज ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल किया है. चर्चा है कि प्रकाश बजाज को समाजवादी पार्टी ने मैदान में उतारा है, हालांकि इसकी अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है. कुछ लोग प्रकाश बजाज के बीजेपी का डमी कैंडीडेट होना भी बता रहे हैं.



9 नवंबर को मतदान
निर्वाचन आयोग ने राज्यसभा सीटों के लिए चुनाव की घोषणा 13 अक्टूबर को की थी. इन सीटों के लिए चुनाव की अधिसूचना 20 अक्टूबर को जारी हो गई. आज 27 अक्टूबर को नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि है. 28 अक्टूबर को नामांकन पत्रों की जांच की होगी. 2 नवंबर तक नाम वापस लिए जा सकेंगे. 9 नवंबर को सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक मतदान होगा. उसी दिन शाम पांच बजे से मतगणना होगी और परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे. बता दें उत्तर प्रदेश में राज्यसभा की 10 सीटें 25 नवंबर को खाली हो रही हैं.

चुनाव हुआ तो बसपा की मुश्किलें बढ़ेंगी

वैसे इस 11वें प्रत्याशी के सामने आने के बाद बीजेपी और सपा को तो ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा. लेकिन बसपा के लिए मुश्किलें जरूर खड़ी होंगी. 8 सीटों पर विधायकों की संख्या के आधार पर बीजेपी की जीत तय है, वहीं एक सीट पर सपा भी आसानी से जीत जाएगी. लड़ाई 10वीं सीट के लिए है, जिसके लिए बसपा मैदान में है. पहले ये माना जा रहा था कि संख्या के आधार पर बीजेपी नवां प्रत्याशी उतार सकती है लेकिन उसने ऐसा नहीं किया. वहीं इस बीच निर्दलीय प्रत्याशी के मैदान में उतरने से बसपा को अब मतदान की स्थिति में दूसरी पार्टियों से विधायकों की संख्या जुटानी होगी.

बीजेपी के सभी 8 प्रत्याशियों ने एक साथ दाखिल किया नामांकन

इससे पहले आज राज्यसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशियों ने सामूहिक रूप से अपना नामांकन पत्र दाखिल किया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा सहित कई अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी व राज्य सरकार के मंत्रीगण उपस्थित रहे.

इसके पूर्व सुबह लगभग 10.30 बजे पार्टी के राज्य मुख्यालय के कुशाभाऊ ठाकरे हाल में राज्यसभा चुनाव के लिए पार्टी के सभी प्रत्याशी अपने समर्थकों के साथ पहुंचे. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह व प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने सभी को बधाई व शुभकामनाएं दी. इसके बाद पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के नेतृत्व में सभी प्रत्याशी भाजपा विधानमण्डल दल कार्यालय के लिए निकले.

बीजेपी प्रत्याशी

हरदीप सिंह पुरी

अरूण सिंह

हरिद्वार दुबे

बृजलाल

नीरज शेखर

श्रीमती गीता शाक्य

बी.एल. वर्मा

श्रीमती सीमा द्विवेदी

समाजवादी पार्टी

राम गोपाल यादव

बहुजन समाज पार्टी

रामजी गौतम

निर्दलीय

प्रकाश बजाज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज