UP Weather Alert: आज से अगले 3 दिनों तक पूरे प्रदेश में जमकर बारिश की उम्मीद, ऑरेंज अलर्ट जारी

मौसम विभाग के मुताबिक आज से पूरे प्रदेश में तेज बारिश हो सकती है.
मौसम विभाग के मुताबिक आज से पूरे प्रदेश में तेज बारिश हो सकती है.

मौसम विभाग ने अगले 3 दिनों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. यानी लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है.

  • Share this:
लखनऊ. पूरे प्रदेश में मानसून (Monsoon) पूरी तरह सक्रिय हो गया है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और बुंदेलखंड का इलाका जो अब तक तक बारिश (Rain) से सराबोर नहीं हुआ था अब उसके भी तर बतर होने का समय आ गया है. मौसम विभाग (Met Department) के अनुमान के मुताबिक आज 24 जून से लेकर 26 जून तक पूरे प्रदेश में जमकर बारिश होगी. पूर्वी उत्तर प्रदेश से लेकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रदेश तक कई शहरों में भारी से भारी बारिश का भी अनुमान जताया गया है. मौसम विभाग ने अगले 3 दिनों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. यानी लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है. इस दौरान तेज हवाओं के साथ आकाशीय बिजली गिरने का भी खतरा बना रहेगा.

25 जून को ज्यादा बारिश का अनुमान

एनसीआर से लगे कुछ जिलों को छोड़ दिया जाए तो प्रदेश के बाकी इलाकों में 5 से 10 सेंटीमीटर तक बारिश आज होने का अनुमान है. 25 तारीख को इसमें और तीव्रता देखी जा सकेगी. मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक 25 जून को प्रदेश में कई जगहों पर 20 सेंटीमीटर तक बारिश हो सकती है. पूर्वांचल, तराई, मध्य यूपी और बुंदेलखंड में इस मानसूनी सीजन की सबसे ज्यादा बारिश 25 जून को होने का अनुमान है. उड़ीसा के ऊपर बना चक्रवातीय सिस्टम भी प्रदेश में मानसून को रफ्तार देने में मददगार साबित होगा. लखनऊ और आसपास के जिलों में ज्यादातर बादलों की आवाजाही देखी जाएगी और कुछ जगहों पर बौछारें पड़ सकती हैं. अभी तक के अनुमान के मुताबिक 27 जून से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बारिश का सिलसिला बहुत कम हो जाएगा. हालांकि पूर्वी और मध्य यूपी में बारिश जारी रहेगी. 29 जून से पूर्वाचल और मध्य यूपी में भी बारिश का सिलसिला काफी थम जाएगा.



मंगलवार को कानपुर में सबसे ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई. यहां 30.6 मिलीमीटर बरसात दर्ज की गई. वहीं बरेली में 18.4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई.  रायबरेली में 12.2 जबकि इटावा में 6.8 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई. मानसून की सक्रियता का ही परिणाम है कि पूरे प्रदेश में पारा धड़ाम हो गया है. सबसे ज्यादा तापमान 37 डिग्री सेंटीग्रेड झांसी और नजीबाबाद में दर्ज किया गया जो पहले के मुकाबले लगभग 8 डिग्री सेंटीग्रेड कम है. प्रदेश के सभी शहरों में तापमान 31 से 37 डिग्री के बीच दर्ज किया गया और कोई भी शहर ऐसा नहीं रहा जहां तापमान 40 डिग्री के बैरियर को पार किया हो. इसमें और थोड़ी कमी ही आने का अनुमान है.
आकाशीय बिजली से रोज लोगों की जा रही जान

राहत विभाग को जिलों से मिले आंकड़ों के मुताबिक मंगलवार को प्रदेश में 5 लोगों की जान चली गई.  इसमें दो व्यक्तियों की जान आकाशीय बिजली की चपेट में आने से गई, जबकि तीन लोगों की जान सांप काटने से गई. फतेहपुर और उन्नाव में बिजली गिरने से मौत हुई जबकि गाजीपुर, बाराबंकी और सीतापुर में एक-एक व्यक्ति की व्यक्ति की जान सांप काटने से गई. बता दें कि हर साल बरसात के दिनों में प्रदेश में बड़े पैमाने पर सर्पदंश से से लोग अपनी जान गवां देते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज