Weather Alert: यूपी के इन जिलों में अगले 24 घंटे में भारी बारिश की चेतावनी
Lucknow News in Hindi

Weather Alert: यूपी के इन जिलों में अगले 24 घंटे में भारी बारिश की चेतावनी
यूपी में अगले 24 घंटों में भारी बारिश का होने का पूर्वानुमान

UP Weather Alert: अनुमान के मुताबिक बुधवार 29 जुलाई से ज्यादा बारिश गुरुवार 30 जुलाई को संभव है. 30 जुलाई को इनमें से कुछ जिलों में 100 मिमी से भी ज्यादा बारिश हो सकती है.

  • Share this:
लखनऊ. मौसम विभाग (Met Department) ने प्रदेश के 17 जिलों के लिए चेतावनी (Weather Alert) जारी की है. इनमें पश्चिमी यूपी से लेकर बुन्देलखण्ड और तराई के जिले शामिल हैं. अनुमान के मुताबिक, इन जिलों में अगले 24 घंटे में भारी बारिश (Heavy Rain) की संभावना बनी हुई है. साथ ही आकाशीय बिजली का भी खतरा है. पश्चिमी यूपी के जिन जिलों के लिए चेतावनी जारी की गयी है वे हैं - मुरादाबाद, बिजनौर, मुजफ्फरनगर और सहारनपुर. इसके अलावा तराई के जिन जिलों के लिए अलर्ट जारी किया गया है वे हैं - श्रावस्ती, बलरामपुर, बहराइच, लखीमपुर खीरी और पीलीभीत. बुन्देलखण्ड के जिलों के लिए इस सीजन में पहली बार भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. ये जिले हैं - बांदा, हमीरपुर, झांसी और जालौन. इसके अलावा कानपुर नगर और देहात, औरैया और कन्नौज

30 जुलाई को ज्यादा बारिश का अनुमान
अनुमान के मुताबिक बुधवार 29 जुलाई से ज्यादा बारिश गुरुवार 30 जुलाई को संभव है. 30 जुलाई को इनमें से कुछ जिलों में 100 मिमी से भी ज्यादा बारिश हो सकती है. 29 जुलाई को वाराणसी, देवरिय़ा, गोरखपुर, मऊ और बलिया में भी भारी बारिश की संभावना जताई गयी है. मौसम विभाग ने ये भी चेतावनी दी है कि इस दौरान इन शहरों में भारी बारिश से जलजमाव की समस्या खड़ी हो सकती है. साथ ही बिजली सप्लाई और यातायात में भी बाधा आ सकती है.

मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि राजस्थान के पास एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना हुआ है. इसके अलावा मानसून की लाइन अभी हिमालय में है जिसके जल्द ही नीचे उतरने की संभावना है. इन दोनों कारणों के चलते ही भारी बारिश की संभावना पैदा हुई है.
तराई वाले जिलों के लिए बढ़ेगी मुश्किलें


तराई के कई जिलों खासकर बलरामपुर, श्रावस्ती और कुशीनगर में जलभराव की समस्या पहले से ही खड़ी है. हजारों लोग प्रभावित हैं. ऐसे में भारी बारिश होने से इन जिलों में मुश्किलें और बढ़ सकती हैं. नदियों का कम होता जल स्तर फिर से बढ़ सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading