UP Weather: पूर्वांचल, मध्य और तराई के जिलों में बारिश का रहेगा ज्यादा जोर, पश्चिम में हल्की फुहार की उम्मीद
Lucknow News in Hindi

UP Weather: पूर्वांचल, मध्य और तराई के जिलों में बारिश का रहेगा ज्यादा जोर, पश्चिम में हल्की फुहार की उम्मीद
मौसम विभाग ने यूपी के कई इलाकों में बारिश की संभावना जताई है. (सांकेतिक तस्वीर)

मौसम विभाग (Met Department) ने उत्तर प्रदेश में सोनभद्र से लेकर वाराणसी, सिद्धार्थ नगर, बलरामपुर, श्रावस्ती और लखनऊ के आसपास के जिलों में अनेक स्थानों पर ज्यादा बारिश की संभावना जताई है.

  • Share this:
लखनऊ. मौसम विभाग (Met Department) के ताजा अनुमान के मुताबिक वैसे तो पूरे उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कई जगहों पर बारिश की संभावना है लेकिन आज शुक्रवार के दिन पूर्वी, मध्य और तराई के जिलों में बारिश का ज्यादा जोर देखने को मिलेगा. इन जिलों में आकाशीय बिजली का भी खतरा बना हुआ है. सोनभद्र से लेकर वाराणसी, सिद्धार्थ नगर, बलरामपुर, श्रावस्ती और लखनऊ के आसपास के जिलों में अनेक स्थानों पर ज्यादा बारिश की संभावना जताई गई है.

वहीं पश्चिमी यूपी में एकाध जगहों पर बारिश की संभावना मौसम विभाग ने जताई है. पश्चिमी यूपी के मुरादाबाद, बिजनौर, रामपुर और बरेली में आज शुक्रवार को बारिश की संभावना जताई गई है. वहीं पूर्वांचल के गोरखपुर, मिर्जापुर, बनारस, भदोही, मऊ, आजमगढ़, बलिया और इनके आसपास के जिलों में बारिश की संभावना जताई गई है. इसके अलावा सिद्धार्थनगर, संत कबीर नगर, लखीमपुर खीरी, पीलीभीत और आसपास के जिलों में भी आज शुक्रवार को बारिश की संभावना जताई गई है.

अगले तीन दिन बढ़ेगा बारिश का जोर



मौसम विभाग के अनुसार 4 जुलाई को पूरे प्रदेश में कई जगहों पर ज्यादा बारिश देखने को मिल सकती है. वहीं 5 और 6 जुलाई को बारिश का जोर पूरे प्रदेश में और बढ़ जाएगा. आज शुक्रवार 3 से लेकर 6 जुलाई तक मौसम विभाग ने प्रदेश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. इसका मतलब लोगों को सचेत रहने की सलाह दी गई है. पिछले दिनों में आकाशीय बिजली गिरने से बड़े पैमाने पर प्रदेश में जनहानि हुई है.
गुरुवार को प्रदेश में बहुत कम बारिश की गई दर्ज

मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक ही 2 जुलाई को प्रदेश में बहुत कम जगहों पर बारिश दर्ज की गई. सिर्फ बनारस में 8.8 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई. इसके अलावा प्रदेश के किसी भी जिले में दर्ज की जा सकने वाली बारिश नहीं है लेकिन अब 3 जुलाई से लेकर 6 जुलाई तक बारिश का ज्यादा जोर रहने की ज्यादा जोर रहने की संभावना है. मौसम विभाग ने इसका अनुमान पहले ही जारी कर दिया था.

आगरा में गर्मी ने किया लोगों को बेहाल

दूसरी तरफ बारिश न होने से प्रदेश के जिलों में तापमान भी बढ़ा हुआ दर्ज किया गया. गुरुवार को प्रदेश में सबसे गर्म शहर आगरा रहा. जहां तापमान 41.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वही झांसी में 40.5 जबकि अलीगढ़ में 39.4 डिग्री डिग्री डिग्री अलीगढ़ में 39.4 डिग्री डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया. सबसे कम तापमान गोरखपुर में 33.6 डिग्री दर्ज किया गया. प्रदेश में तापमान अभी तक 35 डिग्री सेल्सियस के नीचे चल रहा था लेकिन गोरखपुर को छोड़कर बाकी सभी जिलों में तापमान 35 डिग्री के ऊपर दर्ज किया गया.

बारिश न होने की वजह से आकाशीय बिजली का गुरुवार को कहीं भी खतरा पैदा नहीं हुआ. सुखद यह रहा कि गुरुवार को प्रदेश के किसी भी जिले में कोई जनहानि नहीं हुई लेकिन 6 जुलाई तक ऑरेंज अलर्ट जारी होने से अब इसका खतरा बढ़ गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज