Home /News /uttar-pradesh /

Karhal Assembly Seat: 1989 से है समाजवादी पार्टी का दबदबा, 2002 में जीती थी बीजेपी, इस बार अखिलेश यादव ठोक रहे ताल

Karhal Assembly Seat: 1989 से है समाजवादी पार्टी का दबदबा, 2002 में जीती थी बीजेपी, इस बार अखिलेश यादव ठोक रहे ताल

सपा प्रमुख अखिलेश यादव मैनपुरी की करहल विधानसभा सीट से लड़ेंगे चुनाव

सपा प्रमुख अखिलेश यादव मैनपुरी की करहल विधानसभा सीट से लड़ेंगे चुनाव

UP Assembly Elections 2022: मैनपुरी की करहल सीट यादव बाहुल्य है और 2002 को छोड़ दिया जाए तो पिछले करीब 32 साल से इस सीट पर समाजवादी पार्टी का दबदबा रहा है. 2002 में सोवरन सिंह ने यह सीट बीजेपी की झोली में डाली थी, जो बाद में सपा में शामिल हो गए. करहल विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी (सपा) का सात बार कब्जा रहा है.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. जैसे-जैसे यूपी विधानसभा चुनाव (UP Vidhan Sabha Chunav) की तारीखें नजदीक आ रही हैं वैसे-वैसे सियासी पारा भी चढ़ता जा रहा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के बाद अब समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) भी पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ने जा रहे हैं. सभी अटकलों और कयासों पर विराम लगाते हुए समाजवादी पार्टी ने अखिलेश यादव को मैनपुरी की करहल सीट से मैदान में उतारने का फैसला लिया है. मैनपुरी की करहल सीट यादव बाहुल्य है और 2002 को छोड़ दिया जाए तो पिछले करीब 32 साल से इस सीट पर समाजवादी पार्टी का दबदबा रहा है. 2002 में सोवरन सिंह ने यह सीट बीजेपी की झोली में डाली थी, जो बाद में सपा में शामिल हो गए.

करहल विधानसभा सीट समाजवादी पार्टी की सबसे सुरक्षित सीटों में से एक है. करहल विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी (सपा) का सात बार कब्जा रहा है. इस विधानसभा सीट से 1985 में दलित मजदूर किसान पार्टी के बाबूराम यादव, 1989 और 1991 में समाजवादी जनता पार्टी (सजपा) और 1993, 1996 में सपा के टिकट पर बाबूराम यादव विधायक निर्वाचित हुए. 2000 के उपचुनाव में सपा के अनिल यादव, 2002 में बीजेपी और 2007, 2012 और 2017 में सपा के टिकट पर सोवरन सिंह यादव विधायक चुने गए.

करीब डेढ़ लाख यादव मतदाता 
अगर जातिगत समीकरण की बात करें तो करहल विधानसभा सीट समाजवादी पार्टी के लिए काफी मुफीद रही है. यहां करीब साढ़े तीन लाख मतदाता है. इस सीट पर यादव मतदाताओं की संख्या तकरीबन डेढ़ लाख है. मुस्लिम मतदाताओं की संख्या भी अच्छी खासी है. इसके अलावा शाक्य, ठाकुर, ब्राह्मण, लोधी और एससी मतदाता भी इस सीट का चुनाव परिणाम निर्धारित करने में अहम भूमिका निभाते हैं.

Tags: Akhilesh yadav, UP Assembly Elections, Uttar Pradesh Assembly Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर