UP सरकार ने फिर जारी की Unlock 1.0 को लेकर गाइडलाइंस, अब ये होंगे नए बदलाव...
Lucknow News in Hindi

UP सरकार ने फिर जारी की Unlock 1.0 को लेकर गाइडलाइंस, अब ये होंगे नए बदलाव...
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

अब मंदिरों, शॉपिंग मॉल्स और अन्य सार्वजनिक व धार्मिक स्‍थलों को खोलने से पहले जिला प्रशासन की अनुमति लेना जरूरी होगा.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार ने 8 जून को लेकर एक बार फिर नई गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. अब मंदिरों, शॉपिंग मॉल्स और अन्य सार्वजनिक व धार्मिक स्‍थलों को खोलने से पहले जिला प्रशासन की अनुमति लेना जरूरी होगा. साथ ही मंदिरों में एक बार में पांच से ज्यादा लोग प्रवेश नहीं कर सकेंगे. इसी के साथ कार्यालयों व अन्य सार्वजनिक स्‍थानों को लेकर भी कई महत्वपूर्ण बदलाव किए गए हैं. गौरलतब है कि इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने 31 मई को गाइडलाइंस जारी की थीं, जिसमें 8 जून से मंदिरों व शॉपिंग मॉल्स को खोलने की बात थी.

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी द्वारा जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि धार्मिक स्‍थलों को खोलने के बाबत प्रशासन और पुलिस से आदेश मिलने के बाद भी कुछ नियमों का पालन करना होगा. इन नियमों के तहत, किसी भी धार्मिक या पूजा स्‍थल में एक स्‍थान पर 5 से अधिक श्रद्धालुओं के एकत्रित होने पर मनाही होगी. इसके अलावा, प्रवेश द्वार पर हाथों को कीटाणु-रहित करने के लिए एल्‍कोहल युक्‍त सैनिटाइजर का प्रयोग किया जाए. साथ ही, धार्मिक स्‍थल आने वाले श्रद्धालुओं का टैंपरेचर नापने के लिए इंफ्रारेड थर्मामीटर की भी व्‍यवस्‍था करना होगी.

मास्‍क पहनने के बाद ही निकल पाएंगे घर के बाहर
अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि धर्मस्थलों, कार्यालयों, मॉल, होटल और रेस्तरां के लिए जो दिशानिर्देश जारी किये गये हैं, उनमें एक बात अनिवार्य है कि सभी के लिए चेहरा ढंकना और मास्क पहनना अनिवार्य होगा. अनलॉक1.0 के तहत जो छूट दी गयी है, उस दौरान बिना मास्क के कोई भी व्यक्ति किसी भी रूप में नहीं रहेगा. अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा कि हर व्यक्ति सार्वजनिक स्थल पर छह फीट की दूरी बनाकर रखेगा. प्रत्येक भवन में प्रवेश से पहले अल्कोहल युक्त सेनेटाइजर का अनिवार्य रूप से उपयोग करेंगे. प्रत्येक भवन, धर्मस्थल एवं अन्य स्थानों पर सेनेटाइजर की व्यवस्था की जाएगी.



लोगों को अपनी इन जिम्‍मेदारियों का रखना होगा ध्‍यान


अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि श्वसन संबंधी शिष्टाचार के लिए निर्देश है कि छींकते समय मुंह और नाक को ढंककर रखें, ताकि अन्य लोगों को संक्रमण की आशंका कम रहे. अगर उपलब्ध है तो टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें और उनका निस्तारण सुनिश्चित करें. अपर मुख्य सचिव ने कहा, यदि कोई संक्रमित होता है तो वह तुरंत स्वास्थ्य विभाग की हेल्पलाइन पर संपर्क करें. हमारी जिम्मेदारी है कि हम खुले में ना थूकें. ऐसा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी. प्रत्येक व्यक्ति को यह जिम्मेदारी लेनी होगी क्योंकि थूकने से संक्रमण फैलने की आशंका रहती है.

निषिद्ध क्षेत्रों में नहीं खुलेंगे धार्मिक एवं पूजा स्‍थल
अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी के अनुसार, मुख्यमंत्री ने कहा है कि निषिद्ध क्षेत्र को छोड़ अन्य इलाकों में धार्मिक पूजास्थल खोले जा सकते हैं. सभी धर्मस्थलों पर जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारियों में समन्वय स्थापित कर, धर्मस्थल के प्रबंधकों से संवाद बनाकर उन्हें भलीभांति प्रोटोकाल के तहत खोलने की व्यवस्था सुनिश्चित करायें. अवस्थी ने मुख्यमंत्री के निर्देशों का ब्यौरा देते हुए बताया कि धर्मस्थल, कार्यालय, होटल, रेस्तरां या माल में कोविड—19 की रोकथाम के लिए प्रचार प्रसार की व्यवस्था एलईडी, पोस्टर या स्टैण्डी के माध्यम से की जाए. उन्होंने कहा कि अगर धार्मिक परिसर में दुकान है, चाय की दुकान या कैफेटेरिया हैं, तो वहां भी सामाजिक दूरी का पालन हो.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading