PM मोदी से बोले CM योगी- 20 लाख लोगों को नौकरी देने की है तैयारी
Lucknow News in Hindi

PM मोदी से बोले CM योगी- 20 लाख लोगों को नौकरी देने की है तैयारी
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर फर्जी अनामिका शुक्ला की नियुक्ति की जांच एसटीएफ को सौंप दी गई है. (फाइल फोटो)

वीडियो कॉन्फ्रेंसिग (Video Conferencing) के दौरान योगी ने कहा कि अप्रैल माह में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत अब तक 3.32 करोड़ कार्डधारकों को खाद्यान्न का वितरण किया गया है. 1 मई 3.19 करोड़ राशन कार्डों पर 13.28 करोड़ लोगों को खाद्यान्न का वितरण किया गया.

  • Share this:
लखनऊ. राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने  वीडियो कॉन्फेंसिंग (Video Conferencing) के जरिए बैठक की. ये बैठक करीब छह घंटे तक चली. इसमें कोरोना वायरस, इसको लेकर लगाए गए लॉकडाउन और अर्थव्यवस्था जैसे मुद्दों पर चर्चा हुई. कोरोना वायरस को लेकर पीएम मोदी की राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ ये पांचवी बैठक थी. मुख्यमंत्रियों से संवाद के दौरान प्रधानमंत्री के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन भी मौजूद रहे. इसमें राज्यों के सीएम ने अपनी-अपनी बात रखी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत करते हुए कहा कि हमारे सामने आज प्रवासी मजदूर बड़ी चुनौती है. अब तक 9 लाख से ज्यादा कामगारों और श्रमिकों को हम होम क्वॉरन्टाइन में भेज चुके हैं. इसमें से 7 लाख श्रमिक अपना होम क्वॉरन्टाइन पूरा कर चुके हैं. उनको हम नौकरी और रोजगार देने की तैयारी कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि पिछले चार दिनों में तीन लाख से ज्यादा लोग बसों और ट्रेनों के माध्यम से उत्तर प्रदेश में आए हैं. निकट भविष्य में 10 लाख से ज्यादा लोग और आने हैं. 20 लाख लोगों को रोजगार देने की तैयारी के लिए हम लेबर रिफार्म लेकर आए हैं. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज में 2.34 करोड़ किसानों को दो-दो हजार रुपए की दो किस्तें आ चुकी हैं. जनधन योजना में 500-500 रुपए महिलाओं के खाते में दो-दो बार आ चुके हैं. उज्जवला योजना के तहत 1.47 करोड़ लोगों को दो-दो बार रसोई गैस सिलेंडर आ चुके हैं.

लेबर रिफॉर्म लागू करना जरूरी था
योगी ने कहा कि लेबर रिफॉर्म जरूरी था, इसे लागू करना जरूरी था. ये उन्हीं जगह लागू किए जाएंगे, जहां नई यूनिट लगेंगी. इसके साथ उन पुरानी यूनिट में भी यह लागू होगा, जहां नए लेबर को रखा जा रहा है. हमने आपके कुशल मार्गदर्शन और नेतृत्व में ग्रीन जोन में स्थित उद्योगों को शुरू कर दिया है. आरेंज जोन में भी केंद्र सरकार की गाइड लाइन के मुताबिक शुरू किया जा रहा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि आप (प्रधानमंत्री) जो भी फैसला लेंगे, आपके सक्षम नेतृत्व में उसका पालन करते हुए हम लोग कोरोना पर विजय प्राप्त कर सकेंगे.
इमरजेंसी सर्विंस शुरू


सीएम योगी ने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश में 15 लाख से अधिक लेबर इस समय रोजगार पाकर काम कर रही है. हमने इमरजेंसी सर्विसेज को शुरू कर दिया है. पूरे उत्तर प्रदेश में 660 निजी अस्पतालों में आयुष्मान भारत योजना के रेट पर इमरजेंसी सेवाओं को शुरू करने के निर्देश दिए जा चुके हैं, ये सेवाएं प्रारंभ हो चुकी हैं. यह सुविधा सभी 75 जिलों के सरकारी अस्पतालों में लागू किया गया है. टेली मेडिसन भी हमने शुरू कर दिया है.

3.32 करोड़ कार्डधारकों को खाद्यान्न का वितरण
वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के दौरान योगी ने कहा कि अप्रैल माह में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत अब तक 3.32 करोड़ कार्डधारकों को खाद्यान्न का वितरण किया गया है. 1 मई 3.19 करोड़ राशन कार्डों पर 13.28 करोड़ लोगों को खाद्यान्न का वितरण किया गया. इसमें 95 लाख राशन कार्डों पर निशुल्क खाद्यान्न का वितरण शामिल है. विभिन्न पेंशन योजनाओं के तहत कुल 86,71,781 लाभार्थियों को दो माह की पेंशन 871.46 करोड़ रुपए जारी किए गए. किसानों, मजदूरों एवं मंडी आदि के कर्मचारियों को कोविड-19 से पूर्ण सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की गई है. 15 अप्रैल से गेहूं का क्रय प्रारंभ कर 5858 सरकारी क्रय केंद्र के माध्यम से अब तक 2,26,461 किसानों से कुल 120.52 लाख कुंतल गेहूं की खरीद की गई. इसके अतिरिक्त मंडी से 41.87 लाख कुंतल गेहूं की खरीद की गई है. प्रदेश में 5029 गोसंरक्षण केंद्र/स्थलों को संचालित कर 4.89 लाख निराश्रित गोवंश को संरक्षित किया गया. इनके लिए चारे एवं भूसे की आपूर्ति सभी जनपदों में सुनिश्चित की गई. 2461 भूसा बैंकों की स्थापना की गई है.

 ये भी पढ़ें: योगी सरकार ने श्रम कानून में किए संशोधन, ओवरटाइम करने पर इस तरह मिलेगी सैलरी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज