होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /सरकारी योजनाओं के नाम पर करोड़ों की ठगी करने वाला शातिर चढ़ा UP STF के हत्थे...

सरकारी योजनाओं के नाम पर करोड़ों की ठगी करने वाला शातिर चढ़ा UP STF के हत्थे...

यूपी एसटीएफ और प्रतापगढ़ पुलिस ने करोड़ों की ठगी करने वाले आरोपी हेमंत को पकड़ा

यूपी एसटीएफ और प्रतापगढ़ पुलिस ने करोड़ों की ठगी करने वाले आरोपी हेमंत को पकड़ा

हेमंत के खिलाफ आरोप है कि उसने प्रतापगढ़ के राजा भानु प्रताप सिंह को भी कुछ जिलों के लिए ग्रामीण स्वच्छ पेयजल योजना (Ru ...अधिक पढ़ें

लखनऊ. यूपी एसटीएफ (UP STF) और प्रतापगढ़ पुलिस (Pratapgarh Police) ने विभूति खंड के पोस्ट कमर्शियल काम्पलेक्स साइबर हाइट्स (Cyber Heights Lucknow) से हेमंत मिश्रा नाम के शातिर जालसाज को गिरफ्तार किया है. पकड़े गए शख्स हेमंत के खिलाफ प्रतापगढ़ में 30 लाख की ठगी का मुकदमा दर्ज था. हेमंत पर आरोप है सरकार की कल्याणकारी योजनाओं जैसे पशुधन बीमा योजना (Pashudhan beema yojna), ग्रामीण स्वच्छ पेयजल योजना (Rural Drinking water program), वन नेशन वन कार्ड (One Nation One Card) जैसी योजनाओं के नाम पर बड़े-बड़े लोगों को फंसा कर रक़म ऐंठ कर फ़रार हो जाता है.

एसटीएफ के एडिशनल एसपी विशाल विक्रम सिंह ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी हेमंत केंद्र सरकार के अलग-अलग मंत्रालयों की फर्जी चिट्ठी अपने पास रखता है कि उसको मंत्रालय से जुड़ी कल्याणकारी योजनाओं को लोगों तक पहुंचाने के लिए सर्वे का ठेका मिला है. जिलों में इसी सर्वे को करने का ठेका वह छोटी कंपनियों को देने के नाम पर ठगता था. इसके लिए हेमंत ने सिया विजन इंफ्रा डेवलपर्स के नाम से अपनी कंपनी बना रखी थी.

15 करोड़ की ठगी का है आरोप
कंपनी की वेबसाइट पर वह मंत्रालय से मिले फर्जी लेटर को डालता था और अपने एजेंटों के माध्यम से लोगों को जोड़ता था. सरकारी चिट्ठी पर बनी अशोक की लाट दिखाकर लोगों को अपने जाल में फंसा लेता था. पकड़े गए आरोपी हेमंत के खिलाफ आरोप है कि उसने प्रतापगढ़ के राजा भानु प्रताप सिंह को भी कुछ जिलों के लिए ग्रामीण स्वच्छ पेयजल योजना और पशुधन बीमा योजना के सर्वे के नाम पर ठगा था. मंत्रालय के फ़र्ज़ी अथॉरिटी लेटर दिखाकर कुछ जिलों में इस सर्वे का ठेका देने के नाम पर उसने भानु प्रताप सिंह से 30 लाख रुपये की सिक्योरिटी मनी जमा करवाई थी. ऐसे ही कई अन्य लोगों से भी उसने करीब 15 करोड़ रुपये अलग-अलग योजनाओं के नाम पर जमा करवाए थे. प्रतापगढ़ की शिकायत लालगंज थाने में दर्ज थी जिसपर हेमंत को एसटीएफ और प्रतापगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार किया. हेमंत के कब्ज़े से सरकारी योजनाओं के सैकड़ों फॉर्म बरामद हुए हैं. फिलहाल पुलिस की छानबीन जारी है.

ये भी पढ़ें- डॉन छोटा राजन के शूटर खान मुबारक को सीतापुर जेल में शिफ्ट करने की तैयारी, यहीं बंद हैं आजम खान

आपके शहर से (लखनऊ)

Tags: Crime report, Up crime news, UP police

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें