लाइव टीवी

UPPCL PF घोटाले पर बोले अखिलेश यादव- कमजोर सीएम हैं योगी, चाहकर भी मंत्री को नहीं हटा पा रहे

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 5, 2019, 3:09 PM IST
UPPCL PF घोटाले पर बोले अखिलेश यादव- कमजोर सीएम हैं योगी, चाहकर भी मंत्री को नहीं हटा पा रहे
अखिलेश यादव ने पीऍफ़ घोटाले पर योगी सरकार को घेरा

UPPCL PF Scam: अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि पूरे मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के सिटिंग जज से होनी चाहिए.

  • Share this:
लखनऊ. यूपी पॉवर कारपोरेशन (UPPCL) के भविष्य निधि (PF Scam) में हुए घोटाले पर मंगलवार को समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने योगी आदित्यनाथ को कमजोर मुख्यमंत्री बताते हुए तंज भी कसा. अखिलेश ने कहा कि मुख्यमंत्रीजी मंत्री को हटाना तो चाहते हैं, लेकिन हटा नहीं पा रहे हैं. उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी सरकार में बिजली कर्मियों के भविष्य निधि का पैसा डीएचएफएल (DHFL) में नहीं जमा हुआ. इसके इसलिए अगर कोई जिम्मेदार है तो वह मुख्यमंत्री हैं.

अखिलेश यादव ने आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी सरकार ने आनन-फानन में सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी. अखिलेश यादव ने कहा कि पूरे मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के सिटिंग जज से होनी चाहिए.इसलिए अगर कोई जिम्मेदार है तो वह मुख्यमंत्री हैं. अखिलेश यादव ने आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी सरकार ने आनन-फानन में सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी. अखिलेश यादव ने कहा कि पूरे मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के सिटिंग जज से होनी चाहिए.

घबराई हुई है बीजेपी सरकार

अखिलेश यादव ने लखनऊ सपा मुख्यालय पर प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा, " बीजेपी सरकार घबराई हुई है. सरकार सच्चाई को छुपाना चाहती है. बिजली विभाग जैसे महत्वपूर्ण विभाग में जो कर्मचारी अपना समय लगाकर और मेहनत कर इस विभाग को खड़ा किया है. उसमें इतना बड़ा घोटाला हुआ है. एफआईआर की कॉपी नहीं दिखाया जा रही है. एफआईआर की कॉपी में लिखा है कि कब पैसा ट्रांसफर हुआ. समाजवादी पार्टी और मैं खुद कह रहा हूं कि मेरी सरकार में एक भी पैसा डीएचएफएल में जमा नहीं हुआ. सारा का सारा पैसा बीजेपी सरकार में जमा हुआ. इसके लिए सिर्फ और सर मुख्यमंत्री जिम्मेदार हैं."

जिन पर आरोप वे अहम पदों पर बैठे हुए हैं

अखिलेश यादव ने आगे बोलते हुए कहा, "यूपी की जनता को सबसे ज़्यादा बिजली का बिल देना पड़ रहा है. बीजेपी सरकार ने बिजली विभाग को बर्बाद किया. जिन पर आरोप है वही बिजली विभाग में आज अहम पदों पर बैठे हैं. बिजली का नया कारखाना लगाया हो तो सरकार बताए. इस घोटाले के लिए मुख्यमंत्री जिम्मेदार हैं.

इतना कमजोर मुख्यमंत्री नहीं देखा
Loading...

अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा, "इतना कमजोर मुख्यमंत्री नही देखा. ऊर्जा मंत्री को हटाना चाहते हैं मगर नहीं हटा पा रहे हैं. सीएम मेदांता हॉस्पिटल का उद्घाटन करने जा रहे हैं, लेकिन उससे पहले उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए. रातों रात सीबीआई जांच की सिफारिश करना बताता है कि सरकार को विपक्ष के सवाल पूछने का डर है. सरकार घबराई हुई है. सच्चाई को छिपाना चाहती है. डीएचएफएल को कब भुगतान हुआ वो एफआईआर की कॉपी में हैं. जिस समय यह घोटाला हुआ उस समय सपा सरकार नहीं थी. बिजली के सभी अफसरों पर कार्रवाई हो. सरकार में कुछ अफसरों को बचाया जा रहा है.

ये भी पढ़ें:

UPPCL PF घोटाला मामला: हिरासत में लिए गए पूर्व एमडी एपी मिश्रा गिरफ्तार

UPPCL PF घोटाला: उर्जा मंत्री बोले- कर्मचारियों के पैसों की रिकवरी होगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 1:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...