अपना शहर चुनें

States

UP Weather Forecast: आज से 18 जून तक पूर्वांचल के ज्यादातर जिलों में आंधी-बारिश की संभावना, पश्चिमी यूपी में भी पड़ेगा असर

यूपी में आज मौसम में तेजी से बदलाव होने की संभावना है. (प्रतीकात्मक फोटो)
यूपी में आज मौसम में तेजी से बदलाव होने की संभावना है. (प्रतीकात्मक फोटो)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के ज्यादातर जिलों में तापमान का बढ़ना भी थम गया है. प्रदेश में तापमान 36 डिग्री से 42 डिग्री के बीच दर्ज किया गया है.

  • Share this:
लखनऊ. मौसम विभाग (Met Department) के ताजा अनुमान के मुताबिक उत्तर प्रदेश में शनिवार से पूर्वांचल (Poorvanchal) के कई इलाकों में मौसम में बदलाव शुरू होगा. ये सिलसिला 18 जून तक चलेगा. इस दौरान पूर्वी उत्तर प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में बारिश की संभावना है. दूसरी तरफ, मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक पश्चिमी यूपी में भी कई स्थानों पर 13 जून से लेकर 18 जून तक हल्की बारिश की संभावना है. हालांकि, पूर्वी उत्तर प्रदेश की तुलना में पश्चिमी यूपी में कम बारिश की संभावना है.

13 जून को छोड़ दिया जाए तो 14 जून से लेकर 16 जून तक पश्चिमी यूपी के भी काफी इलाकों में बौछारें पड़ सकती हैं. इसके साथ ही पूरे यूपी में कई जगहों पर 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी आंधी भी चल सकती है. 17 जून को पश्चिमी यूपी में आंधी और बारिश का सिलसिला 14, 15, 16 जून के मुकाबले कम हो जाएगा, लेकिन 18 जून को फिर से से इसमें थोड़ी बढ़ोतरी देखने को मिल सकेगी.

प्रदेश में तापमान 36 डिग्री से 42 डिग्री के बीच दर्ज
प्रदेश के ज्यादातर जिलों में तापमान का बढ़ना भी थम गया है. प्रदेश में तापमान 36 डिग्री से 42 डिग्री के बीच दर्ज किया गया है. सूबे का सबसे गर्म शहर शुक्रवार को आगरा रहा, जहां तापमान 42 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. झांसी, हमीरपुर, बरेली, आगरा और अलीगढ़ 5 ऐसे शहर रहे, जहां तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के ऊपर दर्ज किया गया है. गोरखपुर में सबसे कम तापमान 36.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. मौसम विभाग का अनुमान है कि तापमान में और बढ़ोतरी नहीं दर्ज की जाएगी. यह जरूर है कि उमस बनी रहेगी.
दक्षिण पश्चिम मानसून की चाल भी अभी तक सामान्य


अरब सागर से उठने वाले दक्षिण पश्चिम मानसून की चाल भी अभी तक सामान्य रही है. 20 जून के आसपास इसके पूर्वी उत्तर प्रदेश से प्रदेश में दाखिल होने की संभावना है. हालांकि, बंगाल की खाड़ी में उठ रहे चक्रवातीय सिस्टम से इस बात की संभावना है कि 20 जून से पहले पूर्वी यूपी में कुछ ज्यादा बरसात देखने को मिल सके. हालांकि इसका सटीक अनुमान अभी 48 घंटे बाद लगाया जा सकेगा.

ये भी पढ़ें:

नेपाल से विवाद खत्म करने में गोरखनाथ मंदिर भी निभा सकता है बड़ा रोल: विशेषज्ञ

UP में 50 जगह बम धमाके की धमकी के बाद बढ़ाई गई सीएम आवास की सुरक्षा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज