UP Weather Forecast: लखनऊ और कानपुर सहित इन 15 जिलों में आज भी जारी रहेगी बारिश

यूपी में 15 जिलों में आज बारिश का सिलसिला जारी रहेगा.

यूपी में 15 जिलों में आज बारिश का सिलसिला जारी रहेगा.

मौसम विभाग (Met Department) ने उत्तर प्रदेश में इटावा, औरैया, कन्नौज, हरदोई, कानपुर नगर, कानपुर देहात और लखनऊ (Lucknow) सहित 15 जिलो में आज बारिश का अनुमान जारी किया है.

  • Share this:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradedh) में आज कैसा रहेगा मौसम? इसे लेकर मौसम विभाग (Met Department) ने ताजा अनुमान जारी कर दिया है. अगले कुछ घंटों में लखनऊ (Lucknow) और कानपुर (Kanpur) के आसपास के जिलों में बारिश की संभावना जताई गई है. कई जिलों में देर रात से ही बारिश जारी है. लखनऊ में भी देर रात जमकर बारिश हुई. यह सिलसिला एक-दो दिनों तक आगे भी चलने की संभावना जताई गई है.

इन जिलों में बारिश का अनुमान

फिलहाल अगले कुछ घंटों में जिन जिलों में बारिश होगी या जारी रहेगी वे जिले हैं- इटावा, औरैया, कन्नौज, हरदोई, कानपुर नगर, कानपुर देहात, फतेहपुर, उन्नाव, रायबरेली, लखनऊ, बाराबंकी, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, शाहजहांपुर और फर्रुखाबाद.

प्रदेश के बाकी जिलों में बादलों की हल्की आवाजाही जारी रहेगी लेकिन अभी तक के अनुमान के मुताबिक बारिश की संभावना नहीं जताई गई है. पूर्वांचल से लेकर पश्चिमांचल और बुंदेलखंड तक के जिलों में फिलहाल बारिश के आसार दिखाई नहीं दे रहे हैं. मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक अगले तीन-चार दिनों तक प्रदेश के कई इलाकों में हल्की बारिश की संभावना है अगले दो-तीन दिनों के लिए मौसम विभाग ने कोई अलर्ट जारी नहीं किया है.
शुक्रवार को हरदोई में सबसे ज्यादा बारिश

दूसरी तरफ शुक्रवार को प्रदेश के कई जिलों में बारिश दर्ज की गई. हालांकि गुरुवार की तुलना में शुक्रवार को हुई बारिश कम ही रही. सबसे ज्यादा हरदोई में 24 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई. आगरा में 18.5, झांसी में 3.6, शाहजहांपुर में 7, प्रयागराज में 4 और कानपुर में 2.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई.

गंगा नदी के जलस्तर ने बढ़ाई चिंता



गनीमत की बात यह है कि पूर्वाचल और तराई के बाढ़ग्रस्त जिलों में पिछले दो-तीन दिनों से बारिश का सिलसिला लगभग थम सा गया है. इससे इन जिलों में हुए जलभराव से राहत मिलने की उम्मीद बढ़ गई है. हालांकि गंगा का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है, जिसकी वजह से पश्चिमी यूपी में गंगा के किनारे बसे कई जिलों के निचले इलाकों में पानी भरना शुरू हुआ है. गंगा नदी का जलस्तर ऐसे ही बढ़ता रहा तो पूर्वांचल के जिलों में और ज्यादा स्थिति खराब हो सकती है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज