Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    UP राज्यसभा चुनाव: सपा से रामगोपाल यादव ने किया नामांकन, अखिलेश यादव भी रहे मौजूद

    सपा की तरफ से रामगोपाल यादव ने किया राज्य सभा के लिए नामांकन
    सपा की तरफ से रामगोपाल यादव ने किया राज्य सभा के लिए नामांकन

    यूपी में राज्यसभा (Rajya Sabha Election) के 10 सदस्यों का कार्यकाल आगामी 25 नवम्बर को खत्म हो रहा है. इन सभी सीटों पर 9 नवंबर को चुनाव कराया जाना है. 9 नवंबर को वोटिंग और उसी शाम परिणाम भी हो घोषित होगा.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 21, 2020, 12:09 PM IST
    • Share this:
    लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की रिक्त हो रही 10 राज्यसभा (Rajya Sabha Election) सीटों के लिए नामांकन (Nomination) शुरू हो गया है. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) से राज्यसभा सीट के लिए प्रो रामगोपाल यादव (Prof Ramgopal Yadav) ने बुधवार को नामांकन किया. उत्तर प्रदेश विधान सभा के राजर्षि पुरूषोत्तम दास टण्डन हाल में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव के नामांकन के दौरान सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव, प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, सपा नेता व प्रदेश में नेता विपक्षी दल रामगोविंद चौधरी व अन्य पार्टी विधायक मौजूद रहे.

    हालांकि नामाकंन के बाद समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया, लेकिन नामांकन भरकर निकले रामगोपाल यादव ने पार्टी नेतृत्व को राज्यसभा के लिए पांचवी बार उम्मीदवार बनाने पर धन्यवाद कहा. उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश की सारी जनता दुखी है. ऐसी कोई बात नहीं कहना चाहता जो सत्ताधारी दल के मन को दुखाए. बता दें कि रामगोपाल यादव की सीट तय मानी जा रही है.

    10 सीटों के लिए 9 नवंबर को होने हैं चुनाव



    गौरतलब है कि यूपी में राज्यसभा के 10 सदस्यों का कार्यकाल आगामी 25 नवम्बर को खत्म हो रहा है. इन सभी सीटों पर 9 नवंबर को चुनाव कराया जाना है. 9 नवंबर को वोटिंग और उसी शाम परिणाम भी हो घोषित होगा. प्रदेश में प्रचंड बहुमत वाली बीजेपी की सरकार है, जिससे इन 10 में से 8 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशियों की जीत तय मानी जा रही है. इसके अलावा एक सीट पर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी की जीत तय मानी जा रही है. शेष एक सीट के लिए जोड़ तोड़ की कवायद जारी है. बीजेपी की कोशिश है कि वह 10 में से 9 सीट पर जीत दर्ज कर अपने प्रत्याशी को उच्च सदन भेज सके.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज